Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 20th of November 2019
 
खास खबरें

पैलेस ऑन व्हील्स में दिखेगी परकोटे की झलक

Thursday, July 25, 2019 13:15 PM

जयपुर। अपने 37 सालों के सफर में शाही ट्रेन पैलेस आॅन व्हील्स ने देशी-विदेशी पर्यटकों को शाही सफर का अहसास कराया है। इसी का नतीजा है कि देश में चलने वाली अन्य शाही ट्रेनें महाराजा एक्सप्रेस, डेक्कन ओडिशी आदि ट्रेनों की चमक इस ट्रेन के सामने फीकी पड़ जाती है। सालों के सफर के बाद अब ट्रेन को नया लुक दिया जा रहा है। जो पहले से और ज्यादा आकर्षक लगेगा। कहा जाए तो विदेशों तक में अपनी पहचान बना चुकी ट्रेन का कलर यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज सिटी में शामिल जयपुर परकोटे का ध्यान में रखकर किया जा रहा है, जिससे हेरिटेज सिटी को ट्रेन के माध्यम से भी पहचाना जा सके। टेÑन के बाहर की तरफ टेरिकोटा रंग किया जा रहा है। जो कहीं ना कहीं गुलाबी नगरी की छटा बिखेरता हुआ दिखाई देगा।

दर्ज होगा हर सैलून का इतिहास
आरटीडीसी प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार पीओडब्लू के हर सैलूनों को भरतपुर, अलवर, बीकानेर, बूंदी, डूंगरपुर, जयपुर, झालावाड़, जैसलमेर, जोधपुर, कोटा, सिरोही आदि जिलों के नाम दिए गए हैं। इसके अतिरिक्त सैलूनों में पुराने समय के राजा-महाराजाओं के नाम, फोटो और इतिहास की जानकारी भी देखने को मिलेगी।

ट्रेन के बाहरी स्वरूप को जयपुर परकोटे की तर्ज पर रंगा जा रहा है। वहीं ट्रेन की खिड़कियों के ऊपर परकोटे की ऐतिहासिक इमारतों पर बने कंगूरों की झलक दिखाई देगी। सैलून के दरवाजों पर टरूवॉज कलर किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त ट्रेन के अंदर इंटीरियर पॉलिशिंग का काम चल रहा है। एक तरह से कहा जाए तो इस बार ट्रेन से सफर करने वाले देशी-विदेशी पर्यटकों को पैलेस आॅन व्हील्स ट्रेन का बाहरी और अंदर का स्वरूप बदला बदला सा दिखाई देगा।

सितम्बर में शुरू होगा फेरा
अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार पीओडब्लू ट्रेन का पहला फेरा 11 सितम्बर, 2019 को शुरू होगा। 2019-20 के सीजन के लिए 997 पर्यटकों की लिस्ट आई है, जिसमें से करीब 58 पर्यटकों की कर्न्फमेशन मिल चुकी है। खास बात यह है कि 2020-21 के लिए भी तकरीबन 369 केबिन्स बुक हो गए हैं। जिससे आरटीडीसी विभाग को 3 करोड़ रुपए से अधिक के राजस्व की प्राप्ति हुई है।

दूसरी ओर एक निजी कम्पनी ने विभाग को 2022 के लिए भी एडवांस बुकिंग करने के लिए रिक्वेस्ट सबमिट की है। ट्रेन की बाहरी बॉडी पर आकर्षक पेंटिंग्स बनाई जा रही है। जानकारी के अनुसार इस बार भी पर्यटकों को सालों पुराने स्टीम इंजन से कुछ किलोमीटर की सवारी कराए जाने की कोशिश की जाएगी।

परकोटे के रंगी जा रही है ट्रेन
आरटीडीसी विभाग के अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार ट्रेन में पहली बार जयपुर परकोटे की झलक देखने को मिलेगी। जयपुर शहर का परकोटा यूनेस्को की वर्ल्ड हेरिटेज सिटी में शामिल हुआ है। ऐसे में पेंटिंग्स के माध्यम से परकोटे की खूतसूरती को ट्रेन की बाहरी सजावट पर उकेरा जा रहा है। ऐसे में हमारी हेरिटेज सिटी का प्रचार-प्रसार भी होगा। दूसरी ओर देशी-विदेशी पर्यटकों को भी पहली बार ट्रेन के रंग-रोगन में जयपुर शहर के परकोटे की झलक देखने को मिलेगी।