Dainik Navajyoti Logo
Thursday 28th of May 2020
 
राजस्थान

सायरन बजाकर बीसलपुर बांध के खोले गेट

Monday, August 19, 2019 15:20 PM
बीसलपुर बांध के विहंगम दृश्य को देखने उमड़े सैलानी।

जयपुर। राज्य के कई जिलों को पानी पिलाने वाले बीसलपुर बांध में पानी की भराव क्षमता 315.50 छूने के साथ ही प्रशासन ने पूजा-अर्चना कर करीब छह हजार क्यूसेक पानी बनास में छोड़ दिया गया। हालांकि प्रशासन ने गांवों में सायरन के माध्यम से चेतावनी जारी कर दी थी। उम्मीद की जा रही थी कि कभी भी बांध के गेट खोलकर पानी की निकासी कर दी जाएगी। बांध के अधिकारी-कर्मचारियों ने दोपहर तीन बजे बांध के गेट खोलने की तैयारियां शुरू कर दी। शाम चार बजे पुन: सायरन बजने के साथ ही शाम पांच बजे जिला कलेक्टर आरसी ढेनवाल और बांध के अधिकारियों की मौजूदगी में पूजा अर्चना के बाद गेट नम्बर 9 और 10 खोल दिए गए। बांध परियोजना के सहायक अभियंता मनीष बंसल ने बताया कि बांध के गेट खुलने के साथ ही बनास नदी की डाउन स्टीम में तेजी से पानी चला गया।

दो गेट खोलकर छोड़ा, छह हजार क्यूसेक पानी
बांध के दोनों गेटों को 50-50 सेमी तक खोलकर प्रत्येक गेट से तीन-तीन हजार क्यूसेक पानी की निकासी की।

त्रिवेणी का गेज कम होने से धीरे-धीरे आया पानी
त्रिवेणी का गेज कम होने से भराव क्षमता 315.50 पहुंचने में काफी समय लगा। हांलाकि बांध पर आज भी बड़ी संख्या में लोग बांध के गेट खुलने के इंतजार में खड़े हुए थे। गौरतलब है कि वर्ष 9 अगस्त, 2016 को भी बांध की भराव क्षमता 315.50 आरएल मीटर दर्ज होने पर बांध के गेट खोलकर निकासी की गई थी।

24 दिन में आया 10.63 आरएल मीटर पानी

बांध 24 दिन में ही लबालब हो गया। बारिश शुरू होने के बाद 27 जुलाई से बांध में पानी की आवक शुरू हुई थी और आज बांध अपनी पूर्ण भराव तक पहुंच गया। इन 24 दिनों में बांध में 10.63 आरएल मीटर पानी की आवक हुई।

54 गांवों को किया अलर्ट
बांध प्रशासन ने गेट खोलने से पहले सायरन बजाकर बनास नदी के डाउन स्ट्रीम में बसे 54 गांवों में अलर्ट जारी किया गया। सायरन जब बजा तो उसकी आवाज पांच किलोमीटर दूर तक सुनी गई, जिससे बनास नदी के अंदर काम कर रहे लोग हट गए और मवेशियों को भी हटा लिया गया।

बांध के गेट खोलने के बाद भी त्रिवेणी से पानी की आवक लगातार हो रही है। जितना पानी जा रहा है, उतना ही पानी आ रहा है। बांध के लेवल को 315.50 आरएल मीटर ही रखा जाएगा। इस हिसाब से दो गेटों को 50-50 सेमी तक ही छोड़ा गया है।
- विरेन्द्र सागर, अधीक्षण अभियंता, बीसलपुर बांध परियोजना  

यह भी पढ़ें:

खाद को लेकर किसानों को नहीं हो परेशानी : गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि प्रदेश में सरसों की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद के तय लक्ष्यों को हर हाल में हासिल किया जाए।

07/05/2020

भाजपा कार्यकर्ताओं की पार्टी, यहां बूथ अध्यक्ष मेहनत से राष्ट्रीय अध्यक्ष तक बन सकता है: कैलाश चौधरी

भारतीय जनता पार्टी बीकानेर संभाग की एक दिवसीय संगठनात्मक बैठक का शनिवार को जिला उद्योग संघ के सभागार में आयोजन किया गया। इसकी अध्यक्षता केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने की।

01/12/2019

खाद्य पदार्थों में मिलावट रोकने के लिए मावा भट्टियों पर की कार्रवाई

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से त्योहार पर खाद्य पदार्थो में मिलावट रोकने के लिए चलाए गए अभियान में सीएमएचओ डॉ. नरोत्तम शर्मा की टीम ने चौमूं के चीथवाडी गांव की मावा भट्टियों पर कार्रवाई की।

23/10/2019

सदन में विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव पेश

राज्य विधानसभा में विपक्ष ने सोमवार को रालोपा के दो विधायकों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई को लेकर विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव पेश किया।

03/03/2020

बांसी कांग्रेस नगर अध्यक्ष के पुत्र ने किया फायर,एक घायल

बड़ीसादड़ी। उपखंड क्षेत्र के बांसी में शुक्रवार को आपसी पुरानी रंजिश के चलते कांग्रेस नगर अध्यक्ष के पुत्र ने एक युवक पर फायर कर घायल कर दिया।

18/10/2019

मंडोर सुपरफास्ट को बाड़मेर तक विस्तार करने के पीछे क्या औचित्य है: गजेन्द्र शेखावत

रेलमंत्रालय द्वारा जोधपुर - दिल्ली मंडोर सुपरफास्ट को बाड़मेर तक विस्तार करने के पीछे क्या औचित्य हैं। इस निर्णय पर पुन विचार की जरूरत है, क्योंकि मंडोर सुपरफास्ट जोधपुर रेलमंडल की सबसे पसंदीदा ट्रेन में से एक है।

01/12/2019

अनूठे अंदाज में विधानसभा पहुंचे बिहारी विश्नोई और संतोष बावरी, उठाया टिड्‌डियों का मुद्दा

विधानसभा का तीसरा सत्र शुरू हो गया है, जिसमें राज्यपाल कलराज मिश्र ने अभिभाषण दिया। सत्र के दौरान भाजपा विधायकों ने सदन से वॉक आउट कर लिया।

24/01/2020