Dainik Navajyoti Logo
Saturday 6th of June 2020
 
राजस्थान

निलंबन की कार्रवाई में भी दोगला बर्ताव करती है सरकार

Wednesday, December 11, 2019 10:05 AM
पत्रावली को विधि विभाग में भेजा गया।

जयपुर। निकाय संस्थाओं और पंचायती राज संस्थाओं में संस्था प्रमुखों और सदस्यों के खिलाफ कार्रवाई करने में राज्य सरकार भी दोगला बर्ताव करती है। अनअप्रोच वाले अध्यक्ष या सदस्यों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई कर दी जाती है, लेकिन पावर फुल व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई करना तो दूर की बात, उससे संबंधित फाइल को दफ्तर दाखिल कर दी जाती है। प्रदेश में इसका सबसे ताजा उदाहरण करौली नगर परिषद के सभापति और अजमेर नगर निगम के मेयर का है। करौली नगर परिषद के सभापति राजाराम गुर्जर भाजपा से ताल्लुकात रखते है।

राज्य सरकार ने छह दिसंबर को उनके खिलाफ न्यायिक जांच का निर्णय लिया था। उसी दिन स्वायत्त शासन विभाग के निदेशक एवं संयुक्त सचिव उज्जवल राठौड़ ने एक आदेश जारी कर गुर्जर को निलंबित भी कर दिया। निलंबन का कारण बताया गया कि वह पद पर रहते हुए जांच को प्रभावित कर सकते हैं। इसी तरह के और भी उदाहरण है, जिनमें जांच के आदेश के बाद संस्था प्रमुख अथवा सदस्य को निलंबित किया गया। जयपुर जिले की नगर पालिका कोटपूतली के पूर्व अध्यक्ष एवं पालिका सदस्य को भी इसी आधार पर गत 15 नवंबर को निलंबित किया गया था। सिरोही जिले की शिवगंज की पालिका अध्यक्ष कंचन सोलंकी और बारां जिले की छबड़ा नगर पालिका की अध्यक्ष पिंकी साहू को निलंबित किया गया था।

ऐसा हुआ दोगला बर्ताव
नगर निगम अजमेर के मेयर धर्मेन्द्र गहलोत के खिलाफ अवैध निर्माण कराने के आरोप लगे थे। उनकी जांच में वे दोषी भी पाए गए। इसके बाद राज्य सरकार ने पांच नवंबर को गहलोत पर लगे भ्रष्टाचार के बहुचर्चित मामले की जांच न्यायिक अधिकारी से कराने का निर्णल लिया। इसके दो दिन बाद पत्रावली को विधि विभाग में भेजा गया।

विधि विभाग ने भी न्यायिक अधिकारी मुदिता भार्गव को पत्रावली सौंप दी। वह इसकी जांच कर रही हैं, लेकिन एक महीने से ज्यादा समय बीतने के बावजूद स्वायत्त शासन विभाग ने धर्मेन्द्र गहलोत को निलंबित नहीं किया है।

यह है प्रावधान
राजस्थान नगरपालिका अधिनियम 2009 की नियम 39 के उप नियम-1 में स्पष्ट प्रावधान है कि राज्य सरकार ऐसे किसी भी निकाय संस्था के प्रमुख और सदस्य, जिसके विरूद्ध इस धारा के अधीन जांच की कार्रवाई कर दी गई है, जांच की समाप्ति तथा अंतिम आदेश पारित होने तक के लिए निलंबित करेगी।

अजमेर मेयर के मामले में मैं ज्यादा कुछ नहीं बता सकता हॅू। जांच जारी है, रिपोर्ट का इंतजार है।
- शांति धारीवाल नगरीय विकास मंत्री

 

यह भी पढ़ें:

सतीश पूनिया की निर्वाचन से ताजपोशी, निर्विरोध प्रदेश अध्यक्ष बनना तय

भाजपा के संगठन चुनावों के तहत गुरुवार को प्रदेशाध्यक्ष पद के लिए निर्वाचन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। वर्तमान प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया के अलावा किसी ओर ने प्रदेशाध्यक्ष पद पर नामांकन नहीं भरा है। ऐसे में उनका निर्वाचन प्रक्रिया से प्रदेशाध्यक्ष बनना तय हो गया है।

27/12/2019

पुलिस अधिकारियों ने जाने फ्रॉड रोकने के नियम

वर्तमान में अपराधों का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। शातिर अपराधी संगठित होकर बड़े स्तर पर इन अपराधों को अंजाम दे रहे हैं।

22/10/2019

एआईसीसी को देंगे कांग्रेस कमेटी की रिपोर्ट

उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट का कहना है कि नागौर मामले में कांग्रेस की बनाई कमेटी की रिपोर्ट आ चुकी है और इसे प्रभारी महासचिव एवं एआईसीसी को देंगे।

27/02/2020

अब छात्र स्कूलों में नहीं कर सकेंगे मोबाइल का उपयोग, शिक्षा विभाग ने लगाई रोक

प्रदेश के सरकारी स्कूलों में छात्र अब मोबाइल फोन का उपयोग नहीं कर सकेंगे। इसे लेकर शिक्षा विभाग ने निर्देश जारी कर दिए हैं। छात्रों के स्कूल में मोबाइल लाने पर पूर्णत: प्रतिबंध लगा दिया है, इसकी पालना स्कूल प्रशासन करवाया।

10/10/2019

पंचायतीराज के मंत्रालयिक कर्मचारियों के साथ सौतेला व्यवहार

पंचायती राज में कार्यरत मंत्रालयिक कर्मचारियों को प्रदेश सरकार के अन्य विभागों की तर्ज पर पदोन्नति का लाभ नहीं देने पर कर्मचारियों ने सरकार पर सौतेला व्यवहार का आरोप लगाया है।

24/09/2019

जोधपुर: मोबाइल में नशेड़ी छात्रों के नंबर देख करता था गांजा सप्लाई, पुलिस ने बरामद किया 4 किलो से ज्यादा गांजा

शहर की बनाड़ पुलिस ने शनिवार रात को नांदड़ाखुर्द स्थित शंकर नगर में एक रहवासीय मकान पर छापा मारा। यहां पर रहने वाले एक युवक को गिरफ्तार कर तलाशी में चार किलो दो सौ ग्राम गांजा बरामद किया। वह शिक्षण संस्थाओं और सार्वजनिक स्थलों पर गांजा बेचने का काम करता था।

18/01/2020

कोरोना अपडेट: राजस्थान में 1068 पहुंचा संक्रमितों का आंकड़ा, अब तक 13 लोगों की मौत

प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं, वहीं इस जानलेवा वायरस के चलते मौतों का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। राजस्थान में बुधवार को कोरोना के कारण दो और मौतें हो गई है। पहली मौत जयपुर के रामगंज इलाके की एसएमएस में भर्ती कोराना पॉजिटिव 65 साल की महिला की है। वहीं दूसरी मौत कोटा में हुई है।

15/04/2020