Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 3rd of August 2021
 
राजस्थान

निजी कॉलेज स्थापित करने के लिए शहरी और ग्रामीण क्षेत्र की भूमि के आकार में अंतर क्यों रखा: हाईकोर्ट

Friday, May 14, 2021 15:25 PM
राजस्थान हाईकोर्ट।

जयपुर। राजस्थान हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से पूछा है कि निजी कॉलेज स्थापित करने के लिए शहरी और ग्रामीण क्षेत्र की भूमि के आकार में अंतर क्यों रखा गया है। न्यायाधीश अशोक गौड़ ने यह आदेश श्री राज राजेश्वरी शिक्षण समिति की याचिका पर दिए। याचिका में कोर्ट को बताया गया कि प्रदेश में वर्ष 2014 तक निजी कॉलेज स्थापित करने के लिए दस एकड़ भूमि की आवश्यकता निर्धारित की गई थी। वहीं अब राज्य सरकार ने शहरी और ग्रामीण क्षेत्र के लिए अलग-अलग आकार की भूमि होना निर्धारित कर दिया है।

याचिका में बताया कि उच्च शिक्षा विभाग की ओर से शहरी क्षेत्र में निजी कॉलेज स्थापित करने के लिए 2 हजार वर्गमीटर भूमि होना तय किया है। वहीं ग्रामीण क्षेत्र में इस भूमि को 4 गुणा बढ़ाकर 8 हजार वर्गमीटर कर दिया गया है। याचिका में कहा गया कि कॉलेज स्थापित करने के लिए राज्य सरकार दोहरे मापदंड नहीं अपना सकती है। जिस पर सुनवाई करते हुए एकलपीठ ने संबंधित अधिकारियों को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

जनसमस्याओं का समाधान नहीं कर सकते तो ट्रांसफर करा लें अधिकारी: विश्वेन्द्र सिंह

बैठक में सिंह के साथ वन एवं पर्यावरण मंत्री सुखराम विश्नोई के अलावा जिला कलेक्टर एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

03/07/2019

भर्ती प्रक्रिया में सुधार के लिए गठित होगी उच्च स्तरीय समिति, एक महीने में राज्य सरकार को देगी रिपोर्ट

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने विभिन्न राजकीय सेवाओं में भर्तियों की प्रक्रिया समय पर पूरा करने के उद्देश्य से उच्च स्तरीय समिति गठित करने के निर्देश दिए हैं। यह कमेटी भर्तियों को नियमित तरीके से राज्य लोक सेवा आयोग और राज्य कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा निर्धारित कैलेंडर के अनुरुप संपन्न कराने पर अनुशंसा देगी। समिति एक माह में अपनी रिपोर्ट राज्य सरकार को देगी।

07/04/2021

मनरेगा से ग्रामीण जीवन होगा खुशहाल, प्रवासियों को भी मिलेगा रोजगार: सतीश पूनिया

भाजपा प्रदेश डॉ. सतीश पूनिया ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी सरकार के 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज से देश के सभी वर्गों को आत्मनिर्भर बनने में बहुत बड़ा संबल मिलेगा। मजदूर, किसान, छोटे-बड़े उद्यमी, आदिवासी सहित हर तबके को आत्मसम्मान के साथ आत्मनिर्भर बनने का मौका मिलेगा, जिसके सभी सकारात्मक परिणाम आने वाले कुछ दिनों में सामने आने लगेंगे।

18/05/2020

बीसलपुर डैम हुआ हाइटेक, स्काडा सिस्टम से ऑनलाइन खोले जा सकेंगे बांध के गेट

बरसात के दौरान बांध में ज्यादा पानी की आवक पर ऑनलाइन बांध के गेट खोलकर पानी को निकाला जा सकेगा।

03/06/2020

रोडवेज बसों पर भी लगेंगे रेपिड फास्टैग

चित्तौड़गढ़। एक दिसंबर से राष्ट्रीय राजमार्गों की सभी लेन पर इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम लागू होने के साथ ही रोडवेज भी अपनी बसों में रेपिड फास्टैग लगाने जा रही है।

06/11/2019

ओलम्पिक में जिस हॉकी स्टिक से खेले थे संदीप, अब वह वैक्स म्यूजियम में प्रदर्शित

पर्यटन सीजन शुरू होते ही शहर के विभिन्न पर्यटन स्थलों पर टूरिस्टों की आवाजाही बढ़ गई है। पिछले कुछ दिनों से आमेर महल, जंतर-मंतर, हवाहल स्मारक, अल्बर्ट हॉल संग्रहालय और नाहरगढ़ फोर्ट पर पर्यटक परिवार संग विजिट के लिए आ रहे हैं।

05/11/2019

भीलवाड़ा में कोरोना पॉजिटिव 4 और मरीज मिले, प्रदेश में मरीजों की संख्या पहुंची 38

राजस्थान में एक दिन कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के बाद बुधवार को फिर से कोरोना के 6 मरीज मिले हैं। चिकित्सा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह के अनुसार संक्रमित तीन मरीज उसी बांगड़ अस्पताल के हैं, जहां अब तक संक्रमित मरीज आए हैं।

26/03/2020