Dainik Navajyoti Logo
Friday 18th of June 2021
 
स्वास्थ्य

एओर्टिक डिसेक्शन का जटिल ऑपरेशन कर बचाई जान, महात्मा गांधी अस्पताल के डॉक्टर्स ने की ब्लडलेस सर्जरी

Friday, October 09, 2020 11:40 AM
हार्ट सर्जन डॉ. एम ए चिश्ती और उनकी टीम ने की सफल सर्जरी।

जयपुर। शहर के सीतापुरा स्थित महात्मा गांधी अस्पताल के हार्ट सर्जन को एओर्टिक डिसेक्शन का जटिल ऑपरेशन कर एक युवक की जान बचाने में सफलता अर्जित की है। युवक बहुत ही नाजुक स्थिति में महात्मा गांधी अस्पताल में आया था। प्रख्यात हार्ट सर्जन डॉ एम ए चिश्ती ने तुरंत ही बीमारी की पहचान कर ली थी। रोगी को मोरफैंस सिंड्रोम नामक बीमारी की वजह से हृदय की महाधमनी की परतें विभाजित हो गई थी तथा इनमें लीकेज की वजह से एन्युरिज्म यानी फुलाव आकर खून भर गया था। ऐसे  दुर्लभ व जटिल मामले 1 लाख व्यक्तियों में से 1 से 3 रोगी में ही सामने आते है। रोगी का एओर्टिक वाल्व खराब हो गया था और हार्ट, लीवर, किडनी फैलियर की स्थिति थी, जो रोगी के लिए जानलेवा स्थिति होती है, लेकिन अनुभवी चिकित्सकों ने सफल ऑपरेशन के जरिए रोगी को नया जीवन प्रदान किया।

उल्लेखनीय है कि डॉ. चिश्ती को राज्य में पहला हृदय प्रत्यारोपण करने का श्रेय भी हासिल है। महात्मा गांधी अस्पताल के हार्ट सर्जरी विभाग के निदेशक डॉ. चिश्ती के अनुसार रोगी दिल की बीमारी से बीते लगभग 3 साल से पीड़ित था। एओर्टिक वाल्व सामान्यतया 2.5 डाई सेंटीमीटर तक फूलता है फिर नॉर्मल हो जाता है। किंतु इस रोगी के फुलाव 4 गुना बढ़कर 10 डाई सेमी तक हो गया था।

इस प्रकार हुई यह ब्लडलेस सर्जरी
डॉ. चिश्ती ने बताया कि पहले रोगी को मेडिकल मैनेजमेंट के जरिए लीवर व किडनी फेलियर की स्थिति से बाहर निकाला गया। एओर्टा डिसेक्शन के इस जटिल ऑपरेशन में रोगी का खून हार्ट एवं लंग्स मशीन में पहुंचा दिया गया तथा हार्ट को 20 मिनट तक बंद कर दिया गया। ब्रेन को दोनों के एओर्टिक आर्टिज के जरिए ब्लड सप्लाई दी गई। हार्ट को सुरक्षित रखने के लिए कार्डियक प्लीजिया दिया गया। एक विशेष प्रकार का 'डेक्रोम ग्राफ्ट' लगाकर रक्त संचार को सुचारू किया गया। ऑपरेशन 8 घंटे तक चला। इस सर्जरी की विशेष बात यह थी कि सर्जरी के दौरान जरा भी खून का रिसाव नहीं हुआ। इसे ब्लडलेस सर्जरी कहा जाता है। रोगी के ठीक हो जाने पर उसे घर भेज दिया गया। खास बात यह भी है कि दिल्ली व अन्य मेट्रो सिटीज के मुकाबले उपचार खर्च इस सर्जरी में एक चौथाई से भी कम रहा।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

वैज्ञानिकों को मिली बड़ी सफलता, खोजा ऐसा वायरस जो हर तरह के कैंसर का करेगा खात्मा

दुनियाभर के साथ ही भारत में भी कैंसर की बीमारी तेजी से फैल रही है। इस खतरनाक बीमारी की वजह से हर साल करीब 8 लाख लोगों की मौत हो जाती है। ऐसे में वैज्ञानिकों ने एक ऐसा वायरस खोजा है जो हर तरह के कैंसर को खत्म कर सकता है।

11/11/2019

विषम परिस्थितियों में नई तकनीक व प्रोटोकॉल डिजाइन कर नवजात की सफल हार्ट सर्जरी

फोर्टिस हॉस्पिटल के शिशु हृदय रोग सर्जरी विषेशज्ञ डॉ. सुनिल कौशल ने 15 दिन के बच्चे की दुर्लभ सफल आर्टियल स्वीच सर्जरी की। इस सर्जरी के दौरान डॉ. कौशल ने चिकित्सा जगत में नए आयाम स्थापित किए। डॉ. सुनील ने बताया की बच्चे को हृदय की दुर्लभ जन्मजात बीमारी थी, जिसे ट्रांसपोजीशन ऑफग्रेट आर्टरी कहा जाता है और उसका एक मात्र ईलाज आर्टियल स्वीच नामक हार्ट का ऑपरेशन ही है।

02/05/2020

अस्थमा नहीं है लाइलाज, इनहेलेशन थैरेपी है कारगर

अस्थमा एक क्रोनिक (दीर्घावधि) बीमारी है जिसमें श्वास मार्ग में सूजन और श्वास मार्ग की संकीर्णता की समस्या होती है जो समय के साथ कम ज्यादा होती है।

03/05/2019

नई तकनीकों से संभव है ब्रेन ट्यूमर का इलाज

30 साल के हुलासमल और 50 साल की यशोदा को जब पता चला कि उन्हें ब्रेन ट्यूमर है तो मानों उनकी जिंदगी जैसे थम सी गई थी। जबकि नई तकनीकों से ब्रेन ट्यूमर का ईलाज संभव है और व्यक्ति जिंदगी पहले की तरह ही जी सकता है।

08/06/2019

हेल्थ को लेकर भारत सहित 8 देशों के प्रतिनिधियों ने किया मंथन

हेल्थ को लेकर भारत सहित 8 देशों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया और हेल्थ में सुधार को लेकर विस्तार से मंथन किया।

13/11/2019

कश्मीर : ताजा संघर्ष में पांच की मौत, अब तक 63 की मौत

कश्मीर में बडग्राम और अनंतनाग जिले में पत्थर फेंक रहे प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बलों के बीच ताजा संघर्षों में आज पांच लोगों की मौत हो गयी और कई अन्य घायल हो गये. घाटी में कर्फ्यू, पाबंदियों और अलगाववादी समर्थित हड़ताल के कारण आज लगातार 39वें दिन जनजीवन प्रभावित हुआ.

16/08/2016

फिटनेस और गेम्स का कॉम्बीनेशन पसंद आ रहा है शहरवासियों को

शहर के पार्कों में हो रहे योगिक फिटनेस बूट कैम्प्स में भाग लेकर जयपुरवासी अपनी सेहत को अच्छा रखने के साथ साथ शरीर की इंटरनल पॉवर में इजाफा कर रहे हैं।

22/04/2019