Dainik Navajyoti Logo
Saturday 27th of February 2021
 
खेल

डे-नाइट टेस्ट: मोटेरा स्टेडियम में आज से तीसरा टेस्ट, टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल पर दोनों टीमों की नजरें

Tuesday, February 23, 2021 16:45 PM
मोटेरा स्टेडियम में अभ्यास करते हुए कप्तान कोहली।

अहमदाबाद। भारत और इंग्लैंड आईसीसी टेस्टचैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने के लिए बुधवार से दुनिया के सबसे अधिक दर्शक क्षमता वाले क्रिकेट स्टेडियम में होने वाले तीसरे टेस्ट मैच में गुलाबी गेंद से उम्मीदों का चिराग जलाने उतरेंगे। भारत और इंग्लैंड इस समय सीरीज में 1-1 बराबरी पर हैं और अगले दो टेस्टों में इस बात का फैसला होना है कि इन दोनों में से कौन सी टीम विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचेगी। यानी इनका लॉर्ड्स का सफर अहमदाबाद से होकर निकलना है। यदि ये दोनों टेस्ट ड्रॉ रह जाते हैं तो ऑस्ट्रेलिया की टीम फाइनल में पहुंच जाएगी। भारत को यह सीरीज 2-1 या 3-1 से जीतनी है जबकि इंग्लैंड को 3-1 से जीतनी है। यह दिलचस्प है कि विश्व चैंपियनशिप फाइनल की दूसरी टीम का फैसला दुनिया के सबसे बड़े स्टेडियम में होना है जिसकी दर्शक क्षमता 1 लाख 10 हजार है। सरदार पटेल स्टेडियम ने 2014 से किसी अंतरराष्ट्रीय मैच का आयोजन नहीं किया है और इस मैदान के नवनिर्मित हो जाने के बाद इसमें पहला अंतरराष्ट्रीय मैच दिन-रात्रि का होने जा रहा है। इस मैदान पर हाल में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के कुछ टी-20 मैच आयोजित हुए थे और अब मोटेरा में नई फ्लड लाइट्स के बीच गुलाबी गेंद से टेस्ट मैच होने जा रहा है।

भारत अपना दूसरा दिन रात्रि टेस्ट आयोजित कर रहा है। गुलाबी गेंद ज्यादा स्विंग लेती है और इसमें लाल गेंद के मुकाबले ज्यादा तेजी रहती है। दोनों टीमों ने पहले दो टेस्टों में अपने गेंदबाजों के दम पर जीत हासिल की थी और मोटेरा में भी कुछ ऐसा ही हो सकता है। गुलाबी गेंद से टेस्ट मैचों का इतिहास 6 साल पुराना है और इन टेस्टों में तेज गेंदबाजों का दबदबा रहा है। दुनिया भर में खेले गए दिन रात्रि टेस्ट मैचों में तेज गेंदबाजों ने 24.47 के औसत से 354 विकेट लिए हैं जबकि स्पिनरों ने 35.38 के औसत से 115 विकेट लिए हैं। मोटेरा की पिच कैसा व्यवहार करेगी, यह देखना दिलचस्प होगा। भारत के लिए इस मैच से पहले अच्छी खबर है कि उसके तेज गेंदबाज उमेश यादव ने फिटनेस टेस्ट पास कर लिया है और वह टीम में शामिल कर लिए गए हैं। भारत के सबसे अनुभवी तेज गेंदबाज इशांत शर्मा का यह 100 वां टेस्ट होगा और वह इसे यादगार बनाने की पूरी कोशिश करेंगे। हालांकि इशांत का कहना है कि टीम की नजरें इस बात पर लगी हैं कि टीम जीत हासिल कर विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचे।

इंग्लैंड के पास जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड के रूप में दुनिया के दो सर्वश्रेष्ठ स्विंग गेंदबाज हैं जबकि भारत इशांत और बुमराह पर भरोसा करेगा। इस मैच में दोनों टीमों के लिए गेंदबाजी संतुलन चुनना सबसे बड़ी चुनौती रहेगी। मुश्ताक अली ट्रॉफी के मैचों में स्पिनरों को भी फायदा मिला था, इसे देखते हुए दोनों टीमें तेज और स्पिन आक्रमण का सही संतुलन ढूंढेंगी। इस मुकाबले को लेकर दोनों टीमों के प्रमुख खिलाड़ियों का अलग-अलग कहना है। इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन मानते हैं कि दिन रात्रि टेस्ट में स्विंग की ज्यादा भूमिका नहीं होगी जबकि भारतीय ओपनर रोहित शर्मा का कहना है कि शाम के समय फ्लड लाइट्स के जलने के वक्त बल्लेबाजी करना ज्यादा चुनौतीपूर्ण होगा। डे नाइट टेस्ट में परिस्थितियों की भी महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। रात में ओस का फैक्टर भी रहेगा जो गेंदबाजी करने वाली टीम को परेशानी में डालता है। मोटेरा स्टेडियम में एलईडी फ्लड लाइट्स लगी हैं जो बाकी फ्लड लाइट्स से अलग होगी और टेस्ट पर इसका भी असर देखने को मिलेगा।

भारत चेन्नई में दूसरा टेस्ट रिकॉर्ड अंतर से जीतने वाली टीम में ज्यादा परिवर्तन नहीं होगा यदि कोई परिवर्तन होता है तो चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव को बाहर बैठना पड़ सकता है। तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज की जगह बुमराह एकादश में लौटेंगे। जो 5 बल्लेबाज चेन्नई में खेले थे उनका टीम में स्थान सुरक्षित है इनके साथ ऋषभ पंत विकेटकीपर, दोनों स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल तथा तेज गेंदबाज इशांत और बुमराह रहेंगे। पांचवें गेंदबाज के लिए उमेश और सिराज के बीच मुकाबला रहेगा। आलराउंडर हार्दिक पांड्या ने नेट्स में गुलाबी गेंद के साथ गेंदबाजी की है लेकिन टीम इंडिया उन्हें खिलाने का जोखिम नहीं उठाएगी, क्योंकि वह हाल में चोट से उबरे हैं। बल्लेबाजी को मजबूत करने और बीच में 5-6 ओवर डलवाने के लिए पांड्या को शामिल किया जा सकता है। दोनों टीमें अपनी अंतिम एकादश का चयन परिस्थितियों को देखकर करेंगी लेकिन दोनों का लक्ष्य जीत हासिल कर अपनी उम्मीदों को बनाए रखना रहेगा, क्योंकि दोनों टीमों के लिए यह करो या मरो का मुकाबला है। मोटेरा की फ्लड लाइट्स सामान्य फ्लड लाइट्स की तरह नहीं है। स्टेडियम की छत पर एलईडी लाइट्स का घेरा बनाया गया है जो दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम की तरह है और इसे रिंग ऑफ फायर कहा जा रहा है।

यह भी पढ़ें:

जीत के साथ चेन्नई सातवें आसमान पर

लेग स्पिनर इमरान ताहिर (27 रन पर चार विकेट) की शानदार गेंदबाजी, आईपीएल के महारथी सुरेश रैना (नाबाद 58) के बेहतरीन अर्धशतक और आलराउंडर रवींद्र जडेजा के आक्रामक

15/04/2019

भारत-बांग्लादेश ने ईडन में बहाया पसीना, गुलाबी गेंद से किया अभ्यास

भारत और बांग्लादेश के बीच 22 नवंबर से शुरू होने वाले ऐतिहासिक डे-नाइट टेस्ट से पहले ईडन गार्डन मैदान पर दोनों टीमों ने गुलाबी गेंद से आधिकारिक रूप से अभ्यास किया।

21/11/2019

विराट ने जसप्रीत बुमराह को बताया संपूर्ण गेंदबाज

वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैच की सीरीज में जबरदस्त प्रदर्शन करने वाले तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की तारीफ करते हुए कप्तान विराट कोहली ने उन्हें संपूर्ण गेंदबाज करार दिया है।

04/09/2019

टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री का बड़ा बयान, कहा- वनडे से जल्द संन्यास ले सकते हैं महेंद्र सिंह धोनी

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास की अटकलों के बीच टीम इंडिया के प्रमुख कोच रवि शास्त्री ने कहा कि धोनी एकदिवसीय क्रिकेट से जल्द संन्यास ले सकते हैं। हालांकि वह टी-20 क्रिकेट खेलना जारी रख सकते हैं।

09/01/2020

चोट के कारण फाइनल से हटे दीपक पूनिया, रजत से करना पड़ा संतोष

जूनियर विश्व चैंपियन पहलवान दीपक पूनिया को सीनियर विश्व कुश्ती प्रतियोगिता के 86 किग्रा फ्रीस्टाइल ओलंपिक वजन वर्ग के फाइनल से टखने की चोट के कारण हटना पड़ा, जिसके चलते उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा।

22/09/2019

ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया की सीरीज जीत पर बोले लक्ष्मण, भारत ने गाबा टेस्ट जीता तो मैं भावुक हो गया

भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने खुलासा करते हुए कहा कि जब टीम इंडिया ने पिछले महीने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिस्बेन के गाबा मैदान में खेले गए चौथे और अंतिम टेस्ट में जीत हासिल कर सीरीज पर कब्जा जमाया तो वह काफी भावुक हो उठे और उनकी आंखों से आंसू आ गए थे।

02/02/2021

जीत के करीब पहुंचकर भारत की हार, न्यूजीलैंड फाइनल में

शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों की नाकामी के कारण भारत को आईसीसी विश्वकप के सांसों को रोक देने वाले पहले सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों 18 रन की हार का सामना करना पड़ा और इसके साथ ही भारतीय टीम विश्वकप से बाहर हो गई।

10/07/2019