Dainik Navajyoti Logo
Thursday 4th of June 2020
 
गैजेट्स

मोबाइल कांग्रेस 2019 में दिखेगी 5G प्रौद्योगिकी की क्षमता, कंपनियां पेश करेंगी अपने उत्पाद

Sunday, October 13, 2019 16:10 PM
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। इंडियन मोबाइल कांग्रेस 2019 (आईएमसी) सोमवार से राजधानी में शुरू हो रहा है जहां मोबाइल फोन और इलेक्ट्रॉनिक उत्पाद बनाने वाली कंपनियां अपने उत्पाद प्रदर्शित और लॉन्च करेंगी तथा दूरसंचार क्षेत्र की पांचवी पीढ़ी की प्रौद्योगिकी 5G का लाइव प्रदर्शन किया जाएगा। दूरसंचार विभाग के सहयोग से संचार क्षेत्र की कंपनियों के शीर्ष संगठन सीओएआई द्वारा राजधानी के एयरोसिटी में आयोजित तीन दिवसीय कांग्रेस 16 अक्टूबर तक चलेगी जिसका संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद संचार क्षेत्र की दिग्गज कंपनियों के प्रमुखों की मौजूदगी में उद्घाटन करेंगे।

इंडियन मोबाइल कांग्रेस में टेलीकॉम ऑपरेटर और देशी-विदेशी स्टार्टअप के साथ ही प्रौद्योगिकी से जुड़े उत्पाद और सेवायें देने वाली कंपनियां शामिल होंगी। इस बार 5G पर विशेष जोर दिया गया क्योंकि यही टेक्नोलॉजी अगली पीढ़ी में लोगों को जोड़ने का काम करेंगी। इसका कनेक्टेड वाहनों और अन्य क्षेत्रों में भी उपयोग होने वाला है। पिछले वर्ष भी इंडियन मोबाइल कांग्रेस में 5G उत्पाद प्रदर्शित किए गए थे और इस बार इसमें अधिक बढ़ोतरी होने की उम्मीद है। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की शुरुआत होते ही 5G स्पेक्ट्रम की इस वर्ष नीलामी की घोषणा की गई थी, लेकिन इसको लेकर टेलीकॉम कंपनियों में कोई विशेष उत्साह नहीं देखा जा रहा है। दिग्गज दूरसंचार कंपनियां इसकी नीलामी नहीं किए जाने की भी वकालत कर चुकी है।

5G प्रौद्योगिकी क्षेत्र की कंपनियां अपनी प्रौद्योगिकी को प्रदर्शित करने को लेकर काफी उत्साहित है। इस क्षेत्र में चीन की प्रमुख कंपनी हुवावेई को लेकर पहले आशंका जताई जा रही थी, लेकिन अब उसे इसके लिए दूरसंचार विभाग से मंजूरी मिल गई है। इसमें वैश्विक स्तर के स्टार्टअप भी अपने नवाचारी उत्पाद पेश करने वाले हैं।

पिछले इंडियन मोबाइल कांग्रेस में जियो फाइबर सेवा का प्रदर्शन किया गया था और इस वर्ष अन्य ऑपरेटर और इंटरनेट सेवा प्रदाता भी अपने डिजिटल उत्पाद पेश कर सकते हैं। भारती एयरटेल अपनी 'एक्स स्टीम डिवाइस' का प्रदर्शन करेगी। इसके जरिए टीवी के साथ-साथ ओटीटी प्लेटफॉर्म के कंटेट भी देख जा सकते हैं। यह उपकरण स्मार्टहोम की अवधारणा पर आधारित है। इसके अतिरिक्त एयरटेल 5G प्रौद्योगिकी के उपयोग का प्रदर्शन भी करेगी। कंपनी स्मार्ट सिटी और स्मार्ट मोबिलिटी से जुड़ी प्रौद्योगिकी का प्रदर्शन करने वाली है। इसमें वोडाफोन आइडिया भी कनेक्टेड वाहनों का प्रदर्शन करने वाली है।

यह भी पढ़ें:

रेडमी सीरीज के दो नये मोबाइल लॉन्च, जानिए फीचर्स

स्मार्ट फोन ब्राड की अग्रणी कंपनी शाओमी इंडिया ने रेडमी सीरीज के दो नये मोबाइल के 20 और के 20 मोबाइल फोन लांच किये।

17/07/2019

मुख्यमंत्री पेमा खांडू सहित 45 विधायकों ने दिया कांग्रेस से इस्तीफा

ईटानगर। अरुणाचल प्रदेश में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। मुख्यमंत्री पेमा खांडू सहित 45 विधायकों ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है। इन सभी ने 'पीपुल्स पार्टी ऑफ अरुणाचल' (पीपीए) ज्वाइन कर ली है। बता दें कि पीपीए, बीजेपी का सहयोगी दल है।

16/09/2016

इजरायली स्पाइवेयर के जरिए हुई कई भारतीयों की जासूसी, वाट्सएप ने खुद किया खुलासा

व्हाट्सएप ने भारतीय पत्रकारों और एक्टिविस्ट की जासूसी को लेकर बड़ा खुलासा किया है। व्हाट्सएप ने बताया है कि इस साल मई में इजरायली स्पाईवेयर पेगासस का इस्तेमाल करके भारत के कई पत्रकारों और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की जासूसी की गई थी।

31/10/2019

#JioGigaFiber ब्रॉडबैंड सर्विस लॉन्च, सेटअप बॉक्स से कर सकेंगे वीडियो कॉल

रिलायंस एजीएम में #JioGigaFiber ब्रॉडबैंड सर्विस को लॉन्च किया गया, इससे अब इंटरनेट की दुनिया में बदलाव होगा। देश में कई जगह इसका ट्रायल चल रहा है।

12/08/2019

मोबाइल यूजर को झटका देने की तैयारी, मोबाइल इंटरनेट के दाम जल्द ही हो सकते हैं 10 गुना महंगे

भारतीय मोबाइल यूजर कई साल से दुनियाभर में सबसे सस्ते मोबाइल डेटा रेट का इस्तेमाल कर रहे हैं, लेकिन ये तस्वीर जल्द ही बदल सकती है। इस समय देश में मोबाइल यूजर 4G डेटा को 3.5 रुपए प्रति जीबी के तौर पर इस्तेमाल कर रहे हैं। अब टेलीकॉम ऑपरेटर इस मिनिमम रेट या फ्लोर रेट को बढ़ाने की मांग कर रहे हैं।

12/03/2020

सैमसंग ने पेश किया गैलेक्सी M40

देश के सबसे भरोसेमंद कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स एवं मोबाइल फोन ब्रांड, सैमसंग इंडिया ने गैलेक्सी एम40 को लॉन्च करने की घोषणा की है।

13/06/2019

जीएसटी रिफंड के लिए अब सिंगल विंडो, नहीं करना पड़ेगा लंबा इंतजार

निर्यातकों को अब वस्तु एवं सेवा कर जीएसटी रिफंड पाने के लिए लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। सरकार कारोबार की प्रक्रिया आसान करने के लिए जल्द ही ऐसा सिस्टम बनाने जा रही है जिसमें सेंट्रल जीएसटी और स्टेट जीएसटी का रिफं ड एक साथ एक ही अधिकारी जारी कर सकेगा।

31/10/2019