Dainik Navajyoti Logo
Monday 10th of August 2020
 
उदयपुर

भाजपा शहर जिलाध्यक्ष के लिए जैन गुट ने कटारिया गुट को घेरा

Monday, December 09, 2019 21:25 PM
फोटो- 2140

ब्यूरो नवज्योति उदयपुर। भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश संगठन चुनाव के दूसरे चरण में सोमवार को शहर व देहात जिलाध्यक्ष एवं प्रदेश प्रतिनिधि के लिए पार्टी कार्यालय पर आवेदन के साथ विदड्रॉल फार्म भी ले लिए गए। उदयपुर शहर जिलाध्यक्ष के लिए नौ आवेदन आए हैंं। इसमें कटारिया गुट के तीन नामों के सामने ताराचंद जैन गुट के चार और धर्मनारायण जोशी गुट के दो नाम आए हैं।

पार्टी सूत्रों के अनुसार यदि उम्र बाधा नहीं बनी तो उदयपुर-शहर से रवींद्र श्रीमाली का जिलाध्यक्ष बनना तय है अन्यथा डॉ. किरण जैन या प्रेमसिंह शक्तावत विकल्प हो सकते हैं। इसी तरह भाजपा देहात जिला से आए तीन आवेदनों के बाद भंवरसिंह पंवार का जिलाध्यक्ष बनना तय है। इससे पूर्व सोमवार सुबह शहर जिला एवं देहात के निर्वाचन अधिकारी मदन दिलावर व अरुण चतुर्वेदी उदयपुर पहुंचे।

सभी की साझा बैठक हुई जिसके बाद सभी को बाहर कर दिया गया तथा आवेदन लेने की प्रक्रिया शुरु हुई। आवेदन के साथ आवेदनकर्ता द्वारा बनाए गए दो सक्रिय सदस्यों के हस्ताक्षर के प्रस्ताव भी शामिल किए गए। इससे पूर्व सभी पदाधिकारियों एवं अपेक्षित कार्यकर्ताओं की बैठक में दोनों ही चुनाव अधिकारियों चतुर्वेदी एवं दिलावर ने चुनाव की प्रक्रिया और संगठन की रीति नीति की चर्चा की।

कहां-कितने आवेदन

उदयपुर शहर जिलाध्यक्ष : रवींद्र श्रीमाली, डॉ. किरण जैन, प्रेमसिंह शक्तावत, अर्चना शर्मा, महेंद्रसिंह शक्तावत, दिग्विजय श्रीमाली, विजय प्रकाश विपल्वी, अनिल सिंघल व गजेंद्र जैन।
प्रदेश प्रतिनिधि : आकाश जैन, फूलसिंह मीणा, गुलाबचंद कटारिया, प्रमोद सामर, रजनी डांगी व तख्तसिंह शक्तावत ने आवेदन किए।
भाजपा देहात जिलाध्यक्ष :  भंवरसिंह पंवार, प्रकाश जैन व कैलाश डांगी।
प्रदेश प्रतिनिधि : महेंद्र औदिच्य, सुंदरलाल भाणावत, प्रतापलाल गमेती, उदयलाल डांगी, संजय चाहटा, पुष्कर तेली, नानालाल अहारी, चंद्रगुप्त सिंह चौहान, नगेंद्र मीणा, ख्यालीलाल जैन, डॉ. गीता पटेल व कन्हैयालाल मीणा।

भारी पड़ सकता है जैन का गुट

निगम चुनाव में डिप्टी मेयर पद से वंचित रखे जाने का असर सोमवार को भाजपा कार्यालय में दिखा। जिलाध्यक्ष पद के लिए हुए आवेदन में कटारिया गुट के सामने ताराचंद जैन गुट के आवेदक भी भारी लगने लगे हैं। बता दें, बीते दिनों हुई रायशुमारी के दौरान भाजपा की तरफ से रवींद्र श्रीमाली, किरण जैन एवं प्रेमसिंह शक्तावत का नाम ही टॉप थ्री में शामिल था, लेकिन इसके बाद आवेदन प्रक्रिया तक समीकरण बदल गए। अचानक ही इस पद के लिए अर्चना शर्मा, अनिल सिंघल, गजेंद्र जैन एवं महेंद्रसिंह शक्तावत का नाम सामने आ गया है। कटारिया गुट में सबसे ज्यादा प्रभावी रवींद्र श्रीमाली लग रहे हैं जो पूर्व में भी जिलाध्यक्ष रहे हैं तो यूआईटी चेयरमैन का दायित्व भी निभा चुके हैं लेकिन सभी आवेदकों में सबसे उम्रदराज हैं वहीं  महेंद्रसिंह शेखावत वर्तमान में प्रदेश प्रतिनिधि हैं एवं पूर्व उप महापौर पद का  अनुभव रखते हैं। सूत्रों के अनुसार जिलाध्यक्ष के लिए श्रीमाली और शेखावत में किसी नाम पर विचार हो सकता है। यदि दोनों ही नाम हटा दिए जाएं तो तीसरे विकल्प में डॉ. किरण जैन का नाम शामिल किया जा सकता है।

निर्वाचन अधिकारी भी नहीं जानते विरमदेव सोनी को

उदयपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश नेतृत्व की तरफ से रविवार को डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी मंडल के जिला प्रतिनिधि के रूप में विरमदेव सोनी का नाम घोषित किया गया जो सोमवार को कौतुहल का विषय रहा। सोमवार को जिलाध्यक्ष व प्रदेश प्रतिनिधि के आवेदन के दौरान पहुंचे उदयपुर शहर निर्वाचन अधिकारी अरुण चतुर्वेदी को भी कार्यकर्ताओं ने इसीलिए घेर लिया कि आखिर ये विरमदेव सोनी है कौन? चतुर्वेदी ने बताया कि विरमदेव सोनी कौन है हम भी नहीं जानते हैं। अब पूर्व मंडलाध्यक्ष चंचल कुमार अग्रवाल ने  पत्र देकर मांग की है कि जिला प्रतिनिधि पद पर विरमदेव सोनी कोई अज्ञात व्यक्ति है जिसे कोई नहीं जानता। प्रदेश नेतृत्व की गलती से यह नाम जारी हो गया है। इसकी जगह दूसरे नाम की घोषणा की जाए।
मामले में दैनिक नवज्योति ने भाजपा के करीब 20 कार्यकर्ता-पदाधिकारियों से बातचीत की, लेकिन विरमदेव सोनी को कोई नहीं जानता था।

यह भी पढ़ें:

सीबीएसई: प्राइवेट छात्रों के एडमिट कार्ड अगले साल

उदयपुर। सीबीएसई फरवरी में प्राइवेट छात्रों के एडमिट कार्ड जारी करेगा। प्राइवेट छात्र फरवरी 2020 से फरवरी-मार्च परीक्षा-2020 की सीबीएसई की वेबसाइट से अपना एडमिट कार्ड डाउनलोड कर पाएंगे।

08/12/2019

इलाज के लिए भटकने को मजबूर पेंशनर

उदयपुर। उदयपुर जिले में 18 हजार से भी ज्यादा पेंशनर हैं लेकिन इन दिनों जिले ये पेंशनर रोगी बेहतर इलाज के लिए भटक रहे हैं क्योंकि राज्य सरकार की ओर से पेंशनर्स के लिए अधिकृत किए गए निजी अस्पतालों को स्वीकृति समाप्त होने के बाद पुन: स्वीकृति जारी नहीं हो पाई है।

26/02/2020

सीबीएसई के पुख्ता इंतजाम, पेपर लीक पर लगेगा विराम

उदयपुर। सीबीएसई परीक्षाओं में पारदर्शिता के लिए एन्क्रिप्टेड प्रश्नपत्रों की संख्या बढ़ाएगा हालांकि इस सत्र कीउन्हीं विषयों के एन्क्रिप्टेड प्रश्नपत्रों की संख्या में बढ़ोतरी की जाएगी जिनमें विद्यार्थियों की संख्या बहुत अधिक नहीं है।

06/10/2019

युवक फतहसागर में कूदा, शाम को पता चला होटल में बैठा है

उदयपुर। फतहसागर में एक युवक के छलांग लगा देने की सूचना पर नगर निगम और एसडीआरएफ की टीम बारह घंटे की मशक्कत के बाद भी पता नहीं लगा सकी।

03/03/2020

अब पुलिसकर्मी आईटी का काम भी संभालेंगे

उदयपुर। पुलिस जवानों के आईटी कैडर में बदलाव की कवायद तेज हो गई है। राजस्थान पुलिस में आईटी कैडर को और विकसित करने के लिए अब पुलिस के कांस्टेबल व हैड कांस्टेबल ही इस काम को संभालेंगे। इसके लिए निर्धारित योग्यता अनुसार जिला स्तर से लेकर रेंज तक इस आईटी कैडर में पुलिसकर्मियों को चुनने की प्रक्रिया अंतिम चरण में है।

08/03/2020

उदयपुर से खारवाचांदा तक माल-यात्री रेल संचालन की मंजूरी

उदयपुर। उदयपुर से खारवाचांदा स्टेशनों के बीच नई बिछी ब्रॉडगेज रेल लाइन पर यात्री व मालगाड़ी संचालन की स्वीकृति मिल गई है। इस लाइन की जांच गत 15 जनवरी को रेल सुरक्षा आयुक्त ने की थी।

18/01/2020

फ्रांस पहुंची पर्यटक ने कहा, फिर आना चाहूंगी उदयपुर

उदयपुर। लॉकडाउन में उदयपुर फंसे विदेशी पर्यटकों को उनके देश पहुंचाने के क्रम में इस माह दो पर्यटकों को उनके घर फ्रांस एवं लंदन पहुंचाया गया।

08/06/2020