Dainik Navajyoti Logo
Thursday 14th of November 2019
 
जयपुर

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का राजस्थान में किया स्वागत

Saturday, November 09, 2019 13:05 PM
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे (फाइल फोटो)

जयपुर। अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राजस्थान के लोगों में खुशी की लहर दौड़ गई है और सभी ने इसका स्वागत किया है। 

इस निर्णय के बाद लोगों ने एक दूसरे को बताकर खुशी का इजाहर किया व मिठाई बांटकर खुशी मनाई और न्यायालय के इस फैसले का सभी ने सम्मान एवं स्वागत किया। प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि लोगों को इसका सम्मान एवं स्वागत करना चाहिए।

गहलोत ने लोगों से ऐसे मौके पर शांति एवं सौहार्द बनाए रखने की अपील की। उन्होंने कहा कि वह न्यायालय के फैसले का सम्मान और स्वागत करते है, कांग्रेस की सोच रही है कि देश मिलजुलकर रहें, सौहार्द बना रहे, यह हमारी संस्कृति रही है।

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने इस फैसले को ऐतिहासिक निर्णय बताते हुए इसका स्वागत किया हैं। उन्होंने कहा कि यह फैसला भारत के सामाजिक ताने-बाने और सामुदायिक संबंधों को मजबूत करने में एक लंबा रास्ता तय करेगा।

राजस्थान विधानसभा में विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया ने भी इसका स्वागत करते हुए कहा कि उन्हें पूरा विश्वास है कि न्यायालय द्वारा दिया गया यह ऐतिहासिक फैसला अपने आप में एक मील का पत्थर साबित होगा और यह निर्णय भारत की एकता, अखंडता और महान संस्कृति को और बल प्रदान करेगा।

इसी तरह भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने भी सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का स्वागत किया है। विश्व विख्यात सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह के दीवान जैनुअल आबेदीन ने भी अयोध्या विवाद पर आये सुप्रीम कोर्ट के के फैसले का स्वागत करते हुए इसे देश हित में बताया है।

आबेदीन ने कहा कि यह हिन्दुस्तान के दुश्मनों पर तमाचा है जो लोग इस मुद्दे को बेवजह विवाद खड़ा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सभी समुदाय का कर्तव्य बनता है कि न्यायालय के फैसले को स्वीकार करते हुए शांति एवं सद्भाव एवं भाईचारा बनाये रखना चाहिए। इसी प्रकार देश-प्रदेश के सभी स्थानों पर लोगों ने इस फैसले का स्वागत किया है।