Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 11th of May 2021
 
राजस्थान

संजीवनी क्रेडिट सोसायटी मामला, संस्थापक ने अफ्रीका में खरीदी 10 हजार बीघा कृषि भूमि

Friday, September 27, 2019 09:50 AM
फेसबुक पर पोस्ट की गई तस्वीरे।

जयपुर। संजीवनी क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी के संस्थापक और निदेशक विक्रम सिंह ने चंद महीने में ही लोगों को ठग कर एक बड़ा एम्पायर खड़ा कर लिया था। कई देशों में रियल एस्टेट में निवेश करने के बाद विक्रम सिंह ने ईस्टर्न अफ्रीका में 10 हजार बीघा कृषि भूमि भी खरीदी और यहां केले की फसल की। बीती 21 जुलाई 2016 को विक्रम सिंह के पिता छुग सिंह इन्द्रोई ने फेसबुक पर कई फोटो अपलोड किए। इन फोटो में छुग सिंह इंद्रोई खुद इथोपिया में केले के पेड़ों के पास खड़े हैं और मजदूर गाड़ियों में केले भरते दिख रहे हैं। फेसबुक पर डाले गए फोटो के साथ लिखा कि इथोपिया फार्म हाउस गेलोब एग्रो इंडिया पीएलसी कंपनी ने दोस्तों आपके लिए केले भेजे हैं। पहले कच्चे थे अब पक गए हैं। इसके अलावा न्यूजीलैंड में भी बड़ा निवेश किया है। संजीवनी क्रेडिट सोसायटी पर करीब 953 करोड़ रुपए की देनदारी है, जबकि उसके पास कुल 200 करोड़ रुपए की सम्पत्तियां की हैं।

तीन सोसायटीज ने 15 लाख लोगों को ठगा
प्रदेश में करीब 100 से अधिक क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी ऐसी हैं, जो लोगों के पैसे को डकारने में लगी हैं। तीन सोसायटी आदर्श, संजीवनी और नवजीवन ने करीब 15 लाख लोगों से 11 हजार करोड़ रुपयों से ज्यादा की ठगी की है। ये रकम इन तीनों सोसायटी को अभी चुकानी है पर  इनके पास इतनी सम्पत्ति नहीं है कि वह आधी रकम भी चुका सकें। आदर्श क्रेडिट सोसायटी ने करीब 10 लाख लोगों से 10 हजार करोड़ रुपयों से ज्यादा की ठगी की है। संजीवनी क्रेडिट सोसायटी ने तीन लाख लोगों से 1100 करोड़ रुपयों का चूना लगाया। जबकि नवजीवन सोसायटी ने करीब दो लाख लोगों से 400 करोड़ रुपए ठगे हैं। आदर्श क्रेडिट सोसायटी के खिलाफ एसओजी करीब 40 हजार पेज की चार्जशीट पेश कर चुकी है। माना जा रहा है कि संजीवनी सोसायटी की चार्जर्शीट में इतने ही पेज जोड़े जाएंगे।

एसओजी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सतपाल मिढ्ढा ने बताया कि संजीवन क्रेडिट सोसायटी के मामले की जांच की जा रही है। विदेशों में सोसायटी की ओर से निवेश करना सामने आया है। सोसायटी के निदेशक विक्रम सिंह से पूछताछ जारी है।

यह भी पढ़ें:

दिल्ली हिंसा मामले में शाह को लेनी चाहिए जिम्मेदारी : अशोक गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर दिल्ली में कानून व्यवस्था बनाए रखने में विफल रहने का आरोप लगाते हुए कहा है कि उन्हें दिल्ली हिंसा की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।

02/03/2020

मेक इंडिया वाटर समिट-2020 में बोले गहलोत, राजस्थान में सदियों से जल संरक्षण की परम्परा

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि पानी की समस्या से आज पूरा विश्व चिंतित है। राजस्थान में जल संरक्षण की परम्परा सदियों से रही है। मुख्यमंत्री के रूप में मेरे पहले कार्यकाल में हमने पानी बचाओ, बिजली बचाओ, सबको पढ़ाओ का संदेश घर-घर तक पहुंचाया, जिसके सकारात्मक परिणाम सामने आए।

02/03/2020

हॉर्स ट्रेडिंग मामला: ACB ने संजय जैन पर कसा शिंकजा, आवास पर सर्च, ऑफिस किया सील

प्रदेश में चल रही सियासी हलचल के बीच अब भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने बिचौलिए संजय जैन पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है।

09/08/2020

एक जनवरी 2005 से पहले पंजीकृत वाहनों की आरसी की जाएगी निलंबित

परिवहन विभाग 15 वर्ष पुराने वाहनों की आरसी निलंबित करेगा। एक जनवरी 2005 से पहले पंजीकृत वाहनों की आरसी निलंबित की जाएगी। 2003 से 31 दिसंबर 2004 के बीच करीब 8 लाख वाहन पंजीकृत है।

31/01/2020

एसबीआई ने किया कोरोना से बचाव के लिए जागरूक

वैश्विक महामारी कोरोना को रोकने के लिए भारतीय स्टेट बैंक जयपुर मंडल की ओर से अपने ग्राहकों के लिए केन्द्र और राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार आवश्यक कार्यवाही की गई।

22/03/2020

डीजीपी अपने संग लेकर आए पेंडिंग मुकदमों के नंबर, 12 घंटे ली कमिश्नरेट अधिकारियों की क्लास

डीजीपी मोहन लाल लाठर ने रविवार सुबह 9 बजे पुलिस लाइन में आदर्श बैरक का उद्घाटन करने के बाद आरपीए में कमिश्नरेट के एसीपी की मीटिंग ली। उन्होंने एक-एक फाइल का स्टेटस जाना। जिस फाइल को जानबूझकर काफी समय से पेंडिंग रखा गया, उसका नंबर नोट करके अपने साथ लेकर आए। अब इन फाइलों में गड़बड़ियों को खंगाला जाएगा। यदि मिलीभगत या लापरवाही सामने आती है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

22/02/2021

नवीन जैन ने रोडवेज मुख्यालय का किया निरीक्षण

राजस्थान रोडवेज के एमडी नवीन जैन ने रोडवेज मुख्यालय का निरीक्षण किया। उन्होंने सभी कार्यालयों का निरीक्षण किया।

20/02/2020