Dainik Navajyoti Logo
Saturday 31st of July 2021
 
खेल

WTC फाइनल में हार के बाद बोले कोहली, एक मैच से सर्वश्रेष्ठ टेस्ट टीम तय करने पर सहमत नहीं

Thursday, June 24, 2021 16:55 PM
विराट कोहली (फाइल फोटो)

साउथैम्पटन। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने न्यूजीलैंड से पहली आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल हारने के बाद कहा कि वह एक मैच में सर्वश्रेष्ठ टेस्ट टीम तय करने पर सहमत नहीं हैं। विराट ने भविष्य में डब्ल्यूटीसी फाइनल का विजेता तय करने के लिए एक से ज्यादा मैच कराए जाने पर जोर दिया, हालांकि उन्होंने स्पष्ट किया है कि उनकी राय परिणाम पर आधारित नहीं हैं, लेकिन दो साल के चरण में खेले गए टूर्नामेंट से सर्वश्रेष्ठ टीम का फैसला केवल एक मैच नहीं कर सकता और न ही दो फाइनलिस्ट टीमों के चरित्र का प्रामाणिक चित्रण दे सकता है। विराट का यह रुख टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री और भारतीय क्रिकेट लीजेंड सचिन तेंदुलकर के विचारों का समर्थन करता है। दरअसल डब्ल्यूटीसी फाइनल से पहले रवि शास्त्री और सचिन ने कहा था कि एक फाइनल मैच के बजाय तीन मैच उचित होंगे। रवि ने कहा था कि लंबे समय में इस फाइनल को एक मैच के बजाय 'बेस्ट ऑफ थ्री' मुकाबला होना चाहिए।

भारतीय कप्तान ने ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि सच कहूं तो मैं एक मैच के आधार पर दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टेस्ट टीम का फैसला करने से पूरी तरह सहमत नहीं हूं। अगर यह एक टेस्ट सीरीज होती तो इसमें तीन टेस्ट मैचों में चरित्र का परीक्षण होता कि कौन सी टीम श्रृंखला में वापस आने या दूसरी टीम को पूरी तरह से उड़ा देने की क्षमता रखती है। सिर्फ दो दिनों के अच्छे क्रिकेट के लिए दबाव बनाना और फिर आप अचानक एक अच्छे टेस्ट टीम नहीं हैं। मुझे इसमें विश्वास नहीं है। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि डब्ल्यूटीसी फाइनल तीन मैचों का होना चाहिए, ताकि आप एक टीम के रूप में उसी के अनुसार तैयारी करें और आपके पास एक मौका हो। अगर आपका पहला मैच अच्छा नहीं रहा तो आपके पास दूसरा मौका होगा, सामने वाली टीम का परीक्षण लेने का। मुझे लगता है कि इस पर निश्चित रूप से भविष्य में काम करने की जरूरत है।

विराट ने कहा कि तीन मैच होने से हम प्रयास कर सकते हैं। उतार-चढ़ाव आते हैं और श्रृंखला के दौरान स्थितियां बदलती रहती हैं। इससे आपको उन चीजों को सुधारने का मौका मिलेगा जो पहले मैच में गलत हुई हैं और फिर देखें कि 3 मैचों की श्रृंखला के दौरान कौन बेहतर टीम है। यह एक अच्छा उपाय होगा, इसलिए हम इस परिणाम से ज्यादा परेशान नहीं हैं, क्योंकि हम समझते हैं कि एक टेस्ट टीम के रूप में हमने न केवल पिछले 18 महीनों में, बल्कि 3-4 वर्षों में बहुत अच्छा किया है, इसलिए यह इस बात का पैमाना नहीं है कि हम एक टीम के रूप में क्या हैं और इतने वर्षों से हमारे पास कितनी क्षमता है। उल्लेखनीय है कि भारत ने पिछले दो वर्षों में 6 श्रृंखलाओं में से 5 जीतकर 520 अंकों के साथ डब्ल्यूटीसी के लंबे लीग चरण को टेबल टॉपर्स के रूप में समाप्त किया था। ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ उनकी हालिया श्रृंखला जीत न्यूजीलैंड से हार के पहले आई थी।

विराट ने कहा कि मुझे लगता है कि ऐतिहासिक रूप से आपने टेस्ट क्रिकेट में जितनी भी बेहतरीन सीरीज देखी हैं, आप उन्हें 3 या 5 मैचों की अवधि में याद करते हैं और जब दो टीमें ये सीरीज खेलती हैं तो ये यादगार बन जाती हैं। मुझे लगता है कि इसे निश्चित रूप से संज्ञान में लिया जाना चाहिए। मैं ऐसा इसलिए नहीं कह रहा हूं, क्योंकि हम जीतने वाली टीम नहीं हैं, बल्कि सिर्फ टेस्ट क्रिकेट और इस फाइनल को पूरी तरह से यादगार बनाने के लिए कह रहा हूं। मुझे लगता है कि यह कम से कम तीन मैचों के लिए होना चाहिए, ताकि आपके पास याद रखने के लिए एक श्रृंखला हो, क्योंकि इस दौरान उतार-चढ़ाव होते हैं और दो क्वालिटी टीमें यह जानते हुए एक-दूसरे से भिड़ती हैं कि दांव पर बहुत कुछ है। उन्होंने डब्ल्यूटीसी फाइनल हारने के बाद निराश होते हुए कहा कि प्रदर्शन करने के लिए टीम में सही मानसिकता वाले खिलाड़ियों को लाने की जरूरत है। मेरे हिसाब से टेस्ट क्रिकेट का सेट-अप सफेद गेंद सेट-अप की तरह होना चाहिए, जहां कई ऐसे खिलाड़ी हों जो उच्च स्तर पर जिम्मेदारी निभाने के लिए तैयार हों और बेखौफ तरीके से खेलें। कुछ खिलाड़ियों ने रन बनाने के लिए सही इरादा नहीं दिखाया, जिसके चलते बल्लेबाजी पर अधिक दबाव पड़ा।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

वर्ष 2020 को भी यादगार बनाना चाहते हैं बुमराह, कहा- चुनौतियों को लेकर हूं रोमांचित

तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह 2019 के यादगार सफर के बाद 2020 को भी नई सफलताओं से रोमांचक और सफल बनाना चाहते हैं। बुमराह ने ट्विटर पर लिखा कि मैं 2020 की आने वाली चुनौतियों को लेकर रोमांचित हूं।

31/12/2019

वनडे में सबसे तेज 12 हजार रन बनाने वाले खिलाड़ी बने विराट कोहली, सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ा

एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 12 साल से अधिक समय गुजार चुके भारतीय कप्तान और रन मशीन विराट कोहली वनडे में सबसे तेज 12 हजारी बन गए हैं और उन्होंने क्रिकेट लीजेंड सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे और अंतिम वनडे में अपनी 63 रन की पारी का 23वां रन बनाने के साथ विराट ने यह उपलब्धि अपने नाम कर ली।

02/12/2020

डे-नाइट टेस्ट: मोटेरा स्टेडियम में आज से तीसरा टेस्ट, टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल पर दोनों टीमों की नजरें

भारत और इंग्लैंड आईसीसी टेस्टचैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने के लिए बुधवार से दुनिया के सबसे अधिक दर्शक क्षमता वाले क्रिकेट स्टेडियम में होने वाले तीसरे टेस्ट मैच में गुलाबी गेंद से उम्मीदों का चिराग जलाने उतरेंगे। भारत और इंग्लैंड इस समय सीरीज में 1-1 बराबरी पर हैं और अगले दो टेस्टों में इस बात का फैसला होना है कि इन दोनों में से कौन सी टीम विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचेगी।

23/02/2021

दुनिया की नंबर 1 तीरंदाज बनीं दीपिका कुमारी, विश्वकप में 1 ही दिन में जीते थे 3 स्वर्ण पदक

पेरिस में तीरंदाजी विश्वकप के तीसरे चरण में 3 स्वर्ण पदक जीतने वाली भारत की स्टार तीरंदाज दीपिका कुमारी सोमवार को विश्व रैंकिंग में फिर से शीर्ष पर काबिज हो गई है। रांची की रहने वाली इस 27 वर्षीय खिलाड़ी ने पहली बार 2012 में नंबर एक रैंकिंग हासिल की थी।

28/06/2021

IND vs AUS: डे-नाइट टेस्ट में मजबूत स्थिति में टीम इंडिया, 191 रन पर समेटी ऑस्ट्रेलिया की पारी

टीम इंडिया ने ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की कमाल की फिरकी तथा तेज गेंदबाजों उमेश यादव और जसप्रीत बुमराह की धारदार गेंदबाजी के दम पर ऑस्ट्रेलिया को पहले दिन-रात्रि टेस्ट के दूसरे दिन 191 रन पर समेट कर पहली पारी में 53 रन की महत्वपूर्ण बढ़त हासिल कर ली। टीम इंडिया ने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी दूसरी पारी में 1 विकेट खोकर 9 रन बना लिए हैं और उसकी कुल बढ़त 62 रन की हो गई है।

18/12/2020

रांची में बल्लेबाजों के बाद भारतीय तेज गेंदबाजों का कहर, अफ्रीका के 9 रन पर झटके 2 विकेट

ओपनर रोहित शर्मा के टेस्ट करियर के पहले दोहरे शतक और उपकप्तान अजिंक्या रहाणे के शानदार शतक की बदौलत भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन रविवार को अपनी पहली पारी चायकाल पर 9 विकेट पर 497 रन बनाकर घोषित कर दी। इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 5 ओवर में 9 रन पर ही दक्षिण अफ्रीका के दोनों सलामी बल्लेबाजों को पैवेलियन भेज दिया।

20/10/2019

IPL-2020: विराट को रोहित के सामने साबित करनी होगी अपनी फॉर्म, कल RCB-MI की भिड़ंत

अपनी खराब फॉर्म को लेकर सवालों के घेरे में आए रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान विराट कोहली को सोमवार को रोहित शर्मा की कप्तानी वाली गत चैंपियन टीम मुंबई इंडियंस के खिलाफ होने वाले आईपीएल मुकाबले में अपनी फॉर्म साबित करनी होगी और आलोचकों को भी शांत करना होगा।

27/09/2020