Dainik Navajyoti Logo
Friday 14th of May 2021
 
राजस्थान

नाकाबंदी तोड़ते ही पुलिस कर देगी वाहन पंक्चर

Wednesday, March 04, 2020 09:55 AM
कॉन्सेप्ट फोटो

जयपुर। नाकाबंदी तोड़ने वाले बदमाशों को काबू करने के लिए पुलिस ने अब नया तरीका निकाका है। उनकी गाड़ी को रोकने के लिए पुलिस अब पंप एक्शन गन का इस्तेमाल कर सीधे टायरों पर फायर कर उन्हें पंक्चर कर देगी। पुलिस गाड़ी के रेडिएटर पर भी फायर करेगी। नाकाबंदी के दौरान पुलिस एसयूवी गाड़ियों को रोककर उसके चालक के ड्राइविंग लाइसेंस के साथ पूरे दस्तावेजों की जांच करेगी। ऐसे ही कई अहम निर्देशों के साथ पुलिस मुख्यालय ने गश्त एवं नाकाबंदी को लेकर स्थाई आदेश जारी किया है। इस आदेश को सभी एडीजी, आईजी, कमिश्नर और सभी पुलिस अधीक्षक को भेजा गया है। 

आदेश नहीं मानते थानाप्रभारी
आदेश में लिखा गया है कि पुलिस मुख्यालय के इन निर्देशों की पालना थानाप्रभारी नहीं करते हैं। विगत वर्षों में सीकर, जैसलमेर सहित राज्य के कई जगहों पर अपराधियों से आमना-सामना होने के दौरान कई पुलिस अधिकारी/कार्मिकों को बलिदान देना पड़ा है। एक पुलिस निरीक्षक और कांस्टेबल की कोतवाली फतेहपुर सीकर में बदमाशों की मुठभेड़ में मौत हो गई थी। इसी प्रकार जैसलमेर में उप निरीक्षक के साथ बदमाशों ने थाना सांकड़ा इलाके में डंडे, सरिए और बल्लों से मारपीट कर दी। यदि थानाप्रभारी हथियार साथ रखें, तो वारदात होने का अंदेशा कम रहता है।

ऐसे मजबूत होगी नाकाबंदी
-थानाप्रभारी या गश्त पर जाने वाले अधिकारी थाने से बाहर जाते समय वर्दी के साथ आवश्यक रूप से पर्याप्त संख्या में हथियारबंद पुलिसकार्मिकों को भी साथ लेकर जाएंगे, जिन्हें विशेष रूप से हाल ही में आधुनिक हथियारों (एके-47, इंसास, पंप एक्शन गन) के उपयोग में प्रशिक्षित कराया गया हो। अधिकारी भी स्वयं हथियार लेकर जाएंगे।

-नाकाबंदी के दौरान लगाया जाने वाला बुलेट प्रूफ जैकेट (यदि उपलब्ध हो), हथियारबंद, रिफलेक्टर जैकेट, ड्रेगन लाइट, पंप  एक्शन गन, टायर पंचर इक्यूपमेंट साथ रखेंगे।
- नाकाबंदी या सामान्य गश्त के दौरान भी एसयूवी वाहनों पर अधिक ध्यान दिया जाए।
- ऐसे वाहन जिनके शीशे काले हों अथवा गहरे रंग के हों और आगे पीछे बंपर लगे हुए हो। ऐसे वाहनों पर तुरंत कार्रवाई होनी चाहिए।
- वाहन चेकिंग के दौरान वाहन में अपराधी हो सकते हैं और उनके द्वारा पुलिस पार्टी पर फायरिंग की जा सकती है। ऐसे में नाकाबंदी के दौरान पूर्ण सावधानी बरती जाए।
- बेरिकेड्स के ऊपर रिफ्लेक्टर पट्टी आवश्यक रूप से लगाएं। वहीं, बेरिकेड्स पर किसी भी व्यक्ति या संस्था का नाम अंकित नहीं होना चाहिए।
- नाकाबंदी के दौरान चिन्हित स्थानों के आसपास अधिक से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाएं। जो सीसीटीवी कैमरे खराब हों उन्हें ठीक किया जाए। यदि बॉडी कैमरा उपलब्ध हो तो नाकेबंदी के दौरान उसका इस्तेमाल हो।

 

यह भी पढ़ें:

सीएम गहलोत ने PM मोदी को लिखा पत्र, कहा- कोरोना महामारी पर राज्यों के साथ जल्द करें चर्चा

कोरोना महामारी के बढ़ते रूप और बदली परिस्थितियों को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर राज्यों के मुख्यमंत्रियों से जल्दी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा करने का आग्रह किया है। गहलोत ने पत्र में उम्मीद जताई है कि केन्द्र सरकार के सहयोग और समन्वय से जल्दी ही कोरोना महामारी की चुनौती पर जीत हासिल हो सकेगी।

03/08/2020

नियमों के अलावा भी अपनी जिम्मेदारी निभाएं अधिकारी : आर्य

परिवहन और अन्य विभागों के अधिकारी और कर्मचारी सड़क सुरक्षा के लिए प्रशासन, सरकार और नियमों के अलावा भी अपनी जिम्मेदारी निभाएं।

23/03/2021

गौतस्कर से मारपीट के आरोप में 7 लोग गिरफ्तार

अलवर जिले के शाहजहांपुर थाना क्षेत्र में पुलिस ने गौतस्कर से मारपीट करने के आरोप में 7 ग्रामीणों को गिरफ्तार किया है।

24/09/2019

जनता से मिले सुझावों के आधार पर प्रदेश को राहत देने वाला होगा बजट: महेश जोशी

सरकारी मुख्य सचेतक डॉ. महेश जोशी ने बजट को लेकर कहा है कि जनता से मिले सुझावों के आधार पर प्रदेश को राहत देने वाला बजट इस बार आएगा। जोशी ने कहा है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जो बजट लेकर आएंगे वह जनता का बजट होगा और जनता के सुझावों के आधार पर राहत देने वाला होगा।

21/02/2021

बाड़ाबंदी में रह रहे कांग्रेस गठबंधन के प्रत्याशियों की असम रवानगी, सीएम अशोक गहलोत से की मुलाकात

असम विधानसभा चुनाव में मतदान के बाद खरीद-फरोख्त की आशंका के चलते जयपुर शिफ्ट किए गए असम कांग्रेस गठबंधन के प्रत्याशी शुक्रवार को अचानक वापस असम के लिए रवाना हो गए। अचानक बने रवानगी के कार्यक्रम को लेकर कांग्रेस के सियासी गलियारों में भी चर्चाएं खूब है।

16/04/2021

रेस्टोरेंट, भोजनालय, मिठाई की दुकानें सशर्त खुलेंगी, पैकिंग और होम डिलीवरी ही होगी

राज्य सरकार ने प्रदेश में रेस्टोरेंट, भोजनालय और मिठाई की दुकानों को सशर्त कुछ नियमों का पालन करते हुए खोलने की छूट दे दी है। गृह विभाग ने बुइस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। आदेशों के अनुसार रेस्टोरेंट, भोजनालय और मिठाई की दुकानें के केवल पैकिंग और होम डिलीवरी की शर्त पर खुल सकेंगे।

14/05/2020

वोट करने के लिए बूथ पर लगी कतारें

राज्य में दूसरे चरण का मतदान चल रहा है। इस लेकर लोगों में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है। लोग लाइनों में लगकर वोट डाल रहे है।

06/05/2019