Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 28th of September 2021
 
राजस्थान

RPSC में भ्रष्टाचार मामला: राजकुमारी के पति भैंरोंसिंह से जल्द होगी पूछताछ, गिरफ्तार आरोपियों ने उगले कई राज

Monday, July 12, 2021 10:20 AM
भैरों सिंह (फाइल फोटो)

जयपुर। राजस्थान लोक सेवा आयोग (आरपीएससी) में आरएएस परीक्षा-2018 के साक्षात्कार में अधिक अंक दिलवाने और चयन करवाने की एवज में मांगी गई 23 लाख रुपए की घूस मामले में अब भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम आरपीएससी की सदस्य राजकुमारी गुर्जर के पति भैंरोंसिंह पर शिकंजा कसेगी। एसीबी की टीम जल्द ही भैंरोंसिंह को नोटिस देकर पूछताछ के लिए एसीबी मुख्यालय जयपुर बुलाएगी। एसीबी की पूछताछ में घूस लेते पकड़े गए कनिष्ठ लेखाकार सज्जन सिंह और प्राइवेट व्यक्ति नरेन्द्र पोसवाल ने कई अहम राज उगले हैं। इन सभी तथ्यों का मिलान करने के लिए एसीबी की टीम जुट गई है। वहीं राजकुमारी के पति भैंरोंसिंह को पूछताछ के लिए बुलाने के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

एसीबी की टीम ने रविवार को दिनभर सज्जन सिंह और नरेन्द्र से पूछताछ की। एसीबी की टीम इन दोनों से ही रिमांड पर जयपुर में लाकर पूछताछ कर रही है। एसीबी के महानिदेशक बीएल सोनी ने बताया कि आरएएस परीक्षा-2018 के साक्षात्कार में अधिक अंक दिलवाने और चयन करवाने के मामले में गिरफ्तार किए गए कनिष्ठ लेखाकार सज्जन सिंह और प्राइवेट व्यक्ति नरेन्द्र पोसवाल के तार आरपीएससी की सदस्य राजकुमारी गुर्जर के पति भैंरोंसिंह गुर्जर से जुड़ना सामने आ रहा है। घूसखोरी में इन तीनों का अहम रोल दिख रहा है। ऐसे में जल्द ही भैंरोंसिंह को पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा।

यह था मामला
एसीबी की जयपुर-तृतीय इकाई को एक परिवादी ने शिकायत दी कि आरएएस प्रतियोगी परीक्षा-2018 के साक्षात्कार में अच्छे अंक दिलवाने और चयनित कराने की एवज में राजस्थान लोक सेवा आयोग के कनिष्ठ लेखाकार सज्जन सिंह गुर्जर द्वारा 25 लाख रुपए रिश्वत राशि मांगी जा रही है। इस पर एसीबी की टीम ने सज्जन सिंह गुर्जर को परिवादी से 23 लाख रुपए (1 लाख रुपए भारतीय मुद्रा और 22 लाख डमी मुद्रा) रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया था। वहीं टीम ने शनिवार को एक अन्य संदिग्ध नरेन्द्र सिंह पोसवाल पुत्र तेजसिंह गुर्जर निवासी नारायणपुरा बांदीकुई दौसा को भी गिरफ्तार किया है।

टोल से भी जुटाए जाएंगे सबूत
एसीबी की जांच में सामने आया है कि भैंरोंसिंह, सज्जन सिंह और नरेन्द्र की मीटिंग सिकन्दरा टोल पर भी होती थी। ऐसे में अब एसीबी टोल से भी सबूत जुटाने का प्रयास करेगी कि इनकी कितने दिनों में कब और कहां मुलाकात होती थी। वहीं एसीबी की टीमों ने कुछ अन्य लोगों से पूछताछ के लिए भी जांच का दायरा बढ़ाया है।

चल रहा था तिकड़ी का तंत्र और मंत्र
जांच में सामने आया है कि तिकड़ी (सज्जन सिंह, नरेन्द्र पोसवाल और भैंरोंसिंह) का तंत्र और मंत्र चल रहा था। नरेन्द्र साक्षात्कार देने वाले अभ्यर्थियों की जानकारी जुटाकर उनसे सम्पर्क करता और सज्जन आगे की फील्डिंग बैठाने के लिए तैयारी करता। जब ये दोनों अपने-अपने तंत्र को मजबूत कर लेते तो उसके बाद भैंरोंसिंह के पास जाकर पूरी व्यवस्था करने में जुट जाते।

व्हाट्सएप और निजी मुलाकात होती अहम
नरेन्द्र पोसवाल और सज्जन सिंह हर रोज व्हाट्सएप के जरिए बड़ी संख्या में बात करते और उसके बाद दोनों ही निजी मुलाकात कर पूरी गोपनीयता बरतने की कोशिश करते थे। रुपयों की डीलिंग की बात ये दोनों मिलकर ही करते थे। जब इनकी बात फाइनल हो जाती तो काम करवाने के लिए भैंरोंसिंह गुर्जर के पास पहुंच जाते और वह अंतिम मोहर लगा देता।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

कानोड़ के पटवारी को चार हजार रुपए लेते दबोचा

उदयपुर। भूखंड का नामान्तरण खोलने की एवज में चार हजार रुपए की रिश्वत लेते एसीबी ने शुक्रवार को कानोड़ के पटवारी को गिरफ्तार किया।

21/08/2020

ग्रामीण महिलाएं और युवतियां शहर में आकर लगा रही गन्ने की चरखी

समाज में मजबूती के साथ अपना योगदान देती महिलाएं बगैर कुछ कहे ही बयां कर जाती है। अपने आसपास के परिवेश पर नजर दौड़ाए तो घरेलू महिलाओं के साथ-साथ पुरुषों से कंधे से कंधा मिलाकर काम करती कामकाजी महिलाओं की भी तस्वीर सामने आ जाएगी। जो समय के साथ समाज की सोच में आए बदलाव को दर्शाती है।

20/06/2019

पुलिस हिरासत में मौतों को लेकर मुख्यमंत्री कार्यालय खफा, मांगी रिपोर्ट

प्रदेश में पिछले दिनों पुलिस हिरासत में हुई मौतों को लेकर मुख्यमंत्री कार्यालय काफी खफा है। इन घटनाओं को लेकर गृह विभाग के माध्यम से पुलिस मुख्यालय से रिपोर्ट मांगी गई है।

12/10/2019

थाना प्रभारी ने मांगी एक लाख की घूस, दलाल सहित गिरफ्तार

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की टीम ने थानाप्रभारी को घूस के आरोप में पकड़ा है, जिसने दो दिन से एक युवक को अवैध तरीके से हिरासत में रखा था, जबकि उसकी पत्नी को नारी निकेतन भेज दिया।

10/01/2020

हिंदुस्तान जिंक के प्रोजेक्ट इवॉल्व और कंफ्लुएंस को सेप एस अवार्ड

उदयपुर। हिंदुस्तान जिंक के प्रोजेक्ट इवॉल्व और कंफ्लुएंस को प्रतिष्ठित सेप एस अवार्ड से सम्मानित किया गया है। सेप एस अवार्ड 2020 के वर्चुअल समारोह में प्रोजेक्ट इवॉल्व को कस्टमर एक्सीलेंस, सेल्स, मार्केटिंग एण्ड सर्विस अवार्ड एवं कंफ्लुएंस को सोर्सिंग एक्सीलेंस, लार्ज एन्टप्राइज पुरस्कार की घोषणा की गई।

04/12/2020

जयपुर में फूड पैकेट्स पर स्टीकर लगाकर घर-घर तक पहुंचेगा स्वच्छता का संदेश

नगर निगम के प्रशासक विजयपाल सिंह ने स्टीकर का विमोचन किया। रेस्टोरेंट होटल संचालकों के साथ मंगलवार दोपहर को प्रशासक ने बैठक की।

04/12/2019

आरयू में एबीवीपी ने किया प्रदर्शन

हैदराबाद में डॉ. प्रियंका रेड्डी की दुष्कर्म के बाद हत्या और टोंक में 6 साल की मासूम के साथ हुई हैवानियत को लेकर सोमवार राजस्थान विश्वविद्यालय में बड़ा प्रदर्शन हुआ।

03/12/2019