Dainik Navajyoti Logo
Monday 24th of February 2020
 
बिज़नेस

ओला, उबर और किश्तों से दूरी बनाने के कारण विपरीत प्रभाव पड़ा

Wednesday, September 11, 2019 12:15 PM
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण।

चेन्नई। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा है कि युवाओं के ओला और उबर जैसी कंपनियों की सेवाओं के प्रति आकर्षित होने और वाहनों के किश्तों में भुगतान करने से दूरी बनाने के कारण भारतीय ऑटोमोबाइल उद्योग पर विपरीत प्रभाव पड़ा है लेकिन सरकार ऑटो क्षेत्र की मांग पर गंभीरता से विचार कर रही है। सीतारमण ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के 100 दिन पूरे होने के मद्देनजर मंगलवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगुवाई वाली केन्द्र सरकार सशक्त पहल और निर्णायक कदम उठा रही है और उनकी सरकार ऑटो क्षेत्र की स्थिति को लेकर गंभीर है। इस क्षेत्र की मांग पर गंभीरता से विचार जारी है और शीघ्र ही जबाव मिलने की संभावना है। 

जीएसटी परिषद लेगी फैसला
वित्त मंत्रालय ने ऑटो क्षेत्र की कुछ मांगों को स्वीकार कर चुका है। ऑटो क्षेत्र के लिए केन्द्र सरकार द्वारा उठाए गए कदमों का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि यह क्षेत्र कई वर्षों तक तेजी से आगे बढ़ा है। वाहनों विशेषकर यात्री वाहनों पर जीएसटी में कटौती करने की मांग के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इस संबंध में जीएसटी परिषद निर्णय लेगी।

उपभोग में तेजी आएगी
वित्त मंत्री ने अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए उठाए गए कदमों का हवाला देते हुए कहा कि इंफ्रास्ट्रक्चर क्षेत्र में व्यय बढ़ाए जाने से उपभोग में तेजी आएगी और दूसरी तिमाही में देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) में बढ़ोतरी होगी। चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर के पांच प्रतिशत पर आ जाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि पहले भी जीडीपी में पांच प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हुई है।

विकास में तेजी लाने का प्रयास
कभी कभी जीडीपी की वृद्धि दर अधिक होती है तो कभी कभी यह कम रह जाती है। जीडीपी में गिरावट विकास का हिस्सा है और अगली तिमाही में इसमें तेजी लाने पर ध्यान केन्द्रित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इंफ्रास्ट्रक्चर में व्यय के लिए कार्यबल गठित किया गया है और जब एक बार व्यय शुरू हो जाएगा तो उपभोग में तेजी आने लगेगी। सरकार ने पाचं वर्षों में इंफ्रा क्षेत्र में 100 लाख करोड़ रुपए व्यय का लक्ष्य रखा है।

संग्रह पर ध्यान देने की जरूरत
जीएसटी राजस्व संग्रह में कमी आने के बारे में उन्होंने कहा कि संग्रह पर अधिक ध्यान देने की जरूरत है और सरकार को कर आधार बढ़ाने की आवश्यकता है।  

यह भी पढ़ें:

फ्यूल क्रेडिट कार्ड लांच

एचडीएफसी बैंक लिमिटेड एवं इंडियन आॅईल ने नॉन-मेट्रो शहरों व कस्बों के ग्राहकों के लिए को-ब्रांडेड फ्यूल क्रेडिट कार्ड लांच किया।

26/09/2019

लैंड रोवर ने डिस्कवरी स्पोर्ट को और बनाया बेहतर

जगुआर लैंड रोवर इंडिया ने नए मॉडल डिस्कवरी स्पोर्ट की लांचिंग की घोषणा की। यह ज्यादा सहज, ज्यादा व्यावहारिक और आधुनिक एसयूवी है।

14/02/2020

दबाव में शेयर बाजार, सेंसेक्स 80 अंक नीचे

वैश्विक स्तर से मिले मिश्रित रूझानों के बीच घरेलू स्तर पर आर्थिक गतिविधियों में सुस्ती की आशंका में शेयर बाजार गुरूवार को फिर से दबाव में आ गया, जिससे बीएसई का सेंसेक्स 80 अंक उतर गया जबकि निफ्टी सपाट बंद होने में सफल रहा।

05/09/2019

चार दिवसीय जेजेएस का होगा आगाज

जयपुर ज्वैलरी शो (जेजेएस) के 16 वें संस्करण के लिए एग्जीबिटर्स मीट आयोजित की गई। इस अवसर पर समिति के सदस्यों द्वारा शो का थीम पोस्टर भी लांच किया गया।

10/11/2019

मारुति ने मुंद्रा बंदरगाह से किया 10 लाखवीं कार का निर्यात

देश की यात्री कार वर्ग की अग्रणी कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड ने गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह से कंपनी की 10 लाखवीं कार निर्यात की। कपंनी ने बताया कि ऑक्सफोर्ड ब्लू रंगीन की सेडान डिजायर को गुरुवार को मुंद्रा बंदरगाह से चिली के लिए भेजा गया।

19/09/2019

बिजनेस कॉन्क्लेव सपंन्न

इंडिया इंटरनेशनल एमएसएमई एक्सपो व बिजनेस कॉन्क्लेव-2019 का शनिवार को रिक्रिएशन क्लब में समापन हो गया।

01/12/2019

सरकार ने 62 शहरों में चार्जिंग स्टेशन लगाने की दी मंजूरी : जावड़ेकर

सरकार ने 24 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 62 शहरों में इलेक्ट्रिक वाहनों के लिये फेम इंडिया योजना के तहत 2,636 चार्जिंग स्टेशन लगाने की मंजूरी दे दी है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इसकी जानकारी दी।

04/01/2020