Dainik Navajyoti Logo
Sunday 13th of June 2021
 
दुनिया

नोबेल पुरस्कार-2020: इस साल अमेरिकी कवयित्री लुईस ग्लुक को मिलेगा साहित्य का नोबेल

Thursday, October 08, 2020 16:50 PM
फोटो साभार[email protected]

स्टॉकहोम। इस वर्ष का साहित्य का नोबेल पुरस्कार अमेरिका की चर्चित कवयित्री लुईस ग्लुक को प्रदान किया जाएगा। कवयित्री की खासियत अद्भुत आवाज में निरालेपन से काव्य पढऩे की कला है जो खूबसूरती के साथ व्यक्तिगत अस्तित्व को सार्वभौमिक बनाती है। रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज ने गुरुवार को एक बयान जारी करके इस पुरस्कार की घोषणा की। वर्ष 1968 में उनकी पहली पुस्तक 'फर्स्टबॉर्न' प्रकाशित हुई थी और उन्होंने शीघ्र ही समकालीन अमेरिकी साहित्य की अति विशिष्ट हस्तियों में स्थान बना लिया। उन्हें वर्ष 1993 में पुलित्जर और वर्ष 2014 में नेशनल बुक पुरस्कारों से सम्मानित किया गया।

वर्ष 1943 में न्यूयॉर्क में जन्मीं लुईस ग्लुक के सबसे प्रशंसित संग्रहों में से एक 'द वाइल्ड आइरिस' (1992) है। उन्होंने 'द स्नोड्रॉप्स' कविता में सर्दियों के बाद जीवन की चमत्कारी वापसी का वर्णन किया है। 'एवर्नो'(2006) एक उत्कृष्ट संग्रह है, जो मौत के देवता हैड्स की कैद में नरक में पर्सपेफ़ोन के वंश के मिथक की दूरदर्शी व्याख्या है। लुईस ग्लूक की एक और शानदार उपलब्धि है उनका नवीनतम संग्रह 'फैथफुल एंड वर्चुअस नाइट। अमेरिकी कवयित्री लुईस ग्लुक कैम्ब्रिज, मैसाचुसेट्स में रहती हैं। वह न्यू हेवन के कनेक्टीक स्थित येल यूनिवर्सिटी में अंग्रेजी की प्रोफेसर हैं। प्रोफेसर ग्लुक पुनर्जन्म, हीलिंग, मौत आदि गहन विषयों पर लिखती रहीं हैं। समीक्षकों का कहना है कि कवयित्री की रचना दुख, दर्द और एकाकीपन से सराबोर होने के साथ-साथ नवीनीकरण की उम्मीद भी जगाती है।

क्या मिलता है पुरस्कार में?

नोबेल पुरस्‍कार जीतने वाले हर व्यक्ति को 10 मिलियन स्‍वीडिश क्रानर, 23 कैरेट सोने से बना 200 ग्राम का पदक और प्रशस्ति पत्र भी दिया जाता है। ये पुरस्कार स्वीडन के वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबल की याद में दिया जाता है। उन्होंने 124 साल पहले एक फंड का निर्माण किया था, इसी फंड से दुनिया के अहम खोजों के लिए ये पुरस्कार दी जाती है। पदक के एक ओर नोबेल पुरस्कारों के जनक अल्फ्रेड नोबेल की छवि, उनके जन्म तथा मृत्यु की तारीख लिखी होती है, वहीं दूसरी ओर यूनानी देवी आइसिस का चित्र, रॉयल एकेडमी ऑफ साइंस स्टॉकहोम तथा पुरस्कार पाने वाले व्यक्ति की जानकारी होती है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

कश्मीर मुद्दे पर इमरान खान ने किंग अब्दुल्लाह और मैक्रों से की चर्चा

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने जॉर्डन के किंग अब्दुल्लाह और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से बुधवार को फोन पर जम्मू-कश्मीर की मौजूदा स्थिति के बारे में चर्चा की।

29/08/2019

ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में लगी आग पर लोगों ने की मॉरिसन की आलोचना

दक्षिण पूर्व ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में लगी आग से अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है। लेकर ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन घटनास्थल का जायजा लेने पहुंचे।

03/01/2020

कोरोना वायरस: सऊदी ने मक्का की यात्रा के लिए हजयात्रियों का वीजा किया निलंबित

सऊदी अरब ने कोरोनो वायरस कारण मक्का जाने के तीर्थयात्रियों का वीजा निलंबित कर दिया है। विदेश मंत्रालय ने बयान में कहा कि सरकार उमराह के उद्देश्य से राज्य में प्रवेश निलंबित कर रही है।

27/02/2020

परमाणु समझौते का पालन नहीं करेगा ईरान, प्रतिबंध हटाने की मांग

ईरान ने कहा कि जब तक उस पर प्रतिबंध हटा नहीं लिये जाते तब तक वह वर्ष 2015 के परमाणु समझौते का पालन नहीं करेगा।

06/01/2020

चीन ने चार्टर विमान में हुबेई निवासी 199 लोगों को बुलाया वापस

चीन ने कोरोनावायर के प्रकोप के बाद विदेशों में फंसे हुबेई प्रांत के 199 निवासियों को चार्टर विमानों के जरिये विदेशों से वापस बुला लिया।

01/02/2020

चीन के वुहान में सामने आए कोरोना संक्रमण के 5 नए मामले, मरीजों में नहीं दिख रहे लक्षण

चीन के वुहान शहर में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के 5 नए मामले सामने आए है। हुबेई प्रांत के स्वास्थ्य आयोग ने सोमवार को यह जानकारी दी। इन सभी पांचों मरीजों में हालांकि कोरोना के लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हैं।

11/05/2020

चीनी मीडिया ग्लोबल टाइम्स का दावा, पैंगोंग से भारत-चीन के सैनिकों की वापसी शुरू!

लद्दाख में भारत और चीन के बीच पिछले साल मई से ही हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। इस विवाद को सुलझाने के लिए दोनों देश सैन्य और राजनयिक स्तर पर कई दौर की वार्ता भी कर चुके हैं। इस बीच चीन की सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स ने दावा किया है कि दोनों देश पैंगोंग झील के उत्तरी और दक्षिणी किनारों से अपनी-अपनी सेनाओं को हटा रहे हैं और वहां से सैना की वापसी शुरू हो गई है।

11/02/2021