Dainik Navajyoti Logo
Friday 5th of June 2020
 

101 फीसदी के प्रीमियम के साथ IRCTC के शेयर की बंपर लिस्टिंग, निवेशकों की बल्ले-बल्ले

Monday, October 14, 2019 14:15 PM
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। शेयर बाजार में इंडियन रेलवे कैटरिंग ऐंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन के शेयर की बंपर लिस्टिंग हुई है। पहले दिन ही आईआरसीटीसी के शेयर दोगुने भाव पर स्टॉक मार्केट में लिस्ट हुआ। कंपनी का शेयर अब बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) और नेश्नल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) में सूचीबद्ध हो चुका है। यह शेयर 320 रुपए के इशू प्राइस के मुकाबले बीएसई पर 101.25 फीसदी प्रीमियम के साथ 644 रुपए पर सूचीबद्ध हुआ। स्टॉक मार्केट में किसी सरकारी कंपनी की यह सबसे सफल लिस्टिंग है। बाजार में सूचीबद्ध होने के बाद कंपनी का बाजार पूंजीकरण (एमकैप) 10,736 करोड़ रुपए हो गया है।

पिछले दो साल में शेयर बाजार में यह सबसे शानदार लिस्टिंग है, जिसमें कोई शेयर इशू प्राइस के दोगुने पर लिस्ट हुआ है। दोपहर 12 बजे कंपनी का शेयर 79.05 अंक यानी 12.27 फीसदी के उछाल के साथ 623.05 रुपये पर कारोबार कर रहा था। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी पर कंपनी का शेयर 91.85 अंक यानी 14.67 फीसदी की बढ़त के बाद 717.85 रुपये पर कारोबार कर रहा था।

12 फीसदी हिस्सेदारी बेचेगी सरकार
यह पब्लिक इशू वित्त वर्ष 2019-20 के लिए केंद्र सरकार के विनिवेश की योजना का हिस्सा है। आईआरसीटीसी में 100 फीसदी हिस्सेदारी रखने वाली सरकार इसकी 12 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी। आईपीओ के बाद कंपनी में सरकार की हिस्सेदारी घटकर 87.7 फीसदी हो जाएगी। आईआरसीटीसी इंटरनेट टिकटिंग, कैटरिंग, पैकेज्ड ड्रिंकिंग वाटर, ट्रैवेल तथा टूरिज्म का काम करती है।

मिली थीं 112 गुना ज्यादा बोलियां
आईआरसीटीसी का आईपीओ 30 सितंबर से 4 अक्टूबर के बीच खुला था। इसे निवेशकों ने हाथों-हाथ लिया था। इसे 112 गुना तक ज्यादा बोलियां मिली थीं। आईआरसीटीसी के बिक्री के लिए रखे गए 2 करोड़ शेयर के एवज में 25 करोड़ करोड़ शेयर के लिए बोलियां प्राप्त हुई थीं।

40 इक्विटी शेयरों के लिए थी न्यूनतम बोली
एक लॉट 40 इक्विटी शेयरों का था। न्यूनतम बोली 40 इक्विटी शेयरों के लिए थी। रिटेल निवेशक अधिकतम 16 लॉट खरीद सकते थे। कंपनी ने 315 से 320 रुपए का प्राइस बैंड तय किया था और खुदरा श्रेणी के निवेशकों और पात्र कर्मचारियों के लिए आधार मूल्य पर प्रति शेयर 10 रुपए की छूट की पेशकश थी। यानी छूट के बाद आईआरसीटीसी आईपीओ का दाम 305 से 310 रुपए था। लोगों को 40 शेयर का एक लॉट खरीदने के लिए 12,200 रुपए खर्च करने पड़े।

पात्र कर्मचारियों के लिए 1,60,000 शेयर आरक्षित
स्टॉक एक्सचेंज से मिले आंकड़ों के मुताबिक, 645 करोड़ रुपए जुटाने के लिए लाए गए इस आईपीओ के तहत दो करोड़ शेयरों के लिए बोलियां मांगी गईं थीं। इस निर्गम में पात्र कर्मचारियों के लिए 1,60,000 शेयर आरक्षित किए गए हैं। क्वालिफाइड इन्स्टिट्यूश्नल बायर्स की श्रेणी में 109 गुना, गैर-संस्थागत निवेशकों के मामले में 355 गुना और खुदरा निवेशकों के मामले में 15 गुना अभिदान मिला है।

यह भी पढ़ें:

तेल में नरमी से शेयर बाजार ने की वापसी, सेंसेक्स 83 अंक और निफ्टी 23 अंक चढ़ा

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में नरमी से घरेलू शेयर बाजार में बुधवार को रौनक लौट आई और बीएसई का सेंसेक्स 82.79 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 23.05 अंक की बढ़त पर बंद हुआ।

18/09/2019

सोना 200 रुपए चमका, चांदी में 975 रुपए का उछाल

सऊदी अरब के कच्चा तेल संयंत्रों पर ड्रोन हमलों के बाद विदेशों में पीली धातु की कीमतों में आई तेजी के कारण दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 200 रुपए की मजबूती के साथ 38,570 रुपए प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया। चांदी भी 975 रुपए की छलांग लगाकर 47,425 रुपए प्रति किलोग्राम बिकी।

16/09/2019

तेल की चिंता में शेयर बाजार धड़ाम, सेंसेक्स 642 अंक और निफ्टी 189 अंक टूटा

सऊदी अरब में दो तेल संयंत्रों पर हुये हमले के कारण उत्पादन घटने से कच्चे तेल की कीमतों में आगे तेजी आने की आशंका में घरेलू शेयर बाजार में लगातार दूसरे दिन तीव्र गिरावट दर्ज की गई। बीएसई का सेंसेक्स 642 अंक और एनएसई का निफ्टी 189 अंक गिरकर बंद हुआ।

17/09/2019

एग्जिट पोल में NDA को 300 सीटें मिलने की संभावना, सेंसेक्स और निफ्टी में उछाल

बाजार में शुरू से ही तेजी देखी गयी। सेंसेक्स 770.41 अंक की बढ़त से 38701.18 पर खुला और कुछ ही देर में 38892.89 अंक पर पहुंच गया। खबर लिखे जाते समय यह 38694 अंक पर था।

20/05/2019

सऊदी तेल संयंत्रों पर हमले से लुढ़का शेयर बाजार, सेंसेक्स 262 और निफ्टी 72 अंक टूटा

सऊदी अरब में कच्चे तेल के दो संयंत्रों पर ड्रोनों से किये गये हमले तथा उसके बाद अमेरिका और ईरान के बीच बढ़े तनाव के कारण सोमवार को घरेलू शेयर बाजार गिरावट में आ गई।

16/09/2019

वैश्विक कारकों से प्रभावित हो रहा भारत का विकास : विश्व बैंक

विश्व बैंक के अध्यक्ष डेविड मालपास ने यहां कहा कि वैश्विक कारकों से भारतीय अर्थव्यवस्था प्रभावित हो रही है, लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा निर्धारित पांच लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य बहुत ही शक्तिशाली दृष्टिकोण है।

30/10/2019

शेयर बाजार 7 महीने के निचले स्तर पर, सेंसेक्स 470 अंक और निफ्टी 135 अंक धड़ाम

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में उछाल से घरेलू शेयर बाजारों में गुरुवार को चौतरफा बिकवाली देखी गई और बीएसई का सेंसेक्स 470.41 अंक यानी 1.29 प्रतिशत टूटकर 1 मार्च के बाद के निचले स्तर 36,093.47 अंक पर आ गया।

19/09/2019