Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 12th of May 2021
 
राजस्थान

कोरोना के चलते नगर निगम चुनाव में चुनावी रंगत फीकी, घर-घर जाकर प्रचार में जुटे प्रत्याशी

Friday, October 23, 2020 14:05 PM
डोर टू डोर प्रचार में जुटे प्रत्याशी।

जयपुर। प्रदेश में 29 अक्टूबर से 2 चरणों में होने वाले 6 नगर निगमों के चुनाव में वैश्विक महामारी कोरोना के चलते चुनाव प्रचार के लिए भीड़ नहीं जुटने एवं चुनावी शौर की कमी के कारण चुनावी रंगत फीकी नजर आ रही हैं। राजधानी जयपुर के अलावा जोधपुर एवं कोटा में हो रहे नगर निगम चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया पूरी होने के बाद 6 निगमों के 560 वार्डों में 2 हजार से अधिक प्रत्याशी अपनी चुनावी किस्मत आजमा रहे हैं और इसके लिए चुनाव प्रचार शुरू कर दिया है, लेकिन कोरोना के चलते चुनाव प्रचार के दौरान कोई बड़ा आयोजन नहीं कर सकने की पाबंदी एवं सोशल डिस्टेंसिंग की पालना के चलते उम्मीदवार कुछ ही लोगों को साथ लेकर घर घर जाकर चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं।

इस दौरान मास्क लगा होने एवं हाथ नहीं मिलाने तथा दूर से ही बात कर चुनाव प्रचार करने तथा लोगों को कोरोना का डर होने के कारण वे उनके चुनाव प्रचार से दूर भाग रहे हैं। इस बार चुनाव में पहले की भांति लोगों का हुजूम नहीं उमड़ने एवं चुनावी शौर नहीं होने से चुनावी रंगत फीकी नजर आ रही हैं। चुनावी किस्मत आजमा रहे कुछ उम्मीदवारों का कहना है कि कोरोना के चलते चुनाव प्रचार में बड़ी दिक्कते आ रही है और लोगों के पास जाकर अपने पक्ष में करने के लिए समझाना थोड़ा मुश्किल हो रहा है। इस बार वार्ड बदलने से भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।     

जयपुर ग्रेटर नगर निगम में वार्ड संख्या 40 से भाजपा प्रत्याशी विजय पाल सिंह ने बताया कि कोरोना गाइडलाइन के चलते भीड़ के रूप में कहीं भी एकत्रित नहीं हो रहे हैं और घर-घर जाकर मतदाताओं से वोट मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि मास्क लगाकर एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखते हुए अपना चुनाव प्रचार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हालांकि चुनावी शौर नहीं होने से चुनावी रंगत तो नहीं बनी है लेकिन स्थानीय होने के कारण उन्हें कोई परिशानी नहीं हो रही है और जनता का पूरा सहयोग मिल रहा है। उन्होंने बताया कि मतदाताओं के नाम एवं नम्बर लेकर उनसे फोन पर भी संपर्क बनाए हुए हैं। इसी तरह अन्य उम्मीदवारों का कहना है कि वे घर-घर जाकर संपर्क में लगे हुए हैं और सोशल मीडिया के जरिए अपने चुनाव प्रचार पर ज्यादा जोर दे रहे हैं।

चुनाव में प्रत्याशी बड़े बैनर लगाने एवं अन्य आयोजन की बजाय घर-घर संपर्क कर मतदाताओं के नाम एवं फोन नंबर लेकर सोशल मीडिया के जरिए व्हाटसएप, फेसबुक, वीडियो कॉल आदि के माध्यम से वोटर को अपने पक्ष में करने के प्रयास कर रहे हैं। सत्तारुढ़ कांग्रेस एवं भाजपा के नेता भी सोशल मीडिया के जरिए ज्यादा बयानबाजी कर रहे हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा एवं भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया दोनों नेता अपनी-अपनी पार्टी की जीत के दावे कर रहे हैं। चुनाव में कांग्रेस एवं भाजपा के बीच ही मुख्य मुकाबला माना जा रहा है। हालांकि दोनों पार्टियों के कई बागी उम्मीदवारों के भी चुनाव मैदान में डटे रहने से कई जगहों पर मुकाबला त्रिकोणीय भी होने के आसार हैं। दोनों पार्टी के नेता बागियों को समझाने में भी लगे हैं। कई अन्य निर्दलीय प्रत्याशियों का दबदबा होने से भी मुकाबला त्रिकोणीय ज्यादा बनता नजर आ रहा हैं। 

यह भी पढ़ें:

राज्यपाल कलराज मिश्र की प्रदेशवासियों से प्लाज्मा दान करने की अपील, कहा- गंभीर मरीजों को मिलेगा जीवनदान

राज्यपाल कलराज मिश्र ने प्रदेशवासियों से प्लाज्मा दान करने का अनुरोध करते हुए कहा कि प्लाज्मा दान करने के लिए लोग आगे आएं ताकि कोविड-19 से ग्रसित गंभीर मरीजों को प्लाज्मा थैरेपी से जीवनदान मिल सके। मिश्र ने कहा कि प्लाज्मा दान करने का तरीका बहुत आसान है।

13/10/2020

द्रव्यवती नदी सहित दर्जनभर स्थानों से हटाए अतिक्रमण

जयपुर विकास प्राधिकरण के प्रवर्तन दस्ते ने द्रव्यवती नदी के बहाव क्षेत्र एवं पृथ्वीराज नगर सहित लगभग एक दर्जन स्थानों पर किए गए अतिक्रमणों को हटाया है।

15/10/2019

गहलोत सरकार ने सदन में हासिल किया विश्वास मत, ध्वनिमत से पारित हुआ विश्वास प्रस्ताव

राजस्थान विधानसभा का शुक्रवार को विशेष सत्र शुरू हुआ। गहलोत सरकार ने सदन में बहुमत साबित करने के लिए विश्वास मत प्रस्ताव पेश किया।

14/08/2020

किसानों के लिए बिजली दरों में नहीं की जाएगी बढ़ोतरी: अशोक गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने फिर दोहराया है कि आने वाले चार सालों में किसानों के लिए बिजली की दरों में कोई बढ़ोतरी नहीं की जाएगी।

28/02/2020

वृक्ष मित्र अभियान में स्कूलों में लगाए 11.10 लाख पौधे

शिक्षा विभाग के वृक्ष मित्र अभियान के तहत प्रदेशभर के स्कूलों में 11 लाख 10 हजार 626 पौधे अब तक लगाए गए हैं। इससे छात्रों को पर्यावरण सुरक्षा के प्रति जागरुक किया जा रहा है।

23/12/2019

CM कहेंगे तो मंडावा उपचुनाव जिता दूंगा, नहीं तो हरा दूंगा: मास्टर भंवरलाल

प्रदेश की गहलोत सरकार में समाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल ने एक ऐसा बयान दिया है, जिसको लेकर चर्चा हो रही है। मेघवाल ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कहेंगे तो मंडावा में उपचुनाव में कांग्रेस को जिता देंगे नहीं तो हरा देंगे।

10/10/2019

भोजन के पैकेट किए जा रहे वितरित

कारोना आपदा के कारण लागू लाॅकडाउन के दौरान गरीब और असहाय लोगों को भोजन की समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

07/05/2020