Dainik Navajyoti Logo
Monday 18th of November 2019
 
निवेश

101 फीसदी के प्रीमियम के साथ IRCTC के शेयर की बंपर लिस्टिंग, निवेशकों की बल्ले-बल्ले

Monday, October 14, 2019 14:15 PM
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। शेयर बाजार में इंडियन रेलवे कैटरिंग ऐंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन के शेयर की बंपर लिस्टिंग हुई है। पहले दिन ही आईआरसीटीसी के शेयर दोगुने भाव पर स्टॉक मार्केट में लिस्ट हुआ। कंपनी का शेयर अब बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) और नेश्नल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) में सूचीबद्ध हो चुका है। यह शेयर 320 रुपए के इशू प्राइस के मुकाबले बीएसई पर 101.25 फीसदी प्रीमियम के साथ 644 रुपए पर सूचीबद्ध हुआ। स्टॉक मार्केट में किसी सरकारी कंपनी की यह सबसे सफल लिस्टिंग है। बाजार में सूचीबद्ध होने के बाद कंपनी का बाजार पूंजीकरण (एमकैप) 10,736 करोड़ रुपए हो गया है।

पिछले दो साल में शेयर बाजार में यह सबसे शानदार लिस्टिंग है, जिसमें कोई शेयर इशू प्राइस के दोगुने पर लिस्ट हुआ है। दोपहर 12 बजे कंपनी का शेयर 79.05 अंक यानी 12.27 फीसदी के उछाल के साथ 623.05 रुपये पर कारोबार कर रहा था। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी पर कंपनी का शेयर 91.85 अंक यानी 14.67 फीसदी की बढ़त के बाद 717.85 रुपये पर कारोबार कर रहा था।

12 फीसदी हिस्सेदारी बेचेगी सरकार
यह पब्लिक इशू वित्त वर्ष 2019-20 के लिए केंद्र सरकार के विनिवेश की योजना का हिस्सा है। आईआरसीटीसी में 100 फीसदी हिस्सेदारी रखने वाली सरकार इसकी 12 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी। आईपीओ के बाद कंपनी में सरकार की हिस्सेदारी घटकर 87.7 फीसदी हो जाएगी। आईआरसीटीसी इंटरनेट टिकटिंग, कैटरिंग, पैकेज्ड ड्रिंकिंग वाटर, ट्रैवेल तथा टूरिज्म का काम करती है।

मिली थीं 112 गुना ज्यादा बोलियां
आईआरसीटीसी का आईपीओ 30 सितंबर से 4 अक्टूबर के बीच खुला था। इसे निवेशकों ने हाथों-हाथ लिया था। इसे 112 गुना तक ज्यादा बोलियां मिली थीं। आईआरसीटीसी के बिक्री के लिए रखे गए 2 करोड़ शेयर के एवज में 25 करोड़ करोड़ शेयर के लिए बोलियां प्राप्त हुई थीं।

40 इक्विटी शेयरों के लिए थी न्यूनतम बोली
एक लॉट 40 इक्विटी शेयरों का था। न्यूनतम बोली 40 इक्विटी शेयरों के लिए थी। रिटेल निवेशक अधिकतम 16 लॉट खरीद सकते थे। कंपनी ने 315 से 320 रुपए का प्राइस बैंड तय किया था और खुदरा श्रेणी के निवेशकों और पात्र कर्मचारियों के लिए आधार मूल्य पर प्रति शेयर 10 रुपए की छूट की पेशकश थी। यानी छूट के बाद आईआरसीटीसी आईपीओ का दाम 305 से 310 रुपए था। लोगों को 40 शेयर का एक लॉट खरीदने के लिए 12,200 रुपए खर्च करने पड़े।

पात्र कर्मचारियों के लिए 1,60,000 शेयर आरक्षित
स्टॉक एक्सचेंज से मिले आंकड़ों के मुताबिक, 645 करोड़ रुपए जुटाने के लिए लाए गए इस आईपीओ के तहत दो करोड़ शेयरों के लिए बोलियां मांगी गईं थीं। इस निर्गम में पात्र कर्मचारियों के लिए 1,60,000 शेयर आरक्षित किए गए हैं। क्वालिफाइड इन्स्टिट्यूश्नल बायर्स की श्रेणी में 109 गुना, गैर-संस्थागत निवेशकों के मामले में 355 गुना और खुदरा निवेशकों के मामले में 15 गुना अभिदान मिला है।