Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 20th of November 2019
 
राजस्थान

सरकारी जमीन पर कब्जा शिकायतों की आड़ में अवैध धंधा

Friday, May 17, 2019 11:00 AM
सरकारी जमीन पर हो रहे अवैध निर्माण।

जयपुर। शहर के नए विकसित होने वाले इलाकों में विकास समितियों की आड़ में कुछ लोग वसूली का खेल कर रहे हैं। कॉलोनी में मकान का निर्माण करने वालों की बार-बार शिकायतें कर उन पर प्रेशर बनाया जाता है। कुछ ऐसा ही मामला अजमेर रोड स्थित मोदी नगर का सामने आया है। मोदी नगर में कुछ मकानों के पीछे खाली पड़ी सरकारी जमीन पर कब्जा कर इमारतें खड़ी की जा रही है। कॉलोनी के ही कुछ लोगों की मानें तो इन अतिक्रमियों को विकास समिति के कुछ नुमाइंदे संरक्षण प्रदान कर रहे हैं। इनके संरक्षण के जरिए कॉलोनी में कई तरह की अवैध व्यावसायिक गतिविधियां संचालित हो रही है।

ध्यान भटकाने के लिए दूसरे की शिकायतें
कॉलोनी में कुछ जरूरतमंद लोग अपना मकान बना रहे हैं, लेकिन विकास समितियों के ही कुछ नुमाइंदे इनकी आए दिन जेडीए में शिकायतें कर उन्हें परेशान कर रहे हैं। कॉलोनी के कुछ लोगों का कहना है कि मोदी नगर में जहां भूखंड मालिक अवैध निर्माण करने के साथ ही सरकारी जमीनों पर भी कब्जा करने में लगे हुए हैं। अपने गुनाहों को छुपाने एवं कॉलोनी के लोगों का ध्यान भटकाने के लिए दूसरे की शिकायतें कर देते हैं। अगर कोई इनके खिलाफ बोलने की कोशिश करता है तो उसे शिकायतों के जरिए दबाने की कोशिश की जाती है।

सीवर लाइन में कर लिए अवैध कनेक्शन
कॉलोनी में सरकारी महकमें की ओर से सीवर लाइन डाली गई है, लेकिन लोगों ने अवैध तरीके से सीवर के कनेक्शन कर लिए। इससे सरकार को भी नुकसान हो रहा है, लेकिन कुछ कॉलोनी के नुमाइंदे अपनी सरकार में धौंस दिखाकर लोगों को डरा देते हैं, इससे अवैध कनेक्शनों के खिलाफ कार्रवाई करने वाले भी हिम्मत नहीं जुटा पाते हैं।

शिकायतों से जेडीए परेशान
मोदी नगर में कई जगह निर्माण कार्य चल रहे हैं। इसमें बिल्डिंग बायलॉज का खुला उल्लंघन तो किया ही जा रहा है, लेकिन कॉलोनी में विकास का आइना दिखाने वाली विकास समितियों के ही कुछ लोग चुन चुन कर कुछ टारगेट तय करते हुए अवैध निर्माणों की शिकायतें कर रहे हैं। इससे जेडीए वाले खुद भी परेशान है कि आपसी खींचतान के चलते हमारे ऊपर भी प्रेशर डलवाते हैं, जिसके कारण हमें भी परेशानी होती है।

इनका कहना है...

कॉलोनी में किसी भी अवैध निर्माण को लेकर मोदी नगर कल्याण एवं विकास समिति की ओर से कोई शिकायत नहीं की गई है। अगर कोई स्वयं के स्वार्थ के लिए समिति के नाम पर शिकायत करता है तो उससे मुझे कोई लेना देना नहीं है। जेडीए में समिति की ओर से हमने कोई किसी के अवैध निर्माण की शिकायत नहीं की है।
-संजीव मिश्रा, अध्यक्ष, मोदी नगर कल्याण एवं विकास समिति

कॉलोनी में अवैध निर्माणों की जेडीए में कई बार शिकायत की गई है, लेकिन जेडीए और नगर निगम के अधिकारी पैसे लेते हैं। मैं तो यहां तक कह सकता हूं कि एक छत डालने के अधिकारी एक लाख रुपए तक लेते हैं। इसके बाद अवैध निर्माणों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करते है।
-हरनाम सिंह आजाद, सचिव, मोदी नगर कल्याण एवं विकास समिति

अवैध निर्माण के संबंध में जोन स्तर पर रिपोर्ट तैयार करने के बाद संबंधित प्रवर्तन
अधिकारी को कार्रवाई के लिए सौंप दी जाती है। आगे की कार्रवाई करने का कार्य प्रवर्तन अधिकारी का होता है।
-बलवंत सिंह, उपायुक्त, जोन पांच