Dainik Navajyoti Logo
Friday 28th of February 2020
 
भारत

चांद की कक्षा में दाखिल हुआ चंद्रयान-2, चांद की सतह पर पहुंचेगा 7 सितंबर को

Monday, August 19, 2019 16:45 PM
प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते इसरो के चेयरमैन के. सिवन।

चेन्नई। भारतीय अंतरिक्ष यान चंद्रयान-2 के मंगलवार को चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश करने के साथ ही भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने एक और मील का पत्थर स्थापित कर दिया। चंद्रयान-2 का प्रक्षेपण 22 जुलाई को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक केंद्र से किया गया था। चंद्रयान-2 सात सितंबर को चंद्रमा के 'साउथ पोल' में सात सितंबर को उतरेगा।  इसरो ने बताया कि चंद्रयान-2 आज सुबह नौ बजकर दो मिनट पर सफलतापूर्वक चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश कर गया। प्रक्षेपण के 29 दिनों के बाद चंद्रयान-2 ने चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश किया है।

इसरो के अध्यक्ष डॉ. के. शिवन ने चंद्रयान-2 के चंद्रमा के कक्ष में प्रवेश करने की प्रक्रिया को मुश्किल करार देते हुए मंगलवार को कहा कि यह 30 मिनट का तनावपूर्ण अभियान था। शिवन ने कहा कि यह 30 मिनट का तनावपूर्ण अभियान था। उन्होंने कहा कि वह काफी तनाव में और चिंतित थे, लेकिन अंतरिक्ष यान के सफलतापूर्वक चंद्रमा के कक्ष में प्रवेश से बड़ी राहत और खुशी हुई है।

इसरो के लगभग 200 वैज्ञानिक श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से 22 जुलाई को प्रक्षेपित हुए चंद्रयान-2 की गतिविधियों पर नजर रख रहे हैं। चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश के साथ ही इस अंतरिक्ष यान का चंद्रमा के 'साउथ पोल' में स्थापित होने के लिए मुश्किल सफर शुरू हो गया। दुनिया के किसी देश ने चंद्रमा के 'साउथ पोल' में अपना अंतरिक्ष यान स्थापित नहीं किया है। 

चंद्रयान के चंद्रमा के कक्ष में प्रवेश करने के बाद इसरो ने ट्वीट कर कहा कि हमारी मंजिल करीब है। चंद्रयान-2 चंद्रमा की कक्ष में प्रवेश कर गया। लैंडर (विक्रम) अब सात सितंबर को चंद्रमा की नरम भूमि पर उतरेगा। चंद्रयान-2 ने चंद्रमा के कक्ष में प्रवेश के साथ ही 22 जुलाई सफल परीक्षण के बाद से 48 दिनों में 3.844 लाख किलोमीटर की दूरी तय कर ली है।  करीब 3850 किलोग्राम वजनी चंद्रयान 13 भारतीय अंतरिक्ष उपकरण (आठ कृत्रिम उपग्रह, तीन लैंडर और दो रोवर) और नासा का एक निष्क्रिय प्रयोग को लेकर जा रहा है।

तकनीकी कठिनाइयों की वजह से चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरने के कई प्रयास विफल हो गये हैं। भारत के राष्ट्र ध्वज को लेकर जा रहा चंद्रचान -2 चंद्रमा के 'दक्षिणी ध्रुव' उतरने वाले दुनिया का पहला अंतरिक्ष यान होगा। इससे पहले यहां कोई भी मानव नहीं पहुंचा है।

पीएम मोदी ने इसरो को दी बधाई
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चंद्रयान-2 के चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश करने पर भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) को बधाई दी और कहा कि चांद की ऐतिहासिक यात्रा  में यह एक महत्वपूर्ण कदम है। मोदी ने ट्वीट किया कि चंद्रयान-2 के चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश पर टीम इसरो को बधाई। इस सफलता के लिए शुभकामनाएं।

यह भी पढ़ें:

हलवाई को बतानी होगी मिठाई की एक्सपायरी डेट

मिठाई की दुकानों पर मिलने वाले खाने-पीने के सामान की क्वालिटी को लेकर सरकार अब सख्त हो गई है।

26/02/2020

विस्थापित कश्मीरियों के लिए मोदी कैबिनेट का बड़ा ऐलान, प्रत्येक परिवार को मिलेंगे 5.5 लाख

देश के विभाजन के बाद पाकिस्तान से विस्थापित हुए 5300 परिवारों को मोदी कैबिनेट ने राहत देने का ऐलान किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में इन परिवारों को साढ़े पांच लाख रुपए की केंद्रीय मदद को निर्णय लिया गया।

10/10/2019

भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष नड्‌डा ने पूर्व क्रिकेटर राहुल द्रविड़ से की मुलाकात

भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्‌डा ने पूर्व भारतीय क्रिकेटर राहुल द्रविड़ और चंद्रशेखर कांबड़ा से पार्टी के 'संपर्क से समर्थन' अभियान के तहत मुलाकात की।

22/09/2019

PM नरेन्द्र मोदी ने की भाजपा के राष्ट्रीय सदस्यता अभियान की शुरुआत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़े संकल्प एवं लक्ष्य के साथ देश को आगे बढ़ाने पर जोर देते हुए कहा कि जनभागिदारी से भारत अगले पांच वर्षों में पांच ट्रिलियन डॉलर इकॉनॉमी वाला देश बनेगा।

06/07/2019

सभी को मिलकर अर्थव्यवस्था को गति देने की जरूरत: निर्मला सीतारमण

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सभी को मिलकर अर्थव्यवस्था को गति देने की जरूरत बताते हुये कहा कि बजट के माध्यम से सरकार इसके लिए सुविधा प्रदाता और बुनियादी ढांचों के माध्यम से संपदा निर्माता की भूमिका निभा रही है।

02/02/2020

सभी को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिले, यही हमारी कोशिश : कमलनाथ

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इंदौर जिले के ग्राम निपानिया में संजीवनी क्लीनिक का शुभारम्भ करते हुए कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं के क्षेत्र में अनेक चुनौतिया हैं। इसके बावजूद हमारी कोशिश है कि सभी को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिले।

09/12/2019

सरकार को टुकड़े गैंग की नहीं जानकारी

सरकार ने कहा है देश के किसी भी हिस्से में किसी टुकड़े टुकड़े गैंग नामक कोई संगठन नहीं है और इस बारे में कोई जानकारी नहीं है।

11/02/2020