Dainik Navajyoti Logo
Sunday 19th of September 2021
 
राजस्थान

हाईकोर्ट ने पूछा- नदी किनारे खातेदारी भूमि पर बजरी खनन पट्टे क्यों नहीं, नोटिस कर मांगा जवाब

Friday, November 06, 2020 09:00 AM
राजस्थान हाईकोर्ट।

जयपुर। राजस्थान हाईकोर्ट ने खनन नीति-2020 के तहत नदी के दोनों तरफ 5-5 किलोमीटर की दूरी में खातेदारी भूमि पर बजरी खनन के पट्टे जारी नहीं करने पर खान एवं पर्यावरण मंत्रालय सचिव और प्रदेश के खान सचिव को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। न्यायाधीश सबीना और न्यायाधीश प्रकाश गुप्ता की खंडपीठ ने यह आदेश विजय लड्ढ़ा की याचिका पर दिए।

याचिका में अधिवक्ता विमल चौधरी और अधिवक्त योगेश टेलर ने कोर्ट को बताया कि पर्यावरण मंत्रालय की ओर से जारी खनन नीति-2020 में प्रावधान किया गया है कि नदी के दोनों तरफ 5-5 किलोमीटर की दूरी में आने वाली खातेदारी भूमि पर बजरी खनन के पट्टे संबंधित भूमि पर बजरी का पुनर्भरण की संभावना की योजना पेश करने पर ही दिए जाएंगे। इसके अलावा खनन नीति में यह भी प्रावधान किया गया कि जिस नदी में बजरी का पुनर्भरण संभव नहीं है। उसके दोनों तरफ इस दूरी की खातेदारी भूमि पर बजरी के खनन पट्टे दिए जा सकते हैं, लेकिन इस बजरी का उपयोग सिर्फ सरकारी प्रोजेक्ट के लिए ही किया जाएगा।

याचिका में कहा गया कि खनन नीति में इस तरह की शर्ते अवैध है। नदी के आसपास के खेतों में बाढ़ के कारण बजरी आती है, जिसका पुनर्भरण नहीं होता है। वहीं संबंधित भूमि से बजरी नहीं हटाई जाए तो वह खेती के काम नहीं आती है। वर्ष 2015 की नीति में इन जमीनों पर खनन पट्टे देने का प्रावधान था। ऐसे में नई खनन नीति की इन शर्तों को अवैध घोषित किया जाए। जिस पर सुनवाई करते हुए खंडपीठ ने संबंधित अधिकारियों को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

सचिन पायलट से आबिद ने की मुलाकात

उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट से उनके निवास पर राजस्थान अल्पसंख्यक विभाग के नवनियुक्त प्रदेशअध्यक्ष आबिद कागजी ने मुलाकात की।

17/01/2020

कोरोना के खिलाफ जंग में रेलकर्मियों का योगदान, 800 से अधिक मास्क बनाकर बांटे

रेलवे कर्मचारियों की ओर से कोरोना वायरस के कारण आए संकट में सामाजिक योगदान पूरी क्षमता व जिम्मेदारी के साथ किया जा रहा है।

11/04/2020

राजस्थान में पंचायत चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी के लिए जरूरी हैं ये दस्तावेज

राज्य में पंच-सरपंच के लिए होने वाले चुनावों में नामांकन भरने वाले को किसी भी परेशानी से बचने के लिए निर्वाचन आयोग ने विस्तृत दिशा-निर्देश जारी कर दिए।

07/01/2020

एसीबी की कार्रवाई, वित्त सलाहकार एवं दलाल 2 लाख रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) मुख्यालय स्पेशल शाखा ने शुक्रवार को कार्रवाई करते हुए शाखा द्वारा शुक्रवार को कार्रवाई करते हुए स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट उदयपुर एवं अतिरिक्त चार्ज नगर निगम उदयपुर में कार्यरत वित्त सलाहकार आबिद खान एवं दलाल आरिफ को 2 लाख रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया।

10/07/2020

हाईकोर्ट में पेश हुए स्वायत्त शासन विभाग के अधिकारी

मोती डूंगरी गणेश मंदिर से जुड़े मामले में स्वायत्त शासन विभाग के अधिकारी हाईकोर्ट में पेश हुए।

15/10/2019

राजस्थान सिविल सेवा अपीलीय अधिकरण ने तबादला आदेश पर लगाई रोक, अतिरिक्त स्वास्थ्य निदेशक से मांगा जवाब

राजस्थान सिविल सेवा अपीलीय अधिकरण ने पंचायती राज विभाग की अनुमति लिए बिना महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता का तबादला करने पर अतिरिक्त स्वास्थ्य निदेशक से जवाब मांगा है। इसके साथ ही अधिकरण ने तबादला आदेश पर रोक लगा दी है।

28/10/2020

राजस्थान एपिडेमिक अध्यादेश के तहत 26.18 करोड़ रुपए से अधिक का जुर्माना वसूला: डीजीपी

प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रोकथान के लिए लागू किए गए राजस्थान ऐपिडेमिक अध्यादेश के तहत अब तक करीब 26 करोड़ 18 लाख रुपए से अधिक जुर्माना वसूल किया जा चुका है। पुलिस महानिदेशक एम एल लाठर ने बुधवार को बताया कि इस दौरान पुलिस ने 13 लाख 75 हजार 194 वाहनों के चालान काटे तथा 1 लाख 81 हजार 141 वाहनों को जब्त किया गया।

30/12/2020