Dainik Navajyoti Logo
Monday 19th of April 2021
 
दुनिया

अमेरिकी चैनल का दावा, चीन ने अपनी ताकत दिखाने के लिए वुहान की लैब में बनाया था कोरोना वायरस

Friday, April 17, 2020 15:05 PM
कॉन्सेप्ट फोटो।

वॉशिंगटन। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के पूरी दुनिया में पैर पसारने के बाद से ही इसे फैलाने को लेकर चीन पर सवाल उठ रहे हैं। ऐसे में एक अमेरिकी समाचार चैनल ने दावा किया है कि चीन के वुहान में एक लैब में नोवल कोरोना वायरस को बनाया गया था। अमेरिकी टीवी चैनल फॉक्स न्यूज ने गुरुवार को अपनी एक रिपोर्ट में दावा किया कि चीन ने एक विशेष उद्देश्य से इस वायरस को वुहान की लैब में पैदा किया ताकि वह बता सके कि उसके वैज्ञानिक अमेरिकी वैज्ञानिकों से कहीं आगे हैं। चीन ने यह दिखाने की कोशिश की कि वह कोरोना जैसे खतरनाक वायरस की अमेरिका की तरह या उससे ज्यादा अच्छे से पहचान कर सकता है और उससे पूरी ताकत के साथ निपट सकता है।

फॉक्स न्यूज ने अपनी रिपोर्ट में यह भी दावा किया है कि कोरोना वायरस को बनाने का यह चीन का अब तक का सबसे महंगा और गोपनीय प्लान था। चैनल ने सूत्र के हवाले से कहा कि डॉक्टरों के प्रयासों और इस वायरस को शुरू में लैब में रोकने से जुड़े कई दस्तावेजों के अध्ययन से यह पता चलता है कि वुहान में जिस वेट मार्केट की पहचान कोरोना फैलने के रूप में की गई थी, वहां चमगादड़ बिकते ही नहीं थे। चीन ने वेट मार्केट की थ्योरी को भी जानबूझकर फैलाया ताकि लैब पर लगने वाले आरोप दब जाएं। चीन चाहता था कि इसके जरिए वह अमेरिका और इटली को निशाना बनाए।

इससे पहले बुधवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा था कि वुहान की लैब से कोरोना वायरस दुर्घटनावश लोगों में फैला या जानबूझकर, इसका पता हम लगाकर ही रहेंगे। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो पहले ही कह चुके हैं कि चीन को बताना होगा कि वायरस कैसे फैला। ट्रंप के आरोप के बाद गुरुवार को चीन ने अपनी सफाई दी। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) भी इस बात की तस्दीक कर चुका है कि इस बात के कोई सबूत नहीं हैं कि दुनियाभर में 20 लाख से ज्यादा लोगों को संक्रमित करने वाले कोरोनोवायरस को वुहान की लैब में बनाया गया था।

इससे पहले अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा था कि हो सकता है कि चीन ने सीटीबीटी संधि का पालन करने के दावे के बावजूद गुप्त रूप से कम क्षमता का परमाणु परीक्षण किया हो। इस दावे के बाद दोनों देशों के बीच संबंध और ज्यादा तनावपूर्ण हो सकते हैं। दरअसल, चीन के परमाणु परीक्षण स्थल लोप नूर पर पिछले साल काफी हलचल देखी गई थी, जिसके चलते अमेरिका के मन में ये संदेह उठ रहा है कि उसने परमाणु परीक्षण किया होगा।

यह भी पढ़ें:

अमेरिका: नवनिर्वाचित राष्ट्रपति बिडेन ने लाइव टीवी पर लगवाया कोरोना का टीका, बोले- डरने की जरूरत नहीं

अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति जो बिडेन ने सोमवार को देश को आश्वस्त करने के लिए लाइव टीवी पर फाइजर की कोविड-19 वैक्सीन की पहली डोज का टीका लगवाया।

22/12/2020

ब्राजील को जनवरी-फरवरी में मिलेगी कोरोना वैक्सीन की 1.5 करोड डोज की पहली खेप

राजील को एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड और फियोक्रूज (रियो डि जैनिरो ओस्वाल्डो क्रूज फाउंडेशन) से कोरोना वैक्सीन के 1.5 करोड़ डोज की पहली खेप आगामी जनवरी-फरवरी में उपलब्ध होगी। स्वास्थ्य मंत्री एडुअर्डो पैजेलो ने यह जानकारी दी। पैजेलो ने नेशनल कांग्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि इनमें एक करोड़ डोज का पहले चरण में वितरण किया जाएगा।

03/12/2020

बिडेन का 1.9 ट्रिलियन डॉलर के राहत पैकेज का प्रस्ताव, हर अमेरिकी को होगा 1400 डॉलर का प्रत्यक्ष भुगतान

अमेरिका के मनोनीत राष्ट्रपति जो बिडेन ने 20 जनवरी को पद संभालने से पहले अपना सबसे अहम चुनावी वादा निभाने का ऐलान कर दिया। बिडेन ने कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित हुई अमेरिकी अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में मदद करने के लिए 19 खबर डॉलर के राहत पैकेज का ऐलान किया है।

15/01/2021

मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने से शांति की उम्मीद : इमरान खान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि भारत के आम चुनावों में अगर भारतीय जनता पार्टी की जीत होती है और नरेंद्र मोदी दोबारा प्रधानमंत्री बनते हैं तो दोनों देशों के बीच शांति की उम्मीद बेहतर होगी।

10/04/2019

दुनिया में कोरोना से 2.95 लाख लोगों की मौत, 43 लाख से ज्यादा संक्रमित

कोरोना वायरस (कोविड-19) की महामारी लगातार बढ़ती जा रही है और दुनिया में अब तक 43 लाख से अधिक लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है, जबकि 2.95 लाख से अधिक संक्रमितों की मौत हो चुकी है।

14/05/2020

कोरोना वायरस से निपटने के लिए टीका विकसित कर रहा है अमेरिका

अमेरिका जानलेवा कोरोना वायरस से निपटने के लिए टीका विकसित करने का काम तेजी से कर रहा है। अमेरिका के एक स्वास्थ्य अधिकारी ने यह जानकारी दी है।

08/02/2020

पाकिस्तान ने भारतीय उच्चायोग की इफ्तार पार्टी में मेहमानों को लौटाया, दी धमकी

भारतीय दूतावास में इफ्तार पार्टी रखी गई, जिसमें पाक प्रशासन ने मेहमानों को जाने से रोक दिया। पाकिस्तानी एजेंसियों ने होटल सेरेना में आयोजित इफ्तार पार्टी में आने वाले सैकड़ों मेहमानों को वापस भेज दिया।

02/06/2019