Dainik Navajyoti Logo
Friday 22nd of January 2021
 
दुनिया

तेल संयंत्रों पर हमले के बाद सऊदी अरब ने की तेल उत्पादन में 50 प्रतिशत कटौती

Sunday, September 15, 2019 16:00 PM
फाइल फोटो।

रियाद। सऊदी अरब ने अरामको के दो तेल संयंत्रों पर हुए ड्रोन हमलों के बाद तेल और गैस उत्पादन में 50 प्रतिशत की कटौती की है। ब्रिटेन की प्रसारण कंपनी सीएनबीसी की रिपोर्ट के अनुसार सऊदी अरब के ऊर्जा मंत्री प्रिंस अब्दुलाजिज बिन सलमान ने बताया कि ड्रोन हमले के कारण कच्चे तेल के उत्पादन में एक दिन में  57 लाख बैरल यानी लगभग 50 प्रतिशत की कटौती हुई है। प्रिंस अब्दुलाजिज ने सऊदी प्रेस एजेंसी को दिए बयान में कहा कि हमले के कारण अबकैक तथा खुरैस संयंत्रों में अस्थायी तौर पर उत्पादन को स्थगित किया गया है। उन्होंने बताया कि तेल उत्पादन में की गई कटौती की भरपायी अरामको के तेल भंडारों से की जाएगी। उधर, अरामको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमीन नासिर ने कहा कि हमले में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

यमन के हौती विद्रोहियों ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है और कहा है कि यह ब्रिटेन में हुए बड़े हमलों में से एक है। एक हौती प्रवक्ता ने कहा कि हम सऊदी शासन से वादा करते हैं कि भविष्य में हमारे अभियान का विस्तार होगा और जबतक उसकी आक्रमकता और घेराबंदी जारी रहेगी यह और अधिक कष्टदायक होंगे। हमले के लिए 10 ड्रोन तैनात किए गए हैं।

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने सऊदी अरब के तेल संयंत्रों पर हुए हमले के लिए ईरान को जिम्मेदार ठहराया है और कहा है कि इस बात का सबूत नहीं है कि इस हमले को यमन से अंजाम दिया गया है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि जब से हसन रूहानी तथा मोहम्मद जावेद जरीफ ने राजनयिक संबंध में ढोंग करना शुरू किया, तब से सऊदी अरब में हुए लगभग सौ हमलों में ईरान का हाथ रहा है। परमाणु निरस्त्रीकरण के आह्वान के बीच ईरान ने दुनिया की ऊर्जा आपूर्ति पर अभूतपूर्व हमला किया है। इस हमले को यमन से अंजाम दिया गया, इसके सबूत नहीं हैं। उन्होंने कहा कि हम सभी देशों से सार्वजनिक तौर पर और स्पष्ट रूप से ईरान के हमले की निंदा करने की अपील करते हैं। अमेरिका अपने सहयोगियों के साथ ऊर्जा आपूर्ति को सुचारू रूप से सुनिश्चित कराने के लिए काम करेगा। ईरान इस आक्रमण के लिए जिम्मेदार है। उधर, व्हाइट हाउस ने कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प सऊदी अरब को अमेरिका की ओर से समर्थन देने का प्रस्ताव दिया है।

यह भी पढ़ें:

मलेशियाई प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद ने की इस्तीफे की घोषणा

मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद ने अचानक अपने इस्तीफे की घोषणा कर दी। प्रधानमंत्री कार्यालय ने बयान जारी कर कहा कि महातिर मोहम्मद ने आज अपना इस्तीफा मलेशियाई किंग को भेज दिया है।

24/02/2020

'हाउडी मोदी' कार्यक्रम पर टिकी सभी की निगाहें

बहुप्रतीक्षित 'हाउडी मोदी' के आयोजन पर अब सभी की निगाहें टिकी हुई है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प इतिहास के एक नए मंच पर साथ आएंगे।

22/09/2019

रूस ने नरेन्द्र मोदी को सर्वोच्च नागरिक सम्मान से नवाजा

रूस ने अपने देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान सेंट एंड्रयू द अपास्टल से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सम्मानित किया है।

12/04/2019

पाकिस्तान में आटे का भीषण संकट

पाकिस्तान में इस्तेमाल में काम आने वाली खाने-पीने के सामान की कीमतें आसमान छूती है और अब कीमत में असाधारणा बढ़ोतरी के बाद आटे की भयंकर किल्लत पैदा हो गई है, जिससे देश भर में लोगों को बड़ी मुश्किलों झेलनी पड़ रही हैं।

19/01/2020

चीन में कोरोना के 4 नए मामले आए सामने

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने गुरुवार को कहा कि देश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी के संक्रमण के सामने आये 4 नए मामले बाहर से आये लोगों के है और संक्रमण से किसी की भी मौत नहीं हुई है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने गुरुवार को कहा कि देश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी के संक्रमण के सामने आये 4 नए मामले बाहर से आये लोगों के है और संक्रमण से किसी की भी मौत नहीं हुई है।

30/04/2020

न्यूजीलैंड में कोरोना का कोई सक्रिय मामला नहीं, PM ने सहयोग के लिए लोगों को किया शुक्रिया

न्यूजीलैंड ने देश में कोरोना वायरस का सफाया कर दिया है। स्वास्थ्य अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि अंतिम व्यक्ति जिसमें संक्रमण की पुष्टि हुई थी, वह स्वस्थ हो गया है। न्यूजीलैंड में आखिरी नया मामला 17 दिन पहले सामने आया था और फरवरी के बाद से पहली बार ऐसा मौका आया, जब देश में कोई संक्रमित व्यक्ति नहीं बचा है।

08/06/2020

वैज्ञानिकों ने पृथ्वी की कक्षा से जुड़े 'रहस्यमय ऑब्जेक्ट' की नई तस्वीर की जारी

वैज्ञानिकों ने हाल में पृथ्वी की कक्षा से जुड़े एक 'रहस्यमय ऑब्जेक्ट' की नई तस्वीर जारी की है जिसमें वह बीच में चमकता दिख रहा है। वैज्ञानिकों ने पहले कहा था कि ऑब्जेक्ट नया 'मिनीमून' प्रतीत हो रहा है। हालांकि, अब उनका कहना है कि ऑब्जेक्ट क्या है इस बारे में कुछ भी कहना फिलहाल जल्दबाज़ी होगी, इसके लिए अधिक शोध की ज़रूरत है।

01/03/2020