Dainik Navajyoti Logo
Thursday 14th of November 2019
 
उदयपुर

शाम होते होते ठंडा हुआ मौसम

Friday, November 08, 2019 22:00 PM
आसमान में बादल छितराए

उदयपुर। शहर व आसपास के क्षेत्र में शुक्रवार को दिनभर बादलों के बीच सूरज की लुकाछिपी का दौर चला। उत्तर भारत में गिरी बर्फ का असर शाम होते होते यहां भी महसूस होने लगा। दिन के तापमान में 2.4 डिग्री की गिरावट आई। संभाग के चित्तौड़गढ़ जिले में शाम के समय बारिश हुई।


शहर व आसपास क्षेत्र में सुबह से ही आसमान में बादल छितराए रहे। दिनभर धूप छांव का क्रम बना रहा। शाम होने तक सर्द हवाओं के चलते वातावरण ठंडा हो गया। मौसम कार्यालय डबोक के अनुसार शुक्रवार को अधिकतम तापमान 28.6 डिग्री तथा न्यूनतम तापमान 18.2 डिग्री दर्ज किया गया। गुरुवार के मुकाबले शुक्रवार को अधिकतम तापमान में 2.4 डिग्री और न्यूनतम 0.8 डिग्री की गिरावट आई है। 

महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय की ओर से जारी सूचना अनुसार मौसम विज्ञान विभाग जयपुर की सूचना के आधार पर आगामी पांच दिनों में उदयपुर जिले में आसमान साफ रहने के साथ ही अधिकतम तापमान 29 से 30 डिग्री व न्यूनतम 18 डिग्री रहने की संभावना है।


चित्तौड़गढ़ शहर में शुक्रवार को सायं सवा चार बजे आकाश में उमड़े घने बादल बरस पड़े। झमाझम बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया। देवउठनी एकादशी के सावे पर वैवाहिक आयोजनों में बारिश ने विघ्न पैदा कर दिया। लोगों को व्यवस्थाएं संभालने तक का समय नहीं मिला। आधे घंटे से भी ज्यादा समय तक बारिश हुई। बस्सी व आसपास क्षेत्र में सायं 5 बजे शुरू हुआ बारिश का दौर करीब आधे घंटे चला। गंगरार उपखंड मुख्यालय पर भी सायं 4 बजे से 6 बजे तक बारिश हुई।


किसानों के लिए सलाह
महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के कृषि विशेषज्ञों ने किसानों के लिए सलाह दी है। उनके अनुसार खेतों में 15 से 20 दिन की हो गई सरसों फसल में से अतिरिक्त पौधे निकाल लें। गेहूं की बुवाई के लिए यह समय उपयुक्त है। अफीम की बुवाई इस सप्ताह में पूर्ण कर लें। मटर की अगेती किस्म, चारा बरसीम व रिजका, लहसुन की बुवाई कर सकते हैं।