Dainik Navajyoti Logo
Thursday 29th of October 2020
 
राजस्थान

प्रदेश में तेजी से बढ़ रहा कोरोना संक्रमण, सरकार कर सकती है लॉकडाउन करने का बड़ा फैसला

Saturday, March 21, 2020 09:50 AM
फाइल फोटो।

जयपुर। राजस्थान में पिछले दो दिनों में कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। अगर राजस्थान में कोरोना वायरस के संक्रमण पर काबू नहीं पाया जा सका, तो दूसरे राज्यों की तरह अगले एक-दो दिन में लॉकडाउन किया जा सकता है। झुंझुनूं और भीलवाड़ा जैसे जिलों में तो रोगी मिलने के बाद कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए कर्फ्यू तक लगाना पड़ गया। राजस्थान में मरीजों की बढ़ती संख्या से राज्य सरकार भी काफी चिंतित है। राज्य सरकार ने कुछ ठोस कदम तो उठाए हैं, लेकिन मरीजों की संख्या में कोई कमी नहीं आई। सूत्रों के अनुसार अगर हालात बिगड़ते गए तो राजस्थान सरकार लॉकडाउन करने का बड़ा फैसला भी कर सकती है। महाराष्ट्र और दिल्ली के कई इलाकों में लॉकडाउन किया जा चुका है।

क्या होता है लॉकडाउन
लॉकडाउन एक इमर्जेंसी व्यवस्था होती है। अगर किसी क्षेत्र में लॉकडाउन हो जाता है, तो उस क्षेत्र के लोगों को घरों से निकलने की अनुमति नहीं होती है। जीवन के लिए आवश्यक चीजों के लिए ही बाहर निकलने की अनुमति होती है। अगर किसी को दवा या अनाज की जरूरत है तो बाहर जा सकता है या फिर अस्पताल और बैंक के काम के लिए अनुमति मिल सकती है। छोटे बच्चों और बुजुर्गों की देखभाल के काम से भी बाहर निकलने की अनुमति मिल सती है।

क्यों किया जाता है लॉकडाउन
किसी तरह के खतरे से इंसान और किसी इलाके को बचाने के लिए लॉकडाउन किया जाता है। कोरोना वायरस का संक्रमण एक-दूसरे इंसान में न हो इसके लिए जरूरी है कि लोग घरों से बाहर कम निकले। बाहर निकलने की स्थिति में संक्रमण का खतरा बढ़ जाएगा।

किन देशों में है लॉकडाउन
चीन, डेनमार्क, अल सलवाडोर, फ्रांस, आयरलैंड, इटली, न्यूजीलैंड, पोलैंड और स्पेन में लॉकडाउन जैसी स्थिति है। चूंकि चीन में ही सबसे पहले कोरोना वायरस संक्रमण का मामला सामने आया था, इसलिए सबसे पहले वहां लॉकडाउन किया गया। इटली में मामला गंभीर होने के बाद वहां के प्रधानमंत्री ने पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया है। उसके बाद स्पेन और फ्रांस ने भी कोरोना संक्रमण रोकने के लिए यही कदम उठाया।

यह भी पढ़ें:

प्रदेश में भारी बारिश के बाद कई बांधों के गेट खोले, निचले इलाकों में भरा पानी

प्रदेश में एक बार फिर भारी बरसात एवं कई बांधों के गेट खोलने से कोटा, झालावाड़, धौलपुर सहित कुछ जिलों के निचले क्षेत्रों में पानी भर गया और सेना, एनडीआरएफ एवं एसडीआरएफ सहित कई बचाव दल राहत कार्य में लगे हैं।

15/09/2019

हनुमान बेनीवाल, ज्योति मिर्धा या कोई और, कौन जीतेगा नागौर का 'दंगल' ?

19 मई की शाम को मतदान खत्म होने के बाद जारी किए एग्जिट पोल में एनडीए के सरकार बनने की संभावना है।

20/05/2019

सचिवालय कर्मचारियों की लेटलतीफी का मामला, रुक सकती है वेतन वृद्धि

शासन सचिवालय में देरी से आने वाले अधिकारियों की वेतन वृद्धि रुकने के साथ ही उनकी वार्षिक कार्य मूल्यांकल रिपोर्ट में प्रतिकूल टिप्पणी लिखी जा सकती है।

03/10/2019

रामेश्वर डूडी का नामांकन खारिज, स्टेडियम के बाहर जुटे समर्थक

साथ ही स्टेडियम में चप्पे-चप्पे पर पुलिसकर्मी तैनात हैं। करीब 200 से ज्यादा पुलिसकर्मियों का जाब्ता स्टेडियम में तैनात हैं।

02/10/2019

कांग्रेस के रोजा इफ्तार कार्यक्रम में मौलाना महबूब ने अदा करवाई नमाज

सरदारपुरा स्थित मोटर मर्चेंट एसोसिएशन सभागार में मंगलवार को जोधपुर शहर जिला कांग्रेस के रोजा इफ्तार कार्यक्रम का आयोजन हुआ। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता डॉ.अजय त्रिवेदी ने बताया, कि जिलाध्यक्ष सईद अंसारी की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश कांग्रेस के महासचिव वैभव गहलोत उपस्थित थे।

04/06/2019

इस बार चुनावों में मोदी की सुनामी : रुपाणी

पिछले चुनावों में मोदी लहर थी, लेकिन इस बार मोदी की सुनामी चल रही है। जनता जानती है कि मजबूत, ईमानदार नेतृत्व की सरकार केवल पीएम नरेन्द्र मोदी ही दे सकते हैं।

03/05/2019

नौकर को बंधक बनाकर लूटे 3 लाख रु. और 5 गहने के सेट

शहर में बदमाशों के हौसले इतने बुलंद हैं कि चंद मिनट में ही लाखों रुपए की नकदी और जेवर लेकर फरार हो जाते हैं। ऐसी ही वारदात ब्रह्मपुरी थाना इलाके में सामने आई है।

23/05/2019