Dainik Navajyoti Logo
Thursday 21st of November 2019
 
दुनिया

ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री कार्यालय ने गोपनीय दस्तावेज गलती से पत्रकारों को भेजे

Monday, October 14, 2019 14:35 PM
आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन (फाइल फोटो)

सिडनी। ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा सत्तारूढ़ पार्टी लिबरल और गठबंधन नैशनल पार्टी के सांसदों की बजाय पत्रकारों को गलती से कुछ गोपनीय दस्तावेज भेज दिए जाने का मामला सामने आया है। प्रधानमंत्री कार्यालय को सरकार बनाने में शामिल सांसदों को चर्चा विषय संबंधी गोपनीय दस्तावेज भेजने थे, जो गलती से पत्रकारों और देशभर के मीडिया प्रतिष्ठानों को चले गए।

इन अहम गोपनीय दस्तावेजों में पत्रकारों और विपक्षी पार्टीयों द्वारा उठाये जा सकते कड़े सवालों का जवाब देने के लिए सांसदों को बिंदू सुझाए गए थे। दस्तावेजों में अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की जलवायु परिवर्तन रिपोर्ट के ऑस्ट्रेलिया 2030 के लक्ष्य को पूरा नहीं करने पाने के दावे संबंधी सवालों को लेकर जवाब देने के लिए कुछ बिंदू तैयार किये गए है।

दस्तावेजों में पिछले पांच वर्षों के दौरान कर्मचारियों के शोषण को लेकर सवालों के मद्देनजर भी सुझाव दिए गए है। दस्तावेज में कहा गया है कि अगर इस संबंध में सवाल किए जाए तो सांसदों को कहना है कि किसी भी कर्मचारी के साथ शोषण सरकार बिलकुल बर्दाश्त नहीं करेगी और इसके खिलाफ सरकार की जीरो टोलेरेंस की नीति है।

इस पूरे मामले को लेकर प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने फिलहाल चुप्पी साध रखी है और अभी तक कोई टिपण्णी नहीं की है। अटार्नी जनरल क्रिस्चियन पोर्टर ने इस मामले पर टिपण्णी करते हुए कहा कि यह राजनीति का आधुनिक दौर है।