Dainik Navajyoti Logo
Thursday 24th of October 2019
जयपुर

बहरोड़ थाने से बदमाश को छुड़ाने के मामले में दो गिरफ्तार, संयुक्त ऑपरेशन की योजना तैयार

Sunday, September 08, 2019 09:55 AM
कॉन्सेप्ट फोटो

जयपुर। अलवर जिले बहरोड़ थाने में धावा बोलकर अपने साथी को छुड़ा ले जाने की वारदात में लिप्त दो बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। इस घटना की जांच एसओजी को सौंप दी गई। शेष अपराधियों की तलाश जारी है। बदमाशों को पकड़ने के लिए राजस्थान और हरियाणा की पुलिस संयुक्त अभियान चलाएगी। राजस्थान पुलिस महानिदेशक डॉ. भूपेन्द्र सिंह ने बताया कि इस घटना को लेकर विनोद स्वामी निवासी जखराना थाना बहरोड़ और कैलाश उर्फ केसी निवासी गुर्जरवास थाना सिंघाना जिला झुंझुनूं को गिरफ्तार कर लिया गया। इनमें से विनोद स्वामी बहरोड़ थाने का हिस्ट्रीशीटर है। इसके खिलाफ कई थानों में मामले दर्ज है।

इस संगीन वारदात को लेकर को राजस्थान के पुलिस महानिदेशक डॉ. भूपेन्द्र सिंह और हरियाणा के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक के बीच बैठक हुई। दोनों प्रदेशों की पुलिस ने संयुक्त योजना तैयार की है। पुलिस सूत्रों के अनुसार बहरोड थाने में एके-47 से गोलियां बरसाकर बदमाश को छुड़ा ले जाने वाली विक्रम पपला गुर्जर निवासी खारोली (हरियाणा) को गैंग सहित पकड़ने के लिए राजस्थान पुलिस ने रणनीति बनाई है।

राजस्थान के डीजीपी ने शनिवार को हरियाणा पुलिस के अफसरों के साथ बैठक करके बदमाशों को घेरने के लिए संयुक्त ऑपरेशन की योजना तैयार की। यह बैठक हरियाणा के धारूहेड़ा के एक रिसोर्ट में हुई। इसमें राजस्थान के डीजीपी भूपेंद्र यादव और हरियाणा के एडीजी समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे। बैठक के बाद हरियाणा और राजस्थान के बॉर्डर की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। अभी भी गाड़ियों की तलाश जारी रही। कुछ संदिग्ध लोगों को पूछताछ के लिए थाने भी लाया गया।

एक साल से फरार था पपला
थाने में लॉकअप में बंद जिस अपराधी विक्रम गुर्जर उर्फ पपला को बदमाश छुड़ाकर ले गए थे, वह एक साल से फरार चल रहा था। उसके साथी गत वर्ष आठ सितम्बर को हरियाणा के महेन्द्रगढ़ न्यायालय से पुलिस हिरासत से छुड़ाकर भगा ले गए थे। ेउसके बाद ही उस पर एक लाख रुपए का ईनाम घोषित किया गया था।