Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 11th of May 2021
 
दुनिया

आतंकवाद को देश पर कभी हावी नहीं होने दूंगा : इमरान

Tuesday, December 17, 2019 16:40 PM
इमरान खान (फाइल फोटो)

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि वह आतंकवादी विचारधारा को कभी भी देश पर हावी नहीं होने देंगे। रेडियो पाकिस्तान की रिपोर्ट के मुताबिक खान ने सेना पब्लिक स्कूल में हुए नरसंहार की पांचवीं बरसी पर जारी अपने संदेश में कहा कि आतंकवादियों को उनके दुराग्रही विचारों के साथ कभी भी देश को बंधक बनाने की इजाजत नहीं दी जाएगी। उन्होंने नरसंहार में शहीद हुए लोगों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि निर्दाेष लोगों के रक्त ने सभी प्रकार के आतंकवाद, उग्रवाद, हिंसा और नफरत के खिलाफ लोगों को एकजुट कर दिया है। प्रधानमंत्री ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई के दौरान अपनी जान गंवाने वाले सशस्त्र बलों, पुलिस एवं अन्य कानून प्रर्वतन एजेंसियों के जवानों की भी सराहना की।

इस अवसर पर सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने कहा कि एपीएस नरसंहार को कभी नहीं भुलाया जा सकेगा। इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशन के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट कर बाजवा के हवाले से कहा कि एपीएस हमले में शामिल पांच आतंकवादियों को सैन्य अदालत ने फांसी की सजा सुनायी। बाजवा ने नरसंहार के मृतकों एवं उनके परिजनों को सलामी देते हुए उनके प्रति संवेदना प्रकट की। उन्होंने कहा कि एकजुटता से ही हम पाकिस्तान को शांति एवं समृद्धि के रास्ते पर ले जा सकते हैं। राष्ट्रपति आरिफ अली ने अपने संदेश में कहा कि एपीएस के छोटे एवं मासूम बच्चों एवं शिक्षकों के नरसंहार को देश कभी नहीं भूल सकता। उन्होंने आतंकवाद और उग्रवाद को जड़ से खत्म करने की देश की प्रतिज्ञा को भी दोहराया।

गौरतलब है कि 16 दिसंबर 2014 को आतंकवादियों ने सेना की ओर से संचालित एपीएस में हमलाकर 130 युवा छात्रों समेत 150 लोगों को मार डाला था। इस घटना ने पूरे देश को स्तब्ध कर दिया था और सरकार को आतंकवाद एवं उग्रवाद के खिलाफ राष्ट्रीय कार्य योजना बनाने तथा खूंखार आतंकवादियों के मामलों की सुनवाई के लिए सैन्य अदालतों के गठन के वास्ते मजबूर कर दिया था।

 

यह भी पढ़ें:

ब्रिटेन में भारतवंशी हरि शुक्ला को फर्स्ट फेज में लगेगी कोरोना वैक्सीन, महामारी जल्द खत्म होने की जताई उम्मीद

ब्रिटेन में भारतीय मूल के 87 साल के हरि शुक्ला फर्स्ट फेज में टीका लगवाने वालों में शामिल होंगे। उन्हें उनकी पत्नी 83 साल की रंजना शुक्ला के साथ न्यूकैसल में एक अस्पताल में टीका लगाया जाएगा। टाइन एंड वेयर के निवासी शुक्ला ने कहा कि उन्हें लगता है कि अपने टीके की पहली दो खुराक लगवाना उनका कर्तव्य है।

08/12/2020

विश्व में कोरोना से 8.35 लाख से ज्यादा की मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 2.46 लाख के पार

विश्व में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) से संक्रमित होने वालों की संख्या बढ़ती हुई 2.46 करोड़ के पार हो गयी है।

29/08/2020

अमेरिका में बढ़ता जा रहा कोरोना वायरस का कहर, पिछले 24 घंटे में 1,514 लोगों की गई जान

अमेरिका में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार कहर बरपा रहा है। यहां कोरोना से मरने वालों की संख्या में कमी नहीं आ रही और वहां पर लगातार मौतें हो रही हैं। अमेरिका में पिछले 24 घंटे में कोरोना से 1,514 लोगों की मौत हो चुकी है और अब पूरे देश में मौत का आंकड़ा 22 हजार को पार कर गया है।

13/04/2020

बाजार में स्थिरता के लिए रिजर्व तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं : ट्रंप

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि वह आपातकालीन स्थिति में बाजार में स्थिरता कायम रखने के लिए स्ट्रेटेजिक पेट्रोलियम रिजर्व से तेल का इस्तेमाल करने के लिए तैयार हैं।

16/09/2019

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव से पहले आखिरी बहस में एक-दूसरे पर बरसे ट्रम्प-बिडेन

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन अगले महीने होने वाले चुनाव से पहले आयोजित बहस में विदेशी देशों का अमेरिकी चुनाव में हस्तक्षेप, उत्तर कोरिया से बातचीत और कोरोना वायरस महामारी तथा जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दों को लेकर एक-दूसरे पर खूब बरसे।

23/10/2020

संसद में इमरान खान के मंत्री ने ही खोल दी पोल, पाकिस्तान ने ही करवाया था पुलवामा हमला

पाकिस्तान अपनी धरती पर आतंकियों को पालने के आरोप को भले ही खारिज करता आ रहा हो, पर उसके मंत्री ने ही अब पोल खोल दी है। पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने संसद में बोलते हुए पाकिस्तान का सच दुनिया के सामने ला दिया है। चौधरी ने पिछले साल पुलवामा में किए गए आतंकी हमले को अपनी कामयाबी बताया है।

30/10/2020

जाधव मामले में पाकिस्तान ने विएना संधि का किया उल्लंघन : आईसीजे

अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने कहा है कि कुलभूषण जाधव मामले में पाकिस्तान ने विएना संधि का उल्लंघन किया है। न्यायाधीश अब्दुलकावी युसूफ ने संयुक्त राष्ट्र महासभा को यह जानकारी दी है।

31/10/2019