Dainik Navajyoti Logo
Monday 19th of April 2021
 
राजस्थान

कोटा: कोचिंग खुलते ही एलन कॅरियर के 18 स्टूडेंट्स पॉजिटिव मिले, अन्य स्टूडेंट्स की होगी रेंडम सैंपलिंग

Thursday, January 21, 2021 10:10 AM
अभिभावकों के साथ आते बच्चे।

कोटा। जिसका डर था कोटा में वही हो गया। कोचिंग खुलने के साथ ही कोटा के प्रमुख कोचिंग संस्थान एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के 18 स्टूडेंट्स कोरोना पॉजीटिव मिले हैं। काफी प्रयासों के बाद कोटा के कोचिंग संस्थानों में क्लासरूम पढ़ाई शुरू हुई थी, लेकिन क्लासरूम में पढ़ाई शुरू होने के तीसरे दिन ही बुधवार को एलन कॅरियर के 18 स्टूडेंट्स की रिपोर्ट कोविड पॉजिटिव मिली है। रिपोर्ट पॉजिटिव मिलते ही संस्थान में हड़कंप मच गया है। पॉजिटिव विद्यार्थियों को अपने हॉस्टल्स में होम आइसोलेट कर दिया गया है। अब अन्य स्टूडेंट्स की भी रेंडम सैम्पलिंग करवाने की बात सामने आ रही है।

साथ ही गाइडलाइन के अनुरूप पॉजिटिव स्टूडेंट्स के क्लासरूम को एक दो दिनों के लिए बंद भी किया जा सकता है। क्योंकि, जांच के दौरान ऐसा प्रोटोकॉल अपनाया जाता है। क्लासरूम और परिसर को सेनेटाइज करने के उपरांत पढ़ाई शुरू की जाती है। हालांकि, अब देखने वाली बात यह है कि स्टूडेंट्स कोचिंग परिसर में कितने लोगों से मिले थे। इन सभी की जांच करवाई जानी है। यदि सभी की जांच होती है तो बड़ी संख्या में छात्रों के पाजीटिव मिलने की आशंका है। क्योंकि जो छात्र  पॉजिटिव मिले हैं वह पिछले कई दिनों से कोचिंग में  पंजीयन करवाने के लिए लगातार संस्थान के चक्कर काट रहे थे। हॉस्टल और मैस में भी खाना खा रहे थे।

पॉजिटिव रिपोर्ट मिलते ही सैंपलिंग बंद
बड़ी संख्या में एलन के स्टूडेंट्स पॉजिटिव आने के बाद सीएमएचओ की टीम ने दूसरे  स्टेट से आने वाले स्टूडेंट्स के सैंपल लेने ही बंद कर दिए हैं। स्टूडेंट्स से अपने घर से रिपोर्ट  नेगेटिव लाने की बात कही जा रही है।  बताया जा रहा है कि ऐसा कोचिंग संस्थान के दबाव से किया है। ऐसे में स्टूडेंट्स के सामने समस्या उत्पन्न हो गई है। क्योंकि, स्टूडेंट्स वहां से स्वस्थ मानकर यहां आ रहे हैं। यहां आते ही कोविड पॉजिटिव हो रहे हैं। स्टूडेंट्स की जांच नहीं होती है तो उनके सामने बड़ी दिक्कत हो सकती है। हालांकि, जिला प्रशासन ने समस्या का निवारण करने की बात कही है।

एलन कॅरियर को उठाना होगा खर्च
पॉजिटिव स्टूडेंट्स एलन कोचिंग के हैं। उन्होंने अपना नाम पता सभी एलन का दिया है। सैंपलिंग टीम ने लैंड मार्क सिटी और नया नोहरा में एलन परिसर में स्टूडेंट्स के सैंपल लिए थे। यहीं की जांच रिपोर्ट में स्टूडेंट्स पॉजीटिव मिले हैं। गाइड लाइन के अनुसार अब उनके उपचार का सारा खर्च एलन कोचिंग को उठाना होगा। यहां तक कि उनकी रिपोर्ट नेगेटिव नहीं आने तक स्टूडेंट्स की देखभाल भी संस्थान द्वारा की जाएगी। ऐसा नहीं करने पर जिला प्रशासन द्वारा कार्रवाई का प्रावधान है। अधिक स्टूडेंट्स पॉजिटिव आने पर कोचिंग, स्कूल और कॉलेज को फिर से बंद किया जा सकता है।

इनका कहना है
अन्य राज्यों के स्टूडेंट्स की जांच हमारे पास नहीं होगी। उनको अपने घर से रिपोर्ट नेगेटिव लानी होगी। ऐसी गाइडलाइन मिली है। जांच के दौरान पहचान पत्र भी मांगे जाएंगे।
-डॉ. हर्षद सिंह नरूका, कोविड सैंपल प्रभारी

गाइड लाइन के अनुसार बाहरी राज्यों से आने वाले विद्यार्थियों को वहीं से कोरोना की जांच करवाकर नेगेटिव रिपोर्ट लाना है। यहां रहने वाले बाहरी राज्यों के बच्चों की जांच तो कोटा में ही होगी। अभी तक जो बच्चे पॉजिटिव आए हैं वह कोचिंग जाने से पहले के हैं। ऐसे में उन्हें हॉस्टलों में ही क्वारेंटाइन करना है। यदि किसी कोचिंग संस्थान की लापरवाही के कारण और बड़ी संख्या में विद्यार्थी पॉजिटिव आते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई करने का प्रावधान है।
-उज्जवल राठौड़, जिला कलेक्टर, कोटा

गाइडलाइन की अवहेलना
कोटा शहर में 18 जनवरी को स्कूल, कॉलेज और कोचिंग खुलते ही जिला प्रशासन ने प्रबंधकों की बैठक ली थी। उनको बैठक में गाइडलाइन की पालना करने के सख्त निर्देश दिए थे। बैठक में कोविड जांच नेगेटिव आने के बाद ही छात्रों को प्रवेश देने की बात कही गई थी, लेकिन एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट ने गाइडलाइन की अवहेलना कर दी। संस्थान ने बिना जांच ही छात्रों को प्रवेश दे दिया। इतना ही नहीं पॉजीटिव विद्यार्थियों में सभी का पता एलन अंकित हैं। साथ ही सैम्पल भी एलन परिसर में लिए गए थे। ऐसे में यह स्पष्ट है कि स्टूडेंट्स लगातार कोचिंग परिसर में अन्य के क्लोज कांटेक्ट में थे। स्टूडेंट्स से बात करने पर जानकारी मिली कि यह सभी पिछले कई दिनों पहले ही कोटा आ गए थे और कोटा में रहकर ही पढ़ाई कर रहे थे।

यह भी पढ़ें:

सरकार ओलावृष्टि प्रभावित किसान की करेगी मदद : पायलट

उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा है कि राज्य में हुई बरसात एवं ओलावृष्टि के कारण कई क्षेत्रों में फसलों को हुए नुकसान पर सरकार किसानों की हरसंभव मदद करेगी।

01/03/2020

नियुक्ति की मांग को लेकर जयपुर में 118 दिन से धरना दे रहे चयनित शिक्षक

1998 के बैनर तले अपनी नियुक्ति की मांग को लेकर कलेक्ट्रेट सर्किल जयपुर पर चल रहे धरने का आज 118 दिन था

02/10/2019

देश के मुसलमानों के खिलाफ नहीं नागरिकता संशोधन कानून, डरने की जरूरत नहीं : दरगाह दीवान

ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती दरगाह के दीवान सैयद जैनुअल आबेदीन ने नागरिकता संशोधन कानून से उपजे विवाद पर कहा कि यह कानून किसी भी तरह से इस देश के मुसलमानों के विरुद्ध नहीं है और किसी भी मुसलमान को डरने की जरूरत नहीं है।

19/12/2019

बाड़मेर में आबकारी पुलिस ने की बड़ी कार्रवाई, गेंहू की आड़ में शराब की तस्करी

कहते है कोई डाल- डाल तो कोई पात पात, ऐसा कुछ नजर आ रहा है इन दिनों शराब तस्करों और आबकारी विभाग के बीच। शराब तस्कर अलग-अलग तरीके बदल कर आबकारी विभाग की आंखों मे धूल झोंकने की कोशिश कर रहे है लेकिन विभाग की मुस्तेदी के आगे सब बेबस है।

28/07/2019

दोनों दलों में पार्टी से निकाले नेताओं को गले लगाने की होड़

राजस्थान में कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी लोकसभा चुनाव में ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतने के लिए जिताऊ नेताओं का सहारा लेने के लिए अपनी विचारधारा और उनका पिछला इतिहास

23/04/2019

भीड़भाड़ वाली जगह बैग चोरी करने वाले शातिर गिरफ्तार

कमिश्नरेट की सीएसटी टीम, सवाई माधोपुर पुलिस और मुहाना पुलिस ने शादी समारोह, भीड़भाड़ वाले इलाके और मण्डी मार्केट से बैग चोरी करने वाले चोरों को गिरफ्तार किया है।

03/06/2020

बीजेपी प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल को सौंपा ज्ञापन, छबड़ा घटना की न्यायाधीश से जांच कराने की मांग

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण चतुर्वेदी के नेतृत्व में बुधवार को भाजपा नेताओं के प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल कलराज मिश्र मुलाकात करके उन्हें ज्ञापन सौंपा और उपचुनाव क्षेत्रों में केंद्रीय बलों की तैनाती और छबड़ा घटना की न्यायाधीश से जांच कराने की मांग की।

14/04/2021