Dainik Navajyoti Logo
Monday 10th of May 2021
 
भारत

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री का आरोप, कहा- केंद्र ने यूपी-एमपी को दी 48-40 लाख डोज, हमें सिर्फ 17 लाख

Thursday, April 08, 2021 14:25 PM
राजेश टोपे ने केंद्र पर वैक्सीन सप्लाई में भेदभाव का लगाया आरोप।

मुंबई। कोरोना वैक्सीन को लेकर केंद्र और महाराष्ट्र सरकार के बीच टकराव बढ़ता जा रहा है। महाराष्ट्र सरकार ने वैक्सीन वितरण में भेदभाव का आरोप लगाया है। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने आरोप लगाया कि हमें इस हफ्ते में सिर्फ 17 लाख कोरोना वैक्सीन की डोज मिली है, जबकि उत्तर प्रदेश को 48 लाख, एमपी को 40 लाख और गुजरात को 30 लाख वैक्सीन डोज दी गई। टोपे ने कहा कि हम हर हफ्ते कम से कम 40 लाख वैक्सीन डोज चाहते हैं। अन्य देशों को टीके की आपूर्ति करने के बजाए केंद्र को अपने राज्यों में आपूर्ति करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि केंद्र हमारी मदद कर रहा है लेकिन यह हमें उस तरह से मदद नहीं कर रहा है जैसे करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र की आबादी 12 करोड़ है, जबकि गुजरात की आबादी इसकी आधी यानि 6 करोड़ है, लेकिन गुजरात को अब तक 1 करोड़ डोज मिले हैं और महाराष्ट्र को 1.4 करोड़ वैक्सीन डोज मिले हैं।

उन्होंने कहा कि मैंने और शरद पवार ने वैक्सीन को लेकर भेदभाव किए जाने के मु्द्दे पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन से बात की है, हमारे पास सबसे अधिक संख्या में सक्रिय मरीज़, पॉजिटिविटि रेट है तो हमें इतनी कम वैक्सीन क्यों दी जाती हैं। उन्होंने मुझे आश्वासन दिया कि इसमें जल्द ही सुधार होगा। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि हर हफ्ते 40 लाख वैक्सीन डोज मिलें, क्योंकि हम हर दिन 6 लाख लोगों का टीकाकरण कर रहे हैं। वैक्सीनेशन में उम्र सीमा को खत्म करने की मांग करते हुए टोपे ने कहा कि अमेरिका जैसे देश में कोरोना वैक्सीनेशन की उम्र 18 साल से ऊपर है। इसी उम्र से अधिक लोग अधिकतर समय बाहर रहते हैं, ऐसे में इन लोगों को वैक्सीन लगाना बहुत जरूरी है, हमने केंद्र से उम्र सीमा को हटाने की मांग की है।

राजेश टोपे ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा वैक्सीन को लेकर जारी किए गए नए आदेश के अनुसार महाराष्ट्र को केवल 7.5 लाख वैक्सीन दी गई हैं, जबकि उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात, हरियाणा आदि को महाराष्ट्र की तुलना में कहीं अधिक वैक्सीन दी गई हैं। मुझे अभी बताया गया कि केंद्र ने महाराष्ट्र को कोरोना वैक्सीन की खुराक 7 लाख से बढ़ाकर 17 लाख कर दी है। यह भी कम है क्योंकि हमें एक सप्ताह में 40 लाख वैक्सीन की जरूरत है और 17 लाख खुराकें पर्याप्त नहीं हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के साथ बैठक में हम रेमेडिसविअर की आपूर्ति और मूल्य नियंत्रण, आस-पास के राज्यों से ऑक्सीजन की आपूर्ति, वैक्सीन की खुराक और वेंटिलेटर ऑपरेशनल सपोर्ट के मुद्दों को उठाएंगे।

यह भी पढ़ें:

मोदी के शपथ ग्रहण समारोह की तैयारियां पूरी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल के लिए गुरुवार को राष्ट्रपति भवन में शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन होगा, जिसमें मोदी अपने नए मंत्रिपरिषद के साथ शपथ लेंगे।

30/05/2019

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने लोकसभा स्पीकर ओम बिरला से की मुलाकात

खट्‌टर ने बिरला को गुलदस्ता भेंट कर अभिवादन हुआ, दोनों के बीच काफी देर बातचीत हुई।

22/11/2019

कन्हैया के खिलाफ देशद्रोह मामले पर बोले चिदंबरम, दिल्ली सरकार को कानून की समझ नहीं

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार और 9 अन्य के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा चलाने की मंजूरी देने के लिए दिल्ली सरकार पर हमला बोला। चिदंबरम ने कहा कि केजरीवाल सरकार देशद्रोह कानून को गलत तरीके से समझने के मामले में केंद्र सरकार से कम नहीं है।

29/02/2020

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने नकारे यौन उत्पीड़न के आरोप

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के खिलाफ एक महिला की ओर से लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोपों को लेकर सुप्रीम कोर्ट में विशेष सुनवाई हुई।

20/04/2019

घाटी में घनघनाई मोबाइल की घंटियां

जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को हटाने और राज्य को दो केन्द्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने संबंधी केन्द्र सरकार के निर्णय के 10 सप्ताह बाद पोस्टपेड मोबाइल फोन सेवाएं बहाल कर दी गई।

15/10/2019

उत्तर प्रदेश के 5 शहरों में अभी नहीं लगेगा लॉकडाउन, हाईकोर्ट के आदेश पर सुप्रीम कोर्ट की रोक

यूपी सरकार ने इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी। सरकार ने हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ याचिका दाखिल की है। याचिका में मांग की है कि हाईकोर्ट के आदेश पर रोक लगाई जांए।

20/04/2021

शरद कालस्कर ने डॉ. नरेंद्र दाभोलकर की हत्या करना कबूला: सीबीआई

सीबीआई ने समाजसेवी डॉ. नरेंद्र दाभोलकर की हत्या के मामले में खुलासा करते हुए कहा कि शरद कालस्कर ने की है। सीबीआई ने कहा कि शरद कालस्कर फोरेंसिक मनोवैज्ञानिक विश्लेषण परीक्षण के दौरान दाभोलकर की हत्या करने की बात कबूल की है।

27/06/2019