Dainik Navajyoti Logo
Sunday 7th of June 2020
 
भारत

मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने दिया इस्तीफा, महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन के आसार

Friday, November 08, 2019 16:35 PM
राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को इस्तीफा सौंपते मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। फडणवीस ने मुंबई स्थित राजभवन पहुंचकर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात कर उन्हें इस्तीफा सौंपा। इस दौरान फडणवीस के साथ भाजपा के वरिष्ठ नेताओं का प्रतिनिधिमंडल भी थी।

इस्तीफा सौंपने के बाद फडणवीस ने प्रेंस कांफ्रेंस में कहा कि चुनाव में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनी, भाजपा की जीत की दर 70 प्रतिशत रही, उम्मीद से कम सीटें भाजपा को मिली, काम के आधार पर जनता ने एनडीए को चुना, तो हम गठबंधन सरकार बनाने के पक्ष में थे। 

उन्होंने कहा कि ढाई-ढाई साल मुख्यमंत्री पद को लेकर चुनाव से पहले कोई बात नहीं हुई थी, उद्धव ठाकरे के इस बयान से मैं हैरान था। जीतने के बाद उद्धव ने कहा था कि सरकार बनाने के सारे विकल्प खुले हैं, हम हमेशा गठबंधन सरकार के पक्ष में थे, मुझे पांच साल महाराष्ट्र की सेवा करने का सौभाग्य मिला, पारदर्शिता के साथ हमने सरकार चलाई इसके लिए महाराष्ट्र की जनता को धन्यवाद देता हूं।

फडणवीस ने कहा कि जब शिवसेना ने चुनाव हमारे साथ मिलकर लड़ा और जीता तो फिर एनसीपी व कांग्रेस से चर्चा क्यों की जा रही है। शिवसेना ने सरकार बनाने को लेकर हमसे चर्चा नहीं की मैंने बाला साहेब और उद्धव ठाकरे के खिलाफ कोई बयान नहीं दिया, लेकिन शिवसेना के मुखपत्र सामना में हमारे नेता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ खूब छापा गया।  मीडिया में बयान देने से सरकारें नहीं चलती हैं। उद्धव के करीबी लोग अलग-अलग बयानबाजी कर कर रहे हैं, हमारे नेता मोदी व पार्टी के खिलाफ शिवेसना ने बयान दिए, ऐसे सख्त बयान हम भी दे सकते थे, लेकिन हम बाला साहेब का सम्मान करते हैं, इसलिए हमने ऐसे बयान नहीं दिए।

विधायकों के खरीद-फरोख्त की कांग्रेस की बातें निराधार हैं, इसको लेकर कांग्रेस आरोप साबित करे नहीं तो माफी मांगे, प्रदेश में महायुति की सरकार ना बनना जनादेश का अपमान होहा, कोई भी राजनीतिक पार्टी हमारी दुश्मन नहीं, राजनीतिक पार्टियों से हमारे वैचारिक मतभेद हैं।

 

बता दें कि पिछलेे कई दिनों से महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर मशक्कत चल रही थी, लेकिन शिवसेना ने भाजपा से 50-50 फॉर्मूले पर लिखित में आश्वासन मिलने पर समर्थन देने की बात कही। वहीं भाजपा का कहना है कि ऐसे किसी फॉर्मूले पर बात नहीं हुई और ना ही हम किसी ऐसे फॉर्मूले से सरकार बनाने चाहते हैं।

यह भी पढ़ें:

अंतरिक्ष विभाग के बजट में 2.59% की वृद्धि, नागरिक उड्डयन मंत्रालय के लिए 3,798 करोड़ रुपए का बजट

सरकार ने वित्त वर्ष 2020-21 के बजट में अंतरिक्ष विभाग के लिए 13,479.47 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है। चालू वित्त वर्ष के संशोधित अनुमान में अंतरिक्ष विभाग के लिए मात्र 2.59 प्रतिशत की वृद्धि की गई है।

01/02/2020

जरूरत से अधिक योग्यता होने पर महिला को नहीं मिली नौकरी, हाईकोर्ट ने फैसला रखा बरकरार

चेन्नई मेट्रो ने नौकरी के लिए एक महिला का आवेदन जरूरत से अधिक योग्यता होने पर खारिज कर दिया। महिला ने चेन्नई मेट्रो के इस फैसले को मद्रास हाईकोर्ट में चुनौती दी, लेकिन हाईकोर्ट ने भी इस फैसले को बरकरार रखा।

12/07/2019

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दौरे के खर्च को लेकर कांग्रेस ने उठाए सवाल, भाजपा का पलटवार

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे को लेकर राजनीति शुरू हो गई है। दौरे पर सवाल खड़े करने पर बीजेपी ने कांग्रेस पर हमला बोला है। बीजेपी ने कहा है कि जब भी भारत खुश होता है तो कांग्रेस पार्टी दुखी क्यों होती है।

22/02/2020

केरल के अल्पसंख्यक कॉलेज में चेहरा ढकने पर प्रतिबंध

केरल के एक मुस्लिम कॉलेज ने छात्राओं के चेहरा ढकने पर रोक लगा दी है। मुस्लिम एजुकेशन सोसायटी ने कॉलेज में छात्राओं के चेहरा ढकने और बुर्का पहनने को लेकर सर्कुलर जारी किया है।

02/05/2019

रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली संविधान पीठ में होने वाली सुनवाईयां स्थगित

उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने अपनी ही एक पूर्व कर्मचारी के उनपर लगाये गये यौन शोषण के आरोपों के बीच उनकी अध्यक्षता वाली

23/04/2019

कमलनाथ ने कर्जमाफी को लेकर शिवराज को लिखा पत्र

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कर्जमाफी के मुद्दे पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर कहा है कि आचार संहिता खत्म होते ही राज्य सरकार शेष किसानों के कर्जमाफ करेगी।

22/05/2019

2014 की तुलना में भाजपा को इस बार अधिक सीटें मिलेंगी: राजनाथ सिंह

भारतीय जनता पार्टी के पूर्व अध्यक्ष एवं केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर फिर से की गयीं अभद्र टिप्पणियों पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से सवाल किया कि क्या वह इस बार अय्यर के विचारों से सहमत हैं।

14/05/2019