Dainik Navajyoti Logo
Saturday 27th of February 2021
 
राजस्थान

किसानों के सम्मान में महिला कांग्रेस का 28 फरवरी को शाहजहांपुर कूच, किसानों के समर्थन में बैठेंगी धरने पर

Tuesday, February 23, 2021 14:20 PM
रेहाना रियाज (फाइल फोटो)

जयपुर। केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलरत किसानों के समर्थन में अब प्रदेश महिला कांग्रेस कार्यकर्ता भी मैदान में उतर चुकी है। 'किसानों के सम्मान में महिला कांग्रेस मैदान में' के नारे के साथ प्रदेश महिला कांग्रेस 28 फरवरी को शाहजहांपुर बॉर्डर के लिए कूच करेगी। 28 फरवरी को शाहजहांपुर बॉर्डर पर प्रदेश महिला कांग्रेस के पदाधिकारी और कार्यकर्ता सुबह 10 बजे से लेकर दोपहर 2 बजे तक किसानों के समर्थन में धरने पर बैठेंगी। इस दौरान महिला कांग्रेस दो माह से ज्यादा समय से धरने पर बैठे किसानों के दुख-दर्द भी साझा करेंगी। प्रदेश महिला कांग्रेस की नवीन कार्यकारिणी गठित होने के बाद ये पहला बड़ा कार्यक्रम है।

महिला कांग्रेस की प्रदेशाध्यक्ष रेहाना रियाज ने बताया कि शाहजहांपुर बॉर्डर पर 28 फरवरी को होने वाले कार्यक्रम में प्रदेश भर से 3 हजार महिला कांग्रेस की कार्यकर्ता शामिल होंगी। शाहजहांपुर बॉर्डर पर होने वाले धरने को लेकर महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को अलग-अलग जिम्मेदारियां दी गई है। रेहाना रियाज ने बताया कि कृषि कानूनों के खिलाफ दो माह से से भी ज्यादा समय से किसान अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठा हुआ है। हाड़कंपा देने वाली सर्दी में भी किसान धरने पर बैठा रहा, लेकिन मोदी सरकार के कानों पर जूं तक नहीं रेंगी। किसानों की मांगों का निस्तारण करने की बजाय भाजपा और उससे जुड़े संगठन किसानों को आतंकवादी और खालिस्तानी बताकर अन्नदाता का अपमान कर रहे हैं, जिसे महिला कांग्रेस बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि 28 फरवरी को महिला कांग्रेस के प्रस्तावित कार्यक्रम मोदी सरकार और भाजपा को चुनौती है कि वे किसानों की बात मानकर इन कानूनों को वापस लें। बता दें कि इससे पहले महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गांव-गांव ढाणी-ढांणी जाकर कृषि कानूनों के खामियां गिनाई थीं।

यह भी पढ़ें:

प्रदेश में पेट्रोल की कीमत 100 रुपए के पार, गंगानगर में प्रीमियम पेट्रोल 101.80 रुपए प्रति लीटर

राजस्थान में पेट्रोल और डीजल के दामों में आग लगी हुई है। यहां पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर के पार पहुंच गया है। बुधवार को राज्य में पेट्रोल 26 पैसे प्रति लीटर और डीजल 27 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ। इसके साथ ही राजधानी जयपुर में पेट्रोल के दाम करीब 93.86 रुपए प्रति लीटर और डीजल के दाम करीब 85.94 रुपए प्रति लीटर हो गए।

27/01/2021

विजय डाटा ग्लोब ऑयल मस्टर्ड स्टार से सम्मानित

सरसों तेल उत्पाद के लिए नई तकनीक को बढ़ावा देने, उसके प्रोत्साहन के लिए सरकार को प्रेरित करने के लिए राजस्थान राज्य की प्रमुख तेल उत्पादन में अग्रणी विजय सोल्वेक्स लिमिटेड को इस बार ग्लोब आॅयल मस्टर्ड स्टार से नवाजा गया है।

01/10/2019

सवाई मानसिंह अस्पताल में हुए अग्निकांड की जांच के लिए कमेटी गठित

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. रघु शर्मा ने शुक्रवार को प्रातः सवाई मानसिंह चिकित्सालय में जाकर लाईफ लाईन ड्रग स्टोर में हुये अग्निकांड स्थल का अवलोकन किया।

10/05/2019

जयपुर: घर में अवैध हथियार बनाने का कारखाना, भारी मात्रा में बैरल, ट्रीगर और बट प्लेट जब्त, 1 गिरफ्तार

जयपुर जिले की प्रागपुरा थाना पुलिस ने अवैध गतिविधियों की रोकथाम के लिए चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत कार्रवाई करते हुए पंडितपुरा गांव में अवैध हथियार बनाने का कारखाना पकड़ा है। पुलिस ने कारखाना संचालक सुरेश जांगीड़ को गिरफ्तार किया है। आरोपी अपने घर में ही चोरी छिपे अवैध हथियार बनाने का कारखाना चला रहा था।

24/12/2020

मेयर-सभापति चयन प्रक्रिया को लेकर सरकार को नोटिस

उदयपुर। निकाय चुनावों में मुखिया (मेयर या सभापति) का चयन पार्षदों से करवाने के निर्णय पर उदयपुर निगम के पूर्व पार्षद व विधि समितिध्यक्ष दिनेश गुप्ता ने अधिवक्ता प्रवीण खंडेलवाल के जरिए मुख्यमंत्री, स्वायत्त शासन मंत्री, मुख्य सचिव, प्रमुख शासन सचिव, निदेशक व संयुक्त सचिव को लीगल नोटिस भेजा है व दो दिन में इस निर्णय को वापस लेने का अल्टीमेटम दिया है अन्यथा मामला हाईकोर्ट में ले जाने की बात कही है।

19/10/2019

लव जिहाद शब्द भाजपा की उपज, इसके जरिए सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने का षड्यंत्र: गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लव जिहाद को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा है। गहलोत ने कहा कि लव जिहाद भाजपा द्वारा राष्ट्र को विभाजित करने और सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ने के लिए निर्मित एक शब्द है।

20/11/2020

साइकिल वितरण अधर में, शिक्षा विभाग बेखबर

प्रदेशभर के सरकारी स्कूलों में साइकिलों का वितरण हुआ या नहीं इस बारे में शिक्षा विभाग बेखबर है। इसका कारण स्कूलों द्वारा आदेश नहीं मानना है।

25/04/2019