Dainik Navajyoti Logo
Sunday 26th of September 2021
 
दुनिया

नेपाल में अप्रैल और मई में होंगे मध्यावधि चुनाव, पहले चरण में 40 और दूसरे चरण में 37 जिलों में इलेक्शन

Tuesday, February 09, 2021 14:55 PM
केपी शर्मा ओली (फाइल फोटो)

काठमांडू। नेपाल में दो चरणों में अप्रैल और मई में मध्यावधि चुनाव कराने का फैसला कर लिया गया है। नेपाल के 40 जिलों में 30 अप्रैल को और शेष 37 जिलों में 10 मई को मध्यावधि चुनाव होंगे। कैबिनेट ने एक विज्ञप्ति में मंगलवार को यह जानकारी दी। मध्यावधि चुनाव कराए जाने का निर्णय मंत्रिपरिषद की एक बैठक में तय किया गया। हिमालयन टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार कैबिनेट ने पहले चरण में प्रोविंस-2, गंडकी, लुम्बनी और कार्नली प्रांतों के 40 जिलों में पहले चरण में 30 अप्रैल को चुनाव कराने का फैसला किया है। दूसरे चरण में प्रोविंस-1, बामती और सुदूरपश्चिम प्रांतों के 37 जिलों में 10 मई को चुनाव कराए जाएंगे।

पिछले वर्ष दिसंबर में प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली की सिफारिश पर राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी ने संसद भंग करने को मंजूरी दी थी, जिसके बाद मध्यावधि चुनाव कराने का निर्णय लिया गया। संसद भंग किए जाने के बाद नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (एनसीपी) भी 2 गुटों में विभाजित हो गई। एक गुट का नेतृत्व खुद प्रधानमंत्री ओली और दूसरे गुट का नेतृत्व पूर्व प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल और माधव कुमार नेपाल कर रहे हैं।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

फ्रांस में कोरोना से पिछले 24 घंटों में 89 लोगों की मौत

फ्रांस में जानलेवा कोरोना वायरस का रोकथाम नहीं हो पा रहा है और पिछले 24 घंटों के दौरान इस वायरस की चपेट में आने के कारण 89 लोगों की मौत हो गई है।

19/03/2020

दुनिया में कोरोना: अब तक 26.53 लाख से ज्यादा लोगों की मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 12 करोड़ के करीब

विश्व भर में कोरोना वायरस के संक्रमण से मरने वालों का आंकड़ा 26.53 लाख से अधिक हो गया है जबकि संक्रमितों की संख्या 11.98 करोड़ से अधिक हो गई है। अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केंद्र की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 2 करोड़ 94 लाख 38 हजार 775 हो गई है। ब्राजील में अब तक 1 करोड़ 14 लाख 83 हजार 370 लोग संक्रमण से प्रभावित हुए है।

15/03/2021

ऑस्ट्रेलियाई मीडिया की रिपोर्ट में दावा, चीन 2015 से ही कोरोना वायरस पर कर रहा था शोध

ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने एक रिपोर्ट में दावा किया है कि चीन साल 2015 से ही कोरोना वायरस पर शोध कर रहा था। सिर्फ यही नहीं चीन की मंशा इसे जैविक हथियार के तौर पर इस्तेमाल करने की थी। कोरोना वायरस को लेकर चीन शुरू से ही शक के घेरे में है। हालांकि इसके पहले तक किसी स्रोत से इस वायरस के जैविक हथियार के रूप में इस्तेमाल की बात सामने नहीं आई थी।

10/05/2021

तालिबान ने अपने 11 सदस्यों के बदले 3 भारतीय इंजीनियरों को किया रिहा

अफगानिस्तान में आतंकवादी समूह तालिबान ने अपने 11 आतंकवादियों की रिहाई के बदले में तीन भारतीय इंजीनियरों को रिहा कर दिया है।

07/10/2019

दुनिया भर में विकसित किए जा रहे हैं कोविड-19 के 141 टीके: डब्ल्युएचओ

डब्ल्युएचओ के महानिदेशक डॉ. टेड्रोस गेब्रियेसस ने कहा है कि वर्तमान में दुनिया भर कोविड-19 के 141 टीके विकसित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अग्रणी उम्मीदवार टीके की सफलता से महज कुछ महीनों दूर हैं। निश्चित रूप से पूर्ण सुरक्षा की कोई गारंटी नहीं है, लेकिन हम आशान्वित हैं।

02/07/2020

ट्विटर के खिलाफ कार्यकारी आदेश के मामले में ट्रम्प पर मुकदमा

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पर संविधान के पहले संशोधन का उल्लंघन करने का आरोप लगाते हुए गैर-सरकारी संगठन लोकतंत्र एवं प्रौद्योगिकी केन्द्र (सीडीटी) ने उनके खिलाफ एक नया मुकदमा दायर किया है।

03/06/2020

रूस में कोविड-19 टीके का ट्रायल सफल, अगले हफ्ते रजिस्टर होगी दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन

कोरोना संकट से जूझ रही पूरी दुनिया इस समय कोरोना वैक्सीन का इंतजार कर रही हैं। कई देशों में कोरोना वैक्सीन के ट्रायल चल रहे हैं। इसी बीच रूस ने अगले हफ्ते दुनिया की पहली कोविड वैक्सीन को रजिस्टर करने का प्लान बनाया है।

07/08/2020