Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 28th of September 2021
 
राजस्थान

RU के शिक्षकों का किसान आंदोलन के पक्ष में प्रदर्शन, सरकार से अन्नदाता के पक्ष में फैसला लेने की मांग

Tuesday, December 01, 2020 15:10 PM
किसान आंदोलन के समर्थन में शिक्षकों का प्रदर्शन।

जयपुर। दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन को राजस्थान यूनिवर्सिटी के शिक्षकों ने भी अपना समर्थन दिया है। सहायक प्रोफेसर सीबी यादव की पहल पर केंद्र सरकार के 3 कृषि कानूनों के विरोध में राजस्थान यूनिवर्सिटी के शिक्षकों ने हाथों में तख्तियां लेकर प्रदर्शन किया और एक स्वर में किसान आंदोलन के प्रति सरकार के दमनकारी रवैये की कड़े शब्दों में आलोचना की और सरकार से खुले मन से किसानों से बात करके उनके हित में उचित फैसला लेने की मांग की। डॉ. सीबी यादव ने बताया कि संवाद एवं विचार विमर्श लोकतंत्र की सबसे अभिन्न प्रक्रिया है। इन तीन कृषि कानूनों को लागू करने से पहले सरकार ने ना किसी किसान संगठन से संवाद किया, तथा ना ही संसद में इन पर बहस की। विपक्ष की संसद की सेलेक्ट कमेटी को भेजे जाने के प्रस्ताव को भी सरकार ने खारिज कर दिया, जिसका परिणाम आज पूरे देश में किसानों के उग्र आंदोलन के रूप में देखा जा रहा है।

राजनीतिक विज्ञान के शिक्षक डॉक्टर लादूराम चौधरी ने बताया कि यह कानून वस्तुतः अप्रत्यक्ष रूप से कृषि क्षेत्र में कॉर्पोरेट के नियंत्रण को स्थापित करने की दृष्टि से बनाए गए हैं। लोक प्रशासन विभाग के विभागाध्यक्ष ओम महला ने कहा कि कोरोना संकट के दौरान किसान सरकार से मानवीय संवेदनाओं के तहत आर्थिक सहायता की अपेक्षा कर रहा था, लेकिन सरकार ने इस संकट में भी कॉर्पोरेट के हितों को पूरा करने के लिए इन तीन कृषि कानूनों को लागू करने का कार्य किया है, जिसका विश्व विद्यालय का पूरा शिक्षक समुदाय निंदा करता है और सरकार से इन तीन कृषि कानूनों को वापस लेकर, न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी का कानून बनाने की मांग करता है।

हिंदी विभाग के शिक्षक डॉ. विशाल विक्रम ने बताया कि सरकार इन 3 कृषि कानूनों को कृषि सुधारों के संदर्भ में ऐतिहासिक करार दे रही है, लेकिन सोचने वाली बात है कि बिना किसानों को विश्वास में लिए कोई भी कृषि सुधार कैसे लागू होगा। सरकार को किसानों के प्रति संवेदनशील रवैया रखते हुए खुले दिमाग से उनसे बात करनी चाहिए एवं उनकी समस्याओं पर शीघ्र अति शीघ्र उचित कार्रवाई करनी चाहिए। कृषि क्षेत्र में कोई भी सुधार केवल किसानों के विश्वास के रास्ते ही संभव हो सकता है।

प्रदर्शनकारी शिक्षकों ने किसान आंदोलन के पक्ष में विभिन्न प्रकार के स्लोगन लिखे हुए तख्तियां-बैनर लेकर एवं हाथों पर काली पट्टी बांधकर प्रदर्शन किया। कई छात्रों ने भी शिक्षकों के इस प्रदर्शन को समर्थन प्रदान किया। प्रदर्शन में राजस्थान विश्वविद्यालय के शिक्षक डॉ. मनीष सिनसिनवार, डॉ. मुकेश वर्मा, डॉ. कैलाश, डॉ. मुकेश वर्मा, डॉ. डी. सुधीर, डॉ. इंदु सांखला, डॉ. आरडी. चौधरी, डॉ. अखिल कालेर, डॉ. वीरेंद्र यादव, डॉ. सरिता चौधरी, डॉ. निमाली सिंह, डॉ. एकता मीना, डॉ. लक्ष्मी परेवा, डॉ. मीना रानी, डॉ. आसु राम, डॉ. पूराराम, डॉ. संजीव, डॉ. प्रदीप कुमार सहित कई शिक्षकों ने भाग लिया।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

कांग्रेस के 19 बागी विधायकों को नोटिस देने का मामला, HC ने 24 जुलाई तक सुरक्षित रखा फैसला

हाईकोर्ट ने सचिन पायलट गुट को राहत दी है। पायलट गुट को 3 दिन का और समय मिला है। कोर्ट ने 24 तक फैसला सुरक्षित रखा है।

21/07/2020

कोरोना को लेकर सर्वदलीय एवं सर्वसमाज की बैठक, CM ने कहा, अगले दो सप्ताह महत्वपूर्ण

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने धर्मगुरुओं और विभिन्न दलों के नेताओं से सहयोग की अपील करते हुए कहा कि फिलहाल कोरोना वायरस को लेकर प्रदेश में स्थिति नियंत्रण में है, लेकिन अगले दो-तीन सप्ताह तक लोगों को भीड़भाड़ से दूर रहना बेहद जरूरी है।

18/03/2020

केन्द्र सरकार जुमलेबाज, लोकतंत्र के लिए कांग्रेस को विजयी बनाएं: गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आमजन का आह्वान किया है कि देश में प्रेम, भाईचारा कायम रखने व लोकतंत्र को बचाने के लिए कांग्रेस को विजयी बनाएं तथा देश में नफरत फैलाने वाली भाजपा को उखाड़ फैकें।

12/04/2019

मकर संक्रांति: जयपुरवासियों के साथ विदेशी सैलानी भी उड़ा रहे पतंग

देशभर में मकर संक्रांति का त्यौहार मनाया जा रहा है। इस बार मकर संक्रांति 15 को पड़ रही है, लेकिन कलक्टर ने 14 की छुट्‌टी घोषित की है।

14/01/2020

भीलवाड़ा: अवैध खनन के विरोध में ग्रामीणों ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

ग्रामीणों ने डीएम को ज्ञापन सौंपकर अवैध खनन करने वाले भूमाफियाओं और खनिज माफियाओं के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करते हुए चारागाह भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराने की मांग की है।

29/06/2019

कोटा: आयकर विभाग की छापेमारी में 90 करोड़ से ज्यादा अघोषित आय उजागर

आयकर विभाग की शहर के दो बड़े कारोबारी समूहों के यहां दो दिन से चल रही कार्रवाई शुक्रवार को लगभग पूर्ण हो गई।

03/08/2019

पुलिस सुरक्षा में देर रात तक जमा हुई ईवीएम मशीनें

लोकसभा चुनाव के तहत जिले की 18 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान संपन्न कराने के बाद पोलिंग पार्टियों की ओर से सोमवार देर रात तक ईवीएम और वीवीपैट मशीने राजस्थान तथा कॉमर्स कॉलेज में जमा कराई गई।

07/05/2019