Dainik Navajyoti Logo
Thursday 14th of November 2019
 
भारत

महाराष्ट्र में राजनीतिक उठापटक के बीच बैठकों का दौर, शिवसेना ने शिफ्ट किए अपने विधायक

Friday, November 08, 2019 14:45 PM
मीडिया से बात करते हुए बीजेपी नेता सुधीर मुनगंटीवार।

मुंबई। महाराष्ट्र की राजनीति में उठापटक का दौर जारी है। विधानसभा का कार्यकाल शनिवार को खत्म हो रहा है, मगर अबतक तय नहीं हो पाया है कि सरकार कौन बनाएगा। एक तरफ शिवसेना 50-50 फॉर्मूले के तहत सीएम पद पर अड़ी है, दूसरी ओर बीजेपी सीएम पद बांटना नहीं चाहती है। सरकार गठन को लेकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के घर पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता और मंत्री चंद्रशेखर बावनकुले, विनोद तावड़े, सुभाष देशमुख, संभाजी निलंगेकर-पाटिल बैठक कर रहे हैं।

उधर मौजूदा सियासी हालात पर शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की पार्टी नेताओं के साथ बैठक चल रही है। सेना भवन में हो रही बैठक में बीजेपी के साथ गठबंधन पर भी फैसला लिया जा सकता है। सूत्रों का कहना है कि अगर बीजेपी से मामला नहीं सुलझता है तो शिवसेना गठबंधन को तोड़ देगी। इस बीच शिवसेना ने अपने विधायकों को होटल रंगशारदा से दूसरे होटल में शिफ्ट करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है, हालांकि, अभी साफ नहीं है कि विधायकों को कहां शिफ्ट किया जाएगा।

इससे पहले शिवसेना नेता संजय राउत ने ट्वीट में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की लिखी कविता की पंक्तियां उद्धृत करते हुए शुक्रवार को फिर से भाजपा पर निशाना साधा। राउत ने पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी की कविता को उद्धृत करते हुए लिखा कि आग्नेय परीक्षा की इस घड़ी में आइए हम अर्जुन की तरह दो प्रतिज्ञा लेते हैं, दीनता स्वीकार न करें और चुनौतियों से कभी भागे नहीं। शिवसेना नेता ने इससे पहले गुरुवार को कहा था कि महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की स्थितियां पैदा की जा रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा और शिवसेना के बीच लोकसभा चुनाव के दौरान जो सहमति बनी थी, उसके अनुसार हम 50-50 फार्मूला के तहत ढाई वर्ष के लिए शिवसेना का मुख्यमंत्री बनाने की मांग कर रहे हैं।

शिवसेना के बाद कांग्रेस ने भाजपा पर कांग्रेस विधायकों को खरीदने की कोशिश का आरोप लगाया है। महाराष्ट्र में कांग्रेस नेता नितिन राउत ने कहा कि भाजपा के कुछ नेताओं ने पैसे के साथ कांग्रेस के कुछ विधायकों से संपर्क साधा है। कल हमारे एक या दो विधायकों को करीब 25 करोड़ का ऑफर किया गया। कांग्रेस के आरोपों को बीजेपी नेता सुधीर मुनगंटीवार ने निराधार बताया है, उन्होंने कहा कि कांग्रेस और एनसीपी ने खरीद-फरोख्त के आरोप लगाए हैं, उन्हें 48 घंटे के भीतर इस आरोप को साबित करना चाहिए या महाराष्ट्र के लोगों से माफी मांगनी चाहिए।