Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 16th of June 2021
 
दुनिया

ऐस्ट्राजेनेका के कोरोना टीके से खून के थक्के जमने की खबर भ्रामक, कंपनी के दावे का WHO ने भी किया समर्थन

Tuesday, March 16, 2021 10:35 AM
सांकेतिक तस्वीर।

लंदन। ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय और ऐस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित कोरोना वैक्सीन लेने से खून के थक्के जमने की बात पूरी तरह निराधार और भ्रामक है। कंपनी ने बताया कि यह टीका पूरी तरह निरापद और मानव स्वास्थ्य के अनुरूप है। कुछ यूरोपीय देशों ने इस टीके से खून के थक्के जमने की खबरे फैला रखी हैं। ब्रिटिश-स्वीडिश दवा निर्माण कम्पनी ऐस्ट्राजेनेका और इंग्लैंड के दवा नियामक ने प्राप्त आंकड़ों के आधार पर उक्त अफवाह का खंडन किया और अपने टीको को पूरी तरह निरापद बताया। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी इस दावे का मजबूती से समर्थन किया है। एक न्यूज चैनल से प्रसारित समाचार के अनुसार कई यूरोपीय देशों ने ऐस्ट्रजेनेका और ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय द्वारा विकसित इस टीके के इस्तेमाल पर रोक लगा रखी है। हाल में नीदरलैंड्स भी इसके इस्तेमाल पर रोक लगाने वाले देशों में शामिल हो गया है। ऐस्ट्रजेनेका और ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय ने इस टीके के विकास के लिए भारतीय कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट से समझौता किया था।

खून के थक्के जम जाने की मिली थी रिपोर्ट
इस टीके के उपयोग के बाद कुछ लोगों के खून के थक्के जम जाने की रिपोर्ट आई थी। इसके बाद आयरलैंड, बुल्गारिया, डेनमार्क, नॉर्वे और आइसलैंड ने इसके प्रयोग पर रोक लगा दी थी। यह कदम सावधानी बरतने के मकसद से उठाया गया था। ऐस्ट्रजेनेका की मुख्य चिकित्सा अधिकारी ऐन टेलर ने कहा कि यूरोपीय संघ और इंग्लैंड के 1 करोड़ 70 लाख लोग यह टीका ले चुके हैं। टेलर ने कहा कि इस बीमारी की प्रकृति ही ऐसी है कि व्यक्तियों पर नजर रखी जाती है। हम दुनिया भर में कोई भी टीका लगाए जाने पर किए जाने वाले स्टैंडर्ड व्यवहार से कहीं आगे जाकर टीका लेने वालों पर नजर रखते हैं, ताकि उनकी सुरक्षा सुनिश्चित रहे। क्योंकि हमारे लिए जनता की सुरक्षा सर्वाधिक महत्वपूर्ण है। इसलिए कंपनी टीका लेने वालों की सुरक्षा पर अत्यधिक दे रही है।  उन्होंने कहा कि टीका लगाए जाने के बाद के उपलब्ध आंकड़ों से खून के थक्के जमने या इसी तरह की अन्य परेशानियों का पता का बिल्कुल ही पता नहीं चला है। भले ही टीका लेने वाला किसी भी आयु वर्ग, लिंग या देश का हो। उन्होंने कहा कि यूरोपीय संघ और ब्रिटेन में खून के थक्के जमने के 15 और फुफ्फुस की अंत:शल्यता के 22 मामले सामने आए हैं। ये मामले उन लोगों में सामने आए, जिन्होंने यह टीका लिया था। ये आंकड़े 8 मार्च को प्राप्त किए गए थे। कंपनी ने कहा कि जितनी संख्या में लोगों को यह टीका लगाया गया, उसे देखते हुए यह संख्या नगण्य है। कोविड 19 के अन्य टीके लगाए जाने के बाद भी इसी तरह के मामले लगभग इतनी ही संख्या में मिले थे। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी इस निष्कर्ष की समर्थन किया है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

पूरी दुनिया का आतंकवाद के खिलाफ एकमत और एकजुट होना अनिवार्य है: नरेन्द्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दुनिया की सबसे बड़ी पंचायत में कहा कि पूरी दुनिया का आतंकवाद के खिलाफ एकमत और एकजुट होना अनिवार्य है, क्योंकि आतंकवाद के नाम पर विभाजित विश्व संयुक्त राष्ट्र के सिद्धांतों को ठेस पहुंचा रहा है।

27/09/2019

दुनियाभर में कोरोना संक्रमण की चपेट में 78.99 लाख लोग, अबतक 4.33 लाख से ज्यादा की मौत

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से दुनिया भर में अब तक 78.99 लाख लोग संक्रमित हुए हैं जबकि 4.33 लाख से अधिक की मौत हो चुकी है। कोविड-19 से प्रभावित होने के मामले में अमेरिका विश्व भर में पहले और ब्राजील दूसरे तथा रूस तीसरे स्थान पर है, जबकि मौतों के आंकड़ों के हिसाब से अमेरिका पहले, ब्राजील दूसरे और ब्रिटेन तीसरे क्रम पर है।

15/06/2020

चीन में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 304 हुई

चीन में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 304 हो गयी है, जबकि करीब 13,983 लोग इसकी चपेट में हैं।

02/02/2020

कैलास मानसरोवर यात्रियों के लिए लिपुलेख दर्रे तक सड़क बनाये भारत: चीन

भारत सरकार को लिपुलेख दर्रे तक अच्छी सड़क का निर्माण करना चाहिए जिससे कैलास मानसरोवर की यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं को शारीरिक कष्ट न हो और यात्रा समय कम लगे।

14/08/2019

दुनियाभर में कोरोना वायरस से करीब 18.50 लाख लोगों की मौत, 8.51 करोड़ से ज्यादा संक्रमित

दुनिया में कई देशों में कोरोना वायरस (कोविड-19) के टीकाकरण का अभियान शुरू होने तथा इसके सकारात्मक परिणामों के बीच इस महामारी का प्रकोप जारी है और इसके संक्रमितों का आंकड़ा साढ़े आठ करोड़ से अधिक हो गया है, जबकि साढ़े 18 लाख के करीब लोग काल का ग्रास बन चुके हैं।

04/01/2021

पाकिस्तान में बम धमाका, हजारा समुदाय को बनाया निशाना, 16 की मौत

पाकिस्तान में क्वेटा शहर के हजार गांजी इलाके में शुक्रवार सुबह हुए विस्फोट में कम से कम 16 लोगों की मौत हो गयी और कई अन्य लोग घायल हो गये।

12/04/2019

चीन में कोरोना वायरस के कहर से 39 की मौत

चीन के विभ्भिन प्रांतों में भी तेजी से फैल रहे जानलेवा कोरोना वायरस ने अब खतरनाक रूप अख्तियार लिया है और इसके कारण अभी तक 41 लोगों की मौत हो गयी है।

25/01/2020