Dainik Navajyoti Logo
Friday 15th of November 2019
 
दुनिया

ट्विटर के पूर्व कर्मचारियों पर सउदी के लिए जासूसी करने का आरोप, तीन गिरफ्तार

Thursday, November 07, 2019 16:10 PM
प्रतीकात्मक तस्वीर।

वाशिंगटन। अमेरिका में ट्विटर के पूर्व कर्मचारियों को सऊदी अरब के लिए जासूसी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। ये लोग कंपनी के असंतुष्ट कर्मचारियों से सूचना लेकर सऊदी अरब भेजा करते थे। जिन पर आरोप लगाए गए, उनके नाम अली अलजबरा, अहमद अबाउमो और अहमद अलमुतैरी हैं। वकील ने बताया कि तीनों ने उन ट्विटर यूजर्स की निजी जानकारी निकालने का प्रयास किया, जो सऊदी सरकार और शाही परिवार के आलोचक थे। अमेरिका का कानून किसी भी कंपनी को बाहरी दखलंदाजी से सुरक्षा प्रदान करता है। हम अमेरिकी कंपनियों में किसी बाहरी दखल की अनुमति नहीं दे सकते।

जानकारी के अनुसार आरोपियों को बुधवार को सेन फ्रांसिस्को फेडरल कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट में दायर आरोप पत्र के मुताबिक तीनों लोग कथित रूप से एक सऊदी अफसर के लिए काम कर रहे थे। वकीलों ने इस अफसर को शाही परिवार से जुड़ा बताया। ट्विटर के पूर्व कर्मचारी अहमद अबाउमो पर तीन ग्राहकों के खातों पर जासूसी करने का आरोप है। जिनमें से एक के पोस्ट में सऊदी सरकार की ओर से इसके नेतृत्व के आंतरिक कामकाज पर चर्चा की गई है। अबाउमो पर एफबीआई जांच में बाधा डालने के लिए भ्रमित करने का भी आरोप है।

अदालती दस्तावेजों के मुताबिक इस कृत्य में फंसे लोगों में से एक सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान का सहयोगी है। सीआईए जांच के अनुसार सऊदी क्राउन प्रिंस ने ही पिछले साल इस्तांबुल में पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या का आदेश दिया था। खगोशी की हत्या के बाद से अमेरिका और सऊदी के संबंध तनावपूर्ण हो गए थे।