Dainik Navajyoti Logo
Sunday 17th of November 2019
 
ओपिनियन

जानिए, राजकाज में क्या है खास?

पॉलिटिकल पार्टियां अपने-अपने हिसाब से डेमेज कंट्रोल के रास्ते निकालती हैं। इस मामले में भगवा वाले अमित शाह का तो कोई सानी नहीं, लेकिन सूबे में जो रास्ता हाथ वाले दल ने निकाला है, उससे राज करने वाले भी चकित हैं।

23 Sep 10:20 AM

तमिलनाडु : दक्षिण में हिंदी विरोध का केंद्र

उत्तर भारत में आमतौर पर यह समझा जाता है कि दक्षिण के सभी राज्य हिंदी का विरोध करते है। पर सच्चाई यह है कि हिंदी का विरोध मोटे तौर पर तमिलनाडु में ही है। केरल, कर्नाटक, आन्ध्र प्रदेश और तेलंगाना में इसका विरोध बहुत कम और इन राज्यों में हिंदी के विरुद्ध खुलकर अथवा कोई बड़ा विरोध या आन्दोलन नहीं हुआ।

23 Sep 10:10 AM

वायुसेना को चाहिए दो सौ लड़ाकू विमान

पिछले दिनों वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बी एस धनोआ ने जिस प्रकार वायुसेना के बेड़े में शामिल 44 साल पुराने मिग लड़ाकू विमानों को लेकर चिंता जाहिर की। उससे वायुसेना में लड़ाकू विमानों की कमी और वायुसेना की जरूरतों का स्पष्ट अहसास हो जाता है।

23 Sep 10:05 AM

भारतीय अर्थव्यवस्था की दशा और दिशा

वर्ष 2019-2020 में भारतीय अर्थतंत्र के साथ- साथ विश्व अर्थव्यवस्था के लिए गहरा संकट लेकर उभरा है। इसमें कोई संदेह नहीं कि विभिन्न आर्थिक क्षेत्र मंदी की मार झेल रहा है और उन्हें मदद की दरकार है। सरकार पर विभिन्न क्षेत्रों की जरूरतों के अनुरूप कार्य की घोषणा करने का दबाव है।

20 Sep 11:15 AM

प्लास्टिक के नीचे दबी मानवीय सभ्यता

आज सम्पूर्ण विश्व में प्लास्टिक का उत्पादन 30 करोड़ टन प्रति वर्ष किया जा रहा है। आंकड़े बताते है कि प्रति वर्ष समुद्र में जाने वाला प्लास्टिक कचरा 80 लाख टन है। अरबों टन प्लास्टिक पृथ्वी के पानी स्रोतों खासकर समुद्रों-नदियों में पड़ा हुआ है।

20 Sep 11:10 AM

राज-काज में क्या है खास

इंदिरा गांधी भवन में बने हाथ वालों के ठिकाने के साथ राज का काज करने वालों में तीन दिन से एक टॉफी को लेकर काफी चर्चा है।

16 Sep 09:20 AM

मोदी सरकार-2 के पहले 100 दिन एक आकांक्षी भारत का प्रतिबिम्ब

मैं बड़े ही गर्व के साथ अपनी सरकार के प्रथम 100 दिनों के कार्यकलापों पर अपने विचारों को कलमबद्ध कर रही हूं। आम तौर पर यह अवधि अत्यंत्त सुकून भरी होती है। क्योंकि प्रथम 100 दिनों के दौरान न तो सरकार कोई खास सक्रिय रहती है और न ही जनता को यह उम्मीद रहती है कि नई सरकार द्वारा कोई बड़ा निर्णय लेगी।

13 Sep 12:05 PM

श्रद्धा के समर्पण का पर्व है श्राद्ध

आश्विन मास का कृष्ण पक्ष जिसे अंधियारा पाख भी कहा जाता है, पितृपक्ष के रूप में विख्यात है। यह पितरों के प्रति श्रद्धा के समर्पण के पर्व के नाम से जाना जाता है।

13 Sep 09:55 AM

हम अपने सरोकारों को भूल गए हैं?

आज देश में सभी तरफ आर्थिक एवं सामाजिक बेचैनी का वातावरण है। मनुष्य और मनुष्य के बीच दूरियां बनती जा रही है। शहर और गांवों को विभाजित किया जा रहा है।

13 Sep 09:50 AM

सौ दिन के साहसिक फैसलों के उजाले

नरेंद्र मोदी ने अपनी दूसरी पारी के सौ दिन में अब तक सात देशों की विदेशी यात्राओं के दौरान द्विपक्षीय संबंधों को नया आयाम दिया है।

12 Sep 11:15 AM