Dainik Navajyoti Logo
Friday 18th of June 2021
 
खेल

सिडनी टेस्ट: भारत को मिला 407 रन का टारगेट, चौथे दिन स्टंप्स तक बनाए 2 विकेट पर 98 रन

Sunday, January 10, 2021 14:50 PM
अर्धशतकीय पारी के दौरान शॉट खेलते हुए रोहित शर्मा।

सिडनी। भारत ने ऑस्ट्रेलिया से मिले 407 रन के बेहद मुश्किल लक्ष्य का पीछा करते हुए जोरदार शुरुआत की लेकिन इसके बाद उसने दोनों ओपनरों के विकेट गंवा दिए। टीम इंडिया ने तीसरे क्रिकेट टेस्ट मैच के चौथे दिन रविवार को स्टंप्स तक 2 विकेट खोकर 98 रन बना लिए हैं और उसे मैच के 5वें दिन जीत के लिए 309 रन बनाने हैं जो एक मुश्किल चुनौती है। ऑस्ट्रेलिया ने चौथे दिन चायकाल के समय अपनी दूसरी पारी 6 विकेट पर 312 रन बनाकर घोषित की। ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी में 94 रन की बढ़त हासिल थी और उसने भारत के सामने 407 रन का मुश्किल लक्ष्य रख दिया। भारतीय ओपनरों रोहित शर्मा (52 रन) और शुभमन गिल (31 रन) ने इस मुश्किल लक्ष्य का साहस के साथ पीछा करना शुरू किया और पहले विकेट के लिए 71 रन की बेहतरीन साझेदारी की। दोनों बल्लेबाजों ने तेजी के साथ बल्लेबाजी करते हुए रन बटोरे। लेकिन जोश हेजलवुड ने गिल को विकेटकीपर टिम पेन के हाथों कैच कराकर भारत को पहला झटका दे दिया। गिल अपनी पारी को लंबा नहीं खींच पाए और 64 गेंदों में 4 चौकों की मदद से 31 रन बनाकर आउट हो गए।

गिल के आउट होने के बाद मैदान पर उतरे चेतेश्वर पुजारा आने के साथ ही डीआरएस का सहारा लेकर बचे। जोश हेजलवुड की गेंद पर अम्पायर ने पुजारा को पगबाधा आउट दे दिया लेकिन पुजारा ने तुरंत डीआरएस का सहारा लिया और अम्पायर को अपना फैसला बदलने के लिए मजबूर होना पड़ा। भारत के लिए यह बड़ी राहत की बात थी। उस समय पुजारा का खाता नहीं खुला था। रोहित ने चौका मार कर अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन अर्धशतक पूरा करने के बाद पैट कमिंस की गेंद पर पुल करने के प्रयास में गेंद को नीचे नहीं रख पाए और मिशेल स्टार्क को कैच थमा कर पवेलियन लौट चले। रोहित का आउट होना भारत के लिए बड़ा झटका था, क्योंकि वही ऐसे बल्लेबाज थे जो तेजी से रन बटोर रहे थे और अंतिम दिन ऑस्ट्रेलिया पर दबाव बना सकते थे।

रोहित का विकेट दिन की समाप्ति से 3 ओवर पहले गिरा और उस समय भारत का स्कोर 92 रन था। रोहित ने 98 गेंदों पर 5 चौकों और 1 छक्के की मदद से 52 रन बनाए। पुजारा और कप्तान अजिंक्या रहाणे ने इसके बाद शेष खेल सुरक्षित निकाल लिया। स्टंप्स के समय पुजारा 29 गेंदों पर 9 रन और रहाणे 14 गेंदों पर 4 रन बनाकर क्रीज पर थे। इन दोनों बल्लेबाजों पर सोमवार को 5वें और अंतिन दिन भारत के लिए मैच बचाने या जीत दिलाने की भारी जिम्मेदारी रहेगी। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया ने 2 विकेट पर 103 रन से आगे खेलना शुरू किया। मार्नस लाबुशेन ने 47 और स्टीवन स्मिथ ने 29 रन से अपनी पारी को आगे बढ़ाया। भारत को तीसरी सफलता 138 रन के स्कोर पर मिली। तेज गेंदबाज नवदीप सैनी ने लाबुशेन को स्थानापन्न विकेटकीपर रिद्धिमान साहा के हाथों कैच करा दिया। लाबुशेन ने 118 गेंदों में 9 चौकों की मदद से 73 रन बनाए। लाबुशेन ने पहली पारी में 91 रन बनाए थे।

नवदीप सैनी ने मैथ्यू वेड का भी जल्दी ही शिकार कर लिया। वेड का कैच भी साहा ने ही लपका। वेड 11 गेंदों में 4 रन ही बना सके और उनका विकेट 148 के स्कोर पर गिरा। स्मिथ ने फिर कैमरून ग्रीन के साथ पांचवें विकेट के लिए 60 रन की साझेदारी कर ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 200 के पार पहुंचा दिया। पहली पारी में 131 रन बनाने वाले स्मिथ लगातार दूसरे शतक की तरफ बढ़ रहे थे कि ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने स्मिथ को एक बार फिर अपना शिकार बना लिया। अश्विन ने स्मिथ को पगबाधा कर दिया। स्मिथ ने 167 गेंदों पर 81 रन में 8 चौके और 1 छक्का लगाया और उनका विकेट 208 रन के स्कोर पर गिरा। इसके बाद ग्रीन ने कप्तान टिम पेन के साथ छठे विकेट के लिए 104 रन की साझेदारी की और ऑस्ट्रेलिया को बेहद मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया।

जसप्रीत बुमराह ने चायकाल से ठीक पहले ग्रीन को साहा के हाथों कैच करा दिया और पेन ने इसके साथ ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी 312 के स्कोर पर घोषित कर दी। ग्रीन ने 132 गेंदों पर 8 चौकों और 4 छक्कों की मदद से शानदार 84 रन बनाए जबकि पेन ने 52 गेंदों पर नाबाद 39 रन में 6 चौके लगाए। भारत की तरफ से सैनी ने 54 रन पर 2 विकेट, अश्विन ने 95 रन पर 2 विकेट, बुमराह ने 68 रन पर 1 विकेट और मोहम्मद सिराज ने 90 रन पर 1 विकेट लिया। अपना अंगूठा चोटिल कर बैठे लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा मैदान से बाहर रहे और वह भारत की दूसरी पारी में बल्लेबाजी भी नहीं कर पाएंगे जो भारत के लिए बड़ा झटका है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

राज्य खेलों की सफलता के लिए समिति का गठन

अगले वर्ष 3 जनवरी से आयोजित होने वाले राज्य खेलों के सफल आयोजन के लिए राजस्थान ओलंपिक संघ ने अध्यक्ष जनार्दन सिंह गहलोत की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया।

23/12/2019

ICC टेस्ट रैंकिंग: नंबर एक स्मिथ और नंबर दो विराट कोहली के बीच अंकों का फासला हुआ कम

भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड में खेले गए पहले दिन-रात्रि टेस्ट मुकाबले में बेशक मात्र तीन दिनों के अंदर हार का सामना करना पड़ा हो लेकिन इस मैच के बाद जारी ताजा आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर एक बल्लेबाज ऑस्ट्रेलिया के स्टीवन स्मिथ और नंबर दो भारत के विराट कोहली के बीच टेस्ट रैंकिंग के अंकों का फासला कम हो गया है।

21/12/2020

डेविस कप विश्व ग्रुप क्वालीफायर मुकाबले, पेस और बोपन्ना ने कायम रखीं उम्मीदें

लिएंडर पेस और रोहन बोपन्ना ने युगल मैच जीतकर डेविस कप विश्व ग्रुप क्वालीफायर मुकाबले में टॉप सीड क्रोएशिया के खिलाफ भारतीय उम्मीदों को कायम रखा। पेस -बोपन्ना ने मैट पेविच और फ्रांको स्कूगोर को 2 घंटे 21 मिनट तक चले संघर्षपूर्ण मुकाबले में 6-3, 6-7, 7-5 से हराकर मुकाबले का स्कोर 1-2 कर दिया।

08/03/2020

भारतीय एथलेटिक्स संघ की चयन समिति की सदस्य बनीं कृष्णा पूनिया

पदमश्री अवॉर्डी अंतरराष्ट्रीय एथलीट कृष्णा पूनिया को भारतीय एथलेटिक्स संघ ने चयन समिति का सदस्य बनाया है। एथलेटिक्स खेलों के लिए खिलाड़ियों के होने वाले चयन में कृष्णा पूनिया का अहम रोल रहेगा।

06/09/2019

आरसीए में आज समाप्त हो सकती है असमंजस की स्थिति

आरसीए चुनावों को लेकर तीन दिन से चल रही असमंजस की स्थिति आज समाप्त हो सकती है। आरसीए के संयुक्त सचिव महेन्द्र नाहर ने बताया कि बीसीसीआई से कोई जवाब नहीं मिलने की स्थिति में सहकारिता रजिस्ट्रार नया चुनाव अधिकारी का आदेश कर सकते है।

23/09/2019

ऑस्ट्रेलिया के भारतीय टीम के दौरे का कार्यक्रम घोषित करने से आईपीएल की मुश्किलें बढ़ीं

ऑस्ट्रेलिया के 2020-21 सत्र के लिए अपना कार्यक्रम घोषित करने के बाद से इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सत्र के आयोजन को लेकर मुश्किलें बढ़ गई हैं। ऑस्ट्रेलिया ने जो कार्यक्रम घोषित किया है उसके अनुसार भारत को इस दौरे में 11, 14 और 17 अक्टूबर को 3 टी-20 मैचों की सीरीज खेलनी है।

29/05/2020

महेंद्र सिंह धोनी की करारे शॉट मारने की कला अब भी बरकरार है: हरभजन

ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने सुझाव दिया कि महेंद्र सिंह धोनी की करारे शॉट मारने की कला अब भी बरकरार है और भारतीय टीम प्रबंधन को विश्व कप के दौरान उन्हें शुरू से ही आक्रमण करने के लिए जरूर उतारना चाहिए।

18/05/2019