Dainik Navajyoti Logo
Sunday 19th of January 2020
 
खास खबरें

एक कॉल पर मोबाइल वैन घर पहुंचाएगी पौधे, जयपुर से शुरुआत

Thursday, August 08, 2019 16:40 PM
पौधरोपण करते हुए वन मंत्री सुखराम विश्नोई

जयपुर। बरसात के मौसम में लोग घरों, स्कूलों, पार्कों सहित विभिन्न सार्वजनिक स्थानों में पौधे लगाए जा रहे हैं। जयपुर में विभिन्न संस्थाओं की ओर से भी पौधरोपण कार्य किया जा रहा है, ताकि लोगों में इस कार्य के प्रति जागरुकता पैदा की जा सके। इसके अतिरिक्त प्रदेश में पहली बार मोबाइल वैन की शुरूआत जयपुर से की गई है। इसके तहत अगर किसी व्यक्ति को पौधों की आवश्यकता है तो वे डिविजनल ऑफिस के फोन नम्बर पर कॉल कर पौधे मंगवा सकते हैं। नर्सरी पर लगाई गई रेट लिस्ट के हिसाब से ही लोगों से पौधों के पैसे लिए जाएंगे।

मोबाइल वैन की शुरूआत होने से व्यक्ति अब घर बैठे ही एक कॉल कर अपने मनपसंद के पौधे मंगवा सकेंगे। वनमंत्री सुखराम विश्नोई ने बुधवार को झालाना वन क्षेत्र से मोबाइल वैन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर मंत्री विश्नोई ने झालाना स्थित कालक्या माता मंदिर परिसर में 11 पौधे लगाए। उन्होंने वन विभाग के स्टाफ और उपस्थित लोगों को ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाने, उनकी देखभाल करने की शपथ दिलाई। इस दौरान लोगों को 151 पौधे वितरित भी किए गए।

इस अवसर पर मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक अरिन्दम तोमर, सीसीएफ जयपुर के.सी.मीणा, उप वन संरक्षक (वन्यजीव) चिड़ियाघर जयपुर सुदर्शन शर्मा, एसीएफ जगदीश गुप्ता, क्षेत्रीय वन अधिकारी जनेश्वर सिंह आदि आला अधिकारी उपस्थित थे। वन विभाग से मिली जानकारी के अनुसार मोबाइल वैन में एक हजार से अधिक पौधे रखे जा सकते हैं। ऐसे में लोग किसी कारणवश नर्सरी में नहीं जा पाते तो वे डिविजन ऑफिस में कॉल कर मोबाइल वैन से पौधे घर मंगवा सकते हैं।

यह भी पढ़ें:

जयपुर आया 'हिप्पो', देखना हो तो जाइए एग्जोटिक पार्क

एसीएफ जगदीश गुप्ता ने बताया कि दिल्ली जू से दरियाई घोड़े का जोड़ा लाया जाएगा। अभी नर हिप्पो लाया गया है, अगले हफ्ते मादा हिप्पो को भी लाया जाएगा।

13/08/2019

साइकिल वाले ने बनाई महादानियों की सेना, जो हमेशा रक्तदान के लिए रहती है तैयार

मैं अकेला ही चला था जानिब-ए-मंजिल, लोग मिलते गए और कारवां बनता गया। एक शायर का यह शेर चूरू में साइकिल की दुकान चलाने वाले अमजद तुगलक पर सटीक चरितार्थ होता नजर आ रहा है।

30/08/2019

हैप्पी फ्रेंडशिप डे: ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे...

आज के समय में मित्रता की परिभाषा बहुत भिन्न है। पहले दोस्ती होने पर ताउम्र तक निभाई जाती थी। आज की दोस्ती फायदा-नुकसान देखती है। स्वार्थ देखती है। पहले के समय में व्यक्ति सामाजिक ज्यादा था, इसलिए मित्रता को सर्वोपरि रखता था।

03/08/2019

खरगोश के बाल पर लिखा है गायत्री मंत्र

जब किसी संग्रहालय की रचना करते हैं तो उसका उद्देश्य लोगों को उस युग में ले जाना जहां से उन्हें इतिहास का दर्शन हो सके।

19/05/2019

हरियाणा चुनाव में चर्चा बटोर रहा 'छोटू रिपोर्टर'

हरियाणा में विधानसभा चुनाव होने वाले है। चुनाव में एक रिपोर्टर की काफी चर्चा हो रही है। इस बच्चे को नाम गोल्डी गोयत है।

09/10/2019

जयपुर के ये 50 कलाकार यूरोप में करेंगे ढोल वादन

अन्तरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त धोद गु्रप के निर्देशक रहीस भारती ने पहली बार परकशन का एक अनूठा कंसेप्ट बेस्ड शो तैयार किया है, जिसके लिए प्रदेश के विभिन्न शहरों में शादी-पार्टी में ढोल बजाकर जीवन यापन करने वाले पचास कलाकारों को प्रशिक्षित कर उनकी प्रतिभा का निखारा है।

22/05/2019

किसान ने बनवाया पीएम मोदी का मंदिर, 8 महीने में 1.20 लाख रुपए की लागत से तैयार

तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली जिले के ईराकुडी गांव में किसान पी शंकर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को समर्पित मंदिर का निर्माण कराया है। पी शंकर ने गरीबों और वंचितों के लिए विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को शुरू करने के लिए मोदी का आभार व्यक्त करते हुए अपनी जमीन पर इस मंदिर का निर्माण कराया है।

26/12/2019