Dainik Navajyoti Logo
Friday 15th of November 2019
 
स्वास्थ्य

सेरेब्रल मलेरिया की दस्तक, चपेट में आई बालिका

Friday, October 18, 2019 18:40 PM
फालस्पिैरम मलेरिया से ग्रसित बालिका को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जयपुर। डेंगू बुखार और सामान्य मलेरिया के बाद अब प्रदेश में सेरेब्रल मलेरिया ने भी दस्तक दे दी है। इस बीमारी को जानलेवा फालस्पिैरम मलेरिया के नाम से भी जाना जाता है। ऐसा ही एक मामला संभाग के नावां कस्बे में सामने आया है। कॉम्प्लीकेटेड वायवैक्स पॉजिटिव और फालस्पिैरम मलेरिया से ग्रसित बालिका को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हॉस्पिटल में विषेषज्ञ चिकित्सकों की देखरेख में उपचाराधीन बालिका की गहन चिकित्सा पद्धति से इलाज कर उसकी जान बचाई गई है। खंडाका अस्पताल के बाल और नवजात शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. शिव कुमावत ने बताया कि गत बालिका को अचेत अवस्था में भर्ती किया गया था। रोगी को मलेरिया के साथ पीलिया भी था।

एमआरआई और रक्त जांच की रिपोर्ट में बालिका को कॉप्लीकेटेड वायवैक्स पॉजिटिव व फालस्पिैरम मलेरिया था। इसमें सेरिब्रल मलेरिया होता है और साथ ही रोगी को हिमोलिसिस हो जाता है। ऐसी स्थिति में रोगी का लीवर काम करना बंद कर देता है। इससे प्लेटलेट्स कम हो जाते हैं। रोगी के प्लेटलेट्स भी 15 हजार से नीचे पहुंच गए थे। इसके साथ ही उसे हल्का ब्रेन हेमरेज भी था। उन्होंने बताया कि इस प्रकार के मरीज की बचने की संभावना ना के बराबर होती है। सीईओ डॉ. सुधीर व्यास ने बताया कि रोगी को आईसीयू में रखकर उसे सात यूनिट विभिन्न प्रकार के ब्लड कॅम्पोनेंट्स दिए गए। काफी उतार-चढ़ाव के बाद आखिरकार रोगी की जान बचाने में सफलता मिल गई। डॉ. मनीष व्यास ने बताया कि ऐसे रोगी का पता चलने के बाद चिकित्सा विभाग की टीम संबधित इलाके में लोगो के सैंपल्स लेती है। अस्पताल प्रशासन ने मामले की गंभीरता को देखते हुए चिकित्सा विभाग को भी इस मामले से अवगत कराया है।