Dainik Navajyoti Logo
Saturday 4th of July 2020
 
राजस्थान

मोदी चीन की मंशा नहीं समझ पाए, अब वास्तविक स्थिति बताने से क्यों हिचकिचा रहे हैं: सीएम

Monday, June 29, 2020 11:20 AM
सीएम गहलोत ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए पत्रकारों से की बात।

जयपुर। भारत चीन विवाद मामले पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चीन की मंशा को समझ नहीं पाए। पीएम को एलएसी के हालात देश को बताने चाहिए और पहले देश के लोगों को भरोसे में लेना चाहिए। देश यह जानना चाहता है कि बॉर्डर पर क्या हुआ है। आज देश की सीमाएं सुरक्षित नहीं है। प्रधानमंत्री को देश को जवाब देना चाहिए। चीन मसले पर विपक्षी पार्टियां प्रधानमंत्री और सरकार के साथ बिना शर्त एकजुट हैं। एआईसीसी के निर्देश के बाद गहलोत ने रविवार शाम मीडिया से बातचीत में कहा कि पीएम ने पाक और नेपाल का दौरा किया, पीएम मोदी बार-बार चीन जाते हैं, फिर ऐसा क्या कारण है कि पड़ोसी देशों से तनाव हो गया है। चीन में पीएम मोदी के बयान का स्वागत हो रहा है। पीएम ने अपने शपथ ग्रहण में पड़ोसी देशों के राष्ट्र प्रमुख बुलाए, लेकिन क्या कारण है कि इतने कम समय में संबंध बिगड़ गए। मोदी ने सभी जगह दौरे किए, फिर भी सभी मुल्क हमारे खिलाफ हो गए। गहलोत ने कहा कि चीन मामले को लेकर जनता में आक्रोश है, लेकिन पीएम कुछ भी नहीं बता रहे हैं। सन 1962 में तो हमारे पास अच्छे हथियार नहीं थे, लेकिन अब तो हमारा देश सैन्य रूप से मजबूत है। पीएम वास्तविक स्थिति बताने में क्यों हिचकिचा रहे हैं। आज हमारी इकॉनोमी बुरी हालत में है, क्या सोचकर चीन ने ऐसी हरकत की है, ऐसे में पीएमओ में इसका विश्लेषण होना चाहिए।

मोदी चीन शब्द का प्रयोग क्यों नहीं करते
रक्षा मंत्रालय, पीएमओ और गृह मंत्री के अलग-अलग बयानों पर गहलोत ने कहा कि गृह मंत्री अमित शाह तो प्रदेशों की सरकारें गिराने की उधेड़बुन में लगे रहते हैं, वे राहुल गांधी की बातों का जवाब कैसे दें। इसलिए हो सकता है उनका समन्वय नहीं बैठ रहा हो। पीएम मोदी ने आज तक अपने वक्तव्य में चीन शब्द का प्रयोग नहीं किया और उनके इतने अच्छे संबंध रहे हैं तो मीडिया में ये चौंकाने वाली खबरें क्यों आ रही हैं। इतिहास उठाकर देखें तो इंदिरा गांधी ने कभी चाइना की परवाह नहीं की और कई लड़ाइयों में दुश्मनों के छक्के छुड़ाए।

मोदी को केवल वक्तव्य देने में मास्टरी
आत्मनिर्भर पर मोदी की बातों पर गहलोत ने कहा कि प्रधानमंत्री की खाली वक्तव्य देने में मास्टरी है, जनता कब तक उनके वक्तव्य सुनती रहेगी। हकीकत और है, वक्तव्य और होते हैं। अच्छा वक्ता होना अलग बात है और देश को आप किस प्रकार गवर्न कर रहे हैं, किस प्रकार सीमाओं की रक्षा कर रहे हैं, किस प्रकार इंटरनल सिक्योरिटी को मजबूत कर रहे हैं, किस प्रकार इकॉनोमी को आप मजबूती की तरफ ले जा रहे हैं या कमजोर कर रहे हैं, किस प्रकार आप कोविड का मुकाबला कर रहे हैं यह भी तो जनता देखना चाहती है और देख रही है। मोदी को हालातों को गंभीरता से लेकर विपक्षी पार्टियों को दोष नहीं देना चाहिए। जनता की भावनाओं को प्रकट करना विपक्षी पार्टियों का धर्म है।

सभी भाजपा अध्यक्षों के चीन के साथ अच्छे संबंध रहे
सवाल के जवाब में गहलोत ने कहा कि भाजपा के जितने भी अध्यक्ष बने हैं उनके चीन के साथ अच्छे रिश्ते रहे हैं। खुद मोदी की मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री रहते 18 बार चीन में मुलाकात हुई हैं तो यह समझ के परे है कि अच्छे रिश्ते होने के बावजूद भी अचानक ये क्या हुआ। इसलिए हम बार-बार कहते हैं कि उनको देश को बताना चाहिए। भारत में चीन को इतना बड़ा मार्केट मिला हुआ है, उसके बाद में ये हरकत क्यों की गई है।

पीएम को अपना बयान वापस लेना चाहिए
विपक्षी पार्टियों के साथ मीटिंग के दौरान पीएम ने झूठ बोला और कह दिया कि चाइना हमारी जमीन पर आया ही नहीं है, न हमारी कोई चौकी पर कब्जा है, वो उन्होंने ब्लंडर किया है। पूरे चाइना के अंदर मोदी देश के पहले प्रधानमंत्री हैं, जिनके वक्तव्य का स्वागत हुआ है। वहां की सरकार स्वागत कर रही है। जो चाइना चाहता था उसका सर्टिफिकेट हमारे देश के प्रधानमंत्री ने दे दिया। कांग्रेस मांग करती है कि प्रधानमंत्री को अभी भी स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए, अपने उस बयान को वापस विड्रॉ करना चाहिए।

यह भी पढ़ें:

प्रदेश में लॉकडाउन हटा नहीं, नया चरण शुरू हुआ है: बीएल सोनी

प्रदेश में सोमवार से शुरू हुए लॉकडाउन के तीसरे चरण में 3 तरह के जोनों में कुछ आवश्यक गतिविधियों के लिए छूट दी गई है। इस दौरान लॉकडाउन या कर्फ्यू के नियमों का पालन करना अनिवार्य है।

04/05/2020

नकबजनी और वाहन चुराने वाली गैंग पकड़ी

राजधानी में अलग-अलग थाना इलाके से नकबजनी और वाहन चोरी करने वाली गैंग को चित्रकूट थाना पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार किया है।

25/02/2020

प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण का मामला, नेशनल लेवल सुपरवाइजर 16 जिलों में परखेंगे कामकाज

केन्द्र सरकार के राष्ट्रीय स्तर पर्यवेक्षकों (एनएलएम्स) यानि नेशनल लेवल सुपरवाइजर्स मार्च तक प्रदेश के 16 जिलों में भ्रमण कर प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की मॉनिटरिंग करेंगे। ये पर्यवेक्षक हर जिलें की दस ग्राम पंचायतों में भ्रमण कर रिपोर्ट तैयार करेंगे।

04/02/2020

बालाजी मोड़ के पास भीषण सड़क हादसे में 5 की मौत

राष्ट्रीय राजमार्ग 21 पर बालाजी मोड़ के समीप भीषण सड़क हादसे में पांच लोगों की हो गयी और पांच लोग घायल हो गए।

01/10/2019

पुलिस ने पकड़ा मिलावटखोर

चिकित्सा विभाग की खाद्य सुरक्षा की टीम ने बुधवार को 300 किलो मिल्क केक को नष्ट कराया है। यह मिल्क केक बेचने के लिए ट्रेन से खैरथल से गांधी नगर स्टेशन पर एक यात्री मोहनदास सिंधी लाया था, जिसे पुलिस ने पकड़ा था।

12/12/2019

सतीश पूनिया कर रहे तीन जिलों का दौरा, कार्यकर्ताओं ने किया स्वागत

भाजपा के नवनियुक्त प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया तीन जिलों दौसा, करौली और भरतपुर के दौरे पर है।

18/09/2019

नए अधिकारी कुछ सीखें : महाजन

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले शासन सचिव सिद्धार्थ महाजन ने कहा कि नए अधिकारी घबराए नहीं, बल्कि कुछ सीखें।

22/10/2019