Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 19th of November 2019
 
खास खबरें

Video: पुष्कर मेले में 15 करोड़ का 'भीम', जिसके साथ हर कोई ले रहा सेल्फी

Tuesday, November 05, 2019 10:45 AM


पुष्कर। विश्व प्रसिद्ध पुष्कर पशु मेले में आकर्षण का केन्द्र जोधपुर का भैंसा भीम है, जिसकी कीमत करीब 15 करोड़ रुपये आंकी गई है, लेकिन इसके मालिक इसे इस कीमत में भी बेचना नहीं चाहते हैं। भीम की आयु मात्र 6 साल 3 माह है।

6 फीट ऊंचाई और 14 फीट लंबाई है। भीम का वजन 1300 किलो है। भीम ने एग्रो टेक किसान मेले में युवराज भैंसे को मात देकर सुर्खिया बटोरी हैं। भीम की डाइट की बात करें तो हर महीने करीब एक लाख से ऊपर का खर्चा है। भीम पुष्कर मेले में पहुंचे साढ़े 5 हजार पशुओं में सबसे अधिक आकर्षक का केन्द्र बना हुआ है। मेले में जो भी आता है वह भीम के साथ सेल्फी लेकर ही रहता है।

देशी-विदेशी पर्यटक भीम को देखकर उसके बारे में सबकुछ जानना चाहते हैं। पर्यटकों का कहना है की भीम जैसा भैंसा उन्होंने कभी पहले नहीं देखा और धन्य है ऐसे लोग जो लाखों रुपये खर्च कर पशुओं की नस्लों को बढ़ावा दे रहे हैं।

भीम के खानपान की बात करें तो इसे देशी घी की एक किलो लापसी, काजू, बदाम, अंजीर, मक्की, हरी और सूखी घास, मक्खन, शहद, दूध आदि से भोजन कराया जाता है। जिसकी कीमत हर माह एक लाख से अधिक आती है। भोजन की एक और विशेषता है, जो भोजन आज दिया वही भोजन दूसरे दिन भीम को नहीं दिया जाता है। भीम की देखभाल के लिए दस लोगों की टीम लगाई गई है, जिसमें दो चिकित्सक भी है। एक किलो सरसों के तेल से मालिश की जाती है। प्रतिदिन 6  किलो मीटर की वॉक भी करानी पड़ती है।

भीम के मालिक अरविंद जांगिड़ ने बताया कि भीम से पहले सुल्तान और युवराज नाम के भैंसे चर्चा में थे। एग्रो टेक किसान मेले में युवराज व भीम ने भी भाग लिया। इसमें दोनों भैंसों में प्रतियोगिता करवाई गई। युवराज भैंसा 12 वर्ष का है, जो  1400 किलो वजनी है, जबकि 5 वर्ष की उम्र में 1200 किलो वजन रखने वाले भीम ने अपने दोगुने उम्र के युवराज से बेहतर प्रदर्शन कर ताकतवर होने का खिताब जीत लिया। इसके लिए भीम व मालिक को पुरस्कृत भी किया गया। मालिक अरविंद ने पशुपालकों से आग्रह किया कि भीम के नाम से फर्जी सीमन बेचकर लोग मोटी कमाई कर रहे हैं, इसलिए मालिक से कन्फर्म करने के बाद ही सीमन लें और उन्नत नस्ल को बढ़ावा दें।