Dainik Navajyoti Logo
Friday 15th of November 2019
 
दुनिया

पाकिस्तान में नम्रता की हत्या से पहले हुआ दुष्कर्म, अंतिम पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा

Thursday, November 07, 2019 14:35 PM
नम्रता मीरचंदानी (फाइल फोटो)

कराची। पाकिस्तान के बीबी आसीफा डेंटल कॉलेज (बीएडीसी) में अंतिम वर्ष की भारतीय मूल की छात्रा नम्रता कुमारी की रहस्मयी मौत का खुलासा करते हुए चांदका मेडिकल कॉलेज अस्पताल (सीएमसीएच) की ओर से जारी अंतिम पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में हत्या से पहले यौन शोषण की बात कही गई है। सीएमसीएच की महिला मेडिको-लीगल ऑफिसर डॉ. अमृता के मुताबिक नम्रता की मौत दम घुटने से हुई थी। पोस्टमार्टम के दौरान मृतका की गर्दन पर निशान पाए गए।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार गले पर पाए गए निशान भी जानकारी के साथ मेल खाती हैं। इस तरह के संकेत या तो गला घोटने या फांसी लगाने से उत्पन्न होते हैं और जांच अधिकारियों द्वारा अपराध स्थल से एकत्र परिस्थितिजन्य साक्ष्यों से मिलाकर इसका पता लगाया जाता है। डीएनए परीक्षण में भी मृतका के कपड़ों पर पुरुष वीर्य की पुष्टि हुई है जबकि एक अन्य जांच में नम्रता के साथ जबरन दुष्कर्म किए जाने की पुष्टि की गई।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने मृतका के भाई डॉ. विशाल के उस दावे की भी पुष्टि कर दी जिसमें उन्होंने अपनी बहन की हत्या किए जाने का दावा करते हुए कहा था कि वह कभी भी अवसाद मे नहीं थी और न ही आत्महत्या करने जैसा कदम उठा सकती थी। पुलिस जांच से पहले लरकाना शहीद मोहतर्मा बेनजीर भुट्टो मेडिकल यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ. अनीला अत्ता उर रहमान ने दावा किया था कि मेडिकल छात्रा ने आत्महत्या की थी।

गौरतलब है कि नम्रता अपने छात्रावास के कमरे में गत 16 सितंबर को रहस्मय परिस्थितियों में पंखे से लटकी पाई गई थी। नम्रता की मौत के चलते विरोध प्रदर्शनों के बाद सिंध सरकार ने इस मामले की न्यायिक जांच के आदेश दिए थे। सिंध हाईकोर्ट के निर्देशों पर लरकाना जिला और सत्र न्यायाधीश की ओर हत्या की जांच अभी भी जारी है।