Dainik Navajyoti Logo
Thursday 28th of May 2020
 
जयपुर

राजस्थान: पुलिसकर्मी ने अनपढ़ महिला के साथ 11 साल तक किया दुष्कर्म

Wednesday, April 24, 2019 10:00 AM
कॉन्सेप्ट फोटो

जयपुर। राजस्थान के पुलिस महानिदेशक कपिल गर्ग किसी भी सूरत में अन्याय नहीं होने का वादा कर पीड़ितों को न्याय देने का हरसंभव प्रयास कर रहे हैं, लेकिन पुलिस से परेशान पीड़ितों को ही न्याय नहीं मिल पा रहा है। हालात इस कदर बदतर हैं कि पुलिसकर्मी की प्रताड़ना की शिकार महिला न्याय के लिए दर-दर भटक रही है। महिला ने इस बार डीजीपी कपिल गर्ग से गुहार लगाई है। जांच अधिकारी एसीपी संध्या यादव ने खुद के पास फाइल नहीं होने की बात कही है, जबकि डीसीपी पश्चिम विकास शर्मा ने फाइल एसीपी सदर संध्या यादव के पास ही होना बताई है। पीड़िता का कहना है कि एसीपी साहब कह रही हैं कि जब टाइम मिलेगा, तब फाइल की जांच होगी। ऐसे में पीड़िता को न्याय मिलना दूर की कौड़ी साबित होता नजर आ रहा है।

यह है मामला
पीड़ित महिला ने बताया कि वह करीब 11 साल पहले सदर थाना इलाके में मजदूरी करती थी। थाने में तैनात पुलिसकर्मी वजीर सिंह ने उससे कहा मेरी पत्नी भी नहीं है और तेरा पति छोड़कर चला गया है। मैं तुझसे शादी कर लूंगा और साथ रखूंगा। विश्वास जीतने के लिए पुलिसकर्मी उसे हरिद्वार लेकर गया, जहां उसने शादी करने की सौगंध खाई। उसके बाद वह लगातार दुष्कर्म करता रहा और शादी का झांसा देता रहा। जब भी वह शादी की बात करती तो पीटना शुरू कर देता। इसकी रिपोर्ट थाने में दर्ज कराई तो वहां पुलिसकर्मियों ने उसे बचाने का प्रयास किया। जब न्याय नहीं मिला तो महानिदेशक पुलिस कपिल गर्ग के यहां शिकायत दी है।

लिव-इन-रिलेशनशिप का किया एग्रीमेंट
महिला ने खुद को अनपढ़ बताते हुए कहा है कि मैं उससे शादी करना चाहती थी, लेकिन उसने मुझे छोड़ दिया। झांसे में लेकर कई कागजों पर अंगूठा लगवाया। पुलिसकर्मी वजीर ने 500 रुपए के स्टाम्प पर महिला से लिव-इन-रिलेशनशिप का एक अनुबंध पत्र तैयार किया, जिसमें साथ रहने की बात लिखी गई है।

फोन नहीं किया रिसीव
पीड़िता के बताए पुलिसकर्मी के मोबाइल नंबर पर सम्पर्क करने का प्रयास किया गया, लेकिन फोन रिसीव नहीं किया।

इनका कहना
ऐसे किसी मामले की मुझे कोई जानकारी नहीं है और ना ही मेरे पास ऐसी कोई फाइल है।- संध्या यादव, एसीपी सदर

दुष्कर्म प्रकरण की जांच एसीपी सदर संध्या यादव को ही सौंपी गई है। वही इस मामले की जांच कर रही हैं। - विकास शर्मा, पुलिस उपायुक्त पश्चिम

 

यह भी पढ़ें:

पश्चिमी विक्षोभ से मौसम पलटा

प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ से राजधानी जयपुर सहित प्रदेश के अन्य हिस्सों में मौसम बदल गया। जयपुर में दोपहर बाद आसमान में काले-पीले बादल छा गए और शाम को तेज हवा चलने से मौसम खुशनूमा हो गया।

16/05/2019

संघ पृष्ठभूमि से हो सकता है राजस्थान भाजपा का नया प्रदेश अध्यक्ष

राजेन्द्र राठौड़, सतीश पूनिया, राज्यवर्धन राठौड़, मदन दिलावर, अरुण चतुर्वेदी, वासुदेव देवनानी सहित कई नाम प्रदेश अध्यक्ष की दौड़ में हैं।

10/08/2019

युवाओं में भी तेजी से बढ़ी रही हार्ट अटैक संबंधी बीमारियां, जानिए बचाव

विश्व में करीब 1.7 करोड़ लोगों की मृत्यु हृदय संबंधी रोगों के कारण हो जाती है। 2016 में प्रकाशित आंकड़ों के अनुसार भारत में लगभग 5.4 करोड़ लोग हार्ट संबंधी रोगों के शिकार हैं और हर 33 सैकंड में एक व्यक्ति की मौत हार्ट अटैक से हो जाती है।

29/09/2019

पृथ्वीराज नगर योजना में 250 रुपए प्रति वर्गगज बढ़ाई नियमन दरें, कैबिनेट लेगी अंतिम निर्णय

पृथ्वीराज नगर योजना क्षेत्र की वंचित कॉलोनियों के नियमन के लिए राज्य सरकार ने 250 रुपए प्रति वर्गगज दरों में बढ़ोतरी कर दी है। नगरीय विकास विभाग के नियमन दरों में बढ़ोतरी के प्रस्ताव को वित्त विभाग ने मंजूरी प्रदान कर दी है। अब इस प्रस्ताव पर अंतिम निर्णय कैबिनेट स्तर पर होगा।

10/10/2019

15 दिन तक कर सकते हैं पुनर्मूल्यांकन के लिए आवेदन

राजस्थान विश्वविद्यालय की मुख्य परीक्षा-2019 की परीक्षाओं का दौर जारी है। इस दौरान स्नातक (यूजी) और स्नातकोत्तर (पीजी) के जिन विषयों की परीक्षाएं पूरी होती जा रही हैं, उनकी कॉपी जांच की प्रक्रिया आरयू प्रशासन की ओर से की जा रही है, जिससे की समय पर परिणाम घोषित हो सकें।

10/04/2019

छोटी चौपड़ से बड़ी चौपड़ तक अक्टूबर तक शुरू हो जाएगा मेट्रो का ट्रायल रन

उन्होंने कहा कि अक्टूबर तक मेट्रो का ट्रायल रन शुरू कर देंगे, उसके बाद संभवतया जनवरी तक कमर्शियल रन शुरू कर दिया जाएगा।

11/06/2019

पूर्व में जारी स्वीकृति वाली ग्रामीण सड़कों पर बढ़ाया फोकस, आचार संहिता के कारण नई स्वीकृतियां अभी संभव नहीं

ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग ने ग्रामीण सड़कों के निर्माण और मरम्मत से जुड़े कार्यों को तेजी से पूरा कराने की जिम्मेदारी जिला परिषदों को सौंपी है। विभाग ने केवल उन्हीं कार्यों में तेजी लाने के लिए कहा है, जिनकी स्वीकृतियां पंचायत चुनाव की आचार संहिता लगने से पहले जारी हो चुकी हैं।

06/01/2020