Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 3rd of June 2020
 
भारत

महाराष्ट्र में राजनीतिक उठापटक के बीच बैठकों का दौर, शिवसेना ने शिफ्ट किए अपने विधायक

Friday, November 08, 2019 14:45 PM
मीडिया से बात करते हुए बीजेपी नेता सुधीर मुनगंटीवार।

मुंबई। महाराष्ट्र की राजनीति में उठापटक का दौर जारी है। विधानसभा का कार्यकाल शनिवार को खत्म हो रहा है, मगर अबतक तय नहीं हो पाया है कि सरकार कौन बनाएगा। एक तरफ शिवसेना 50-50 फॉर्मूले के तहत सीएम पद पर अड़ी है, दूसरी ओर बीजेपी सीएम पद बांटना नहीं चाहती है। सरकार गठन को लेकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के घर पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता और मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले, विनोद तावड़े, सुभाष देशमुख, संभाजी निलंगेकर-पाटिल बैठक कर रहे हैं।

उधर मौजूदा सियासी हालात पर शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की पार्टी नेताओं के साथ बैठक चल रही है। सेना भवन में हो रही बैठक में बीजेपी के साथ गठबंधन पर भी फैसला लिया जा सकता है। सूत्रों का कहना है कि अगर बीजेपी से मामला नहीं सुलझता है तो शिवसेना गठबंधन को तोड़ देगी। इस बीच शिवसेना ने अपने विधायकों को होटल रंगशारदा से दूसरे होटल में शिफ्ट करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है, हालांकि, अभी साफ नहीं है कि विधायकों को कहां शिफ्ट किया जाएगा।

इससे पहले शिवसेना नेता संजय राउत ने ट्वीट में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की लिखी कविता की पंक्तियां उद्धृत करते हुए शुक्रवार को फिर से भाजपा पर निशाना साधा। राउत ने पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी की कविता को उद्धृत करते हुए लिखा कि आग्नेय परीक्षा की इस घड़ी में आइए हम अर्जुन की तरह दो प्रतिज्ञा लेते हैं, दीनता स्वीकार न करें और चुनौतियों से कभी भागे नहीं। शिवसेना नेता ने इससे पहले गुरुवार को कहा था कि महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की स्थितियां पैदा की जा रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा और शिवसेना के बीच लोकसभा चुनाव के दौरान जो सहमति बनी थी, उसके अनुसार हम 50-50 फार्मूला के तहत ढाई वर्ष के लिए शिवसेना का मुख्यमंत्री बनाने की मांग कर रहे हैं।

शिवसेना के बाद कांग्रेस ने भाजपा पर कांग्रेस विधायकों को खरीदने की कोशिश का आरोप लगाया है। महाराष्ट्र में कांग्रेस नेता नितिन राउत ने कहा कि भाजपा के कुछ नेताओं ने पैसे के साथ कांग्रेस के कुछ विधायकों से संपर्क साधा है। कल हमारे एक या दो विधायकों को करीब 25 करोड़ का ऑफर किया गया। कांग्रेस के आरोपों को बीजेपी नेता सुधीर मुनगंटीवार ने निराधार बताया है, उन्होंने कहा कि कांग्रेस और एनसीपी ने खरीद-फरोख्त के आरोप लगाए हैं, उन्हें 48 घंटे के भीतर इस आरोप को साबित करना चाहिए या महाराष्ट्र के लोगों से माफी मांगनी चाहिए।

यह भी पढ़ें:

महाराष्ट्र, गुजरात में 3 जून तक चक्रवाती तूफान दे सकता है दस्तक

अरब सागर और लक्षद्वीप के ऊपर निम्न दाब का क्षेत्र बनने के कारण चक्रवाती तूफान के आने और इसके 3 जून तक महाराष्ट्र एवं गुजरात के तटीय इलाकों में दस्तक देने की आशंका है।

01/06/2020

छत्तीसगढ़ के वकील ने सुप्रीम कोर्ट में एफिडेविट दाखिल कर बताया राम का वंशज

सुप्रीम कोर्ट में छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट के वकील हनुमान प्रसाद अग्रवाल ने एफिडेविट दाखिल क या है, जिसमें दावा किया गया है कि वे भगवान राम के वंशज हैं।

23/08/2019

भारत में 25 लोग कोरोना वायरस की चपेट में, 14 विदेशी पर्यटकों और 1 भारतीय की रिपोर्ट पॉजिटिव

चीन के वुहान से शुरू हुए जानलेवा कोरोना वायरस ने दुनियाभर में कोहराम मचा दिया है। भारत में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 25 तक पहुंच गया है। भारत में इटली से आए 17 पर्यटकों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

04/03/2020

जस्टिस कुरैशी मामले में कॉलेजियम ने लिया फैसला, कोर्ट वेबसाइट पर होगा अपलोड

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को कहा कि उसने बॉम्बे हाईकोर्ट के न्यायाधीश अकील कुरैशी को मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के रूप में नियुक्ति के मामले निर्णय ले लिया है और इस बाबत कोर्ट की वेबसाइट पर एक-दो दिन में निर्णय अपलोड कर दिया जाएगा।

16/09/2019

कोरोना वायरस: संकट के बीच सुबह 9 बजे देश को फिर संबोधित करेंगे पीएम मोदी

दुनियाभर में कोरोना वायरस ने तबाही मचा रखी है। ज्यादातर देशों में लॉकडाउन की स्थिति है। भारत में भी 14 अप्रैल तक लॉकडाउन किया गया है। देश में जारी कोरोना संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार की सुबह 9 बजे एक बार फिर राष्ट्र को संबोधित करेंगे।

02/04/2020

कविथा ने किया अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में पवेलियन का उद्घाटन

नई दिल्ली के प्रगति मैदान में आगामी 14 से 27 नवम्बर तक चलने वाले 39वें अन्तर्राष्ट्रीय व्यापार मेला-2019 में बनाए गए राजस्थान पवेलियन का उद्घाटन राजस्थान की नई दिल्ली में आवासीय आयुक्त टीजे कविथा ने किया।

14/11/2019

अपने हिसाब से बदलाव चाहते हैं राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भले ही अब भी अपने इस्तीफे पर अड़े हुए हैं। लेकिन असल में उनकी इच्छा है कि वह पार्टी संगठन में बदलाव अपनी जरुरत के हिसाब से कर सकें।

30/05/2019