Dainik Navajyoti Logo
Friday 24th of September 2021
 
राजस्थान

CM गहलोत ने दी 95 करोड़ की चिकित्सा सुविधाओं की सौगात, 11 जिलों में ICU, NICU, PICU का किया शिलान्यास

Saturday, July 10, 2021 10:50 AM
सीएम गहलोत ने किया आईसीयू,एनआईसीयू और पीआईसीयू का शिलान्यास।

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार के निरन्तर प्रयासों से राजस्थान स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में पायनियर बनकर उभर रहा है। देश के दूसरे राज्यों के लोग भी हमारी चिकित्सा सुविधाओं का लाभ लेने राजस्थान आ रहे हैं। यह हमारे लिए गर्व की बात है। हमारा प्रयास है कि प्रदेश में चिकित्सा सुविधाएं और भी बेहतर हों, इसके लिए राजधानी से लेकर गांव-ढाणी तक मेडिकल इन्फ्रास्ट्रक्चर को लगातार सुदृढ़ किया जा रहा है। गहलोत ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए प्रदेश के 11 जिलों के 17 चिकित्सालयों में आईसीयू, नवजात गहन चिकित्सा इकाई (एनआईसीयू), शिशु गहन चिकित्सा इकाई (पीआईसीयू) तथा मदर केयर यूनिट के शिलान्यास किया।

गहलोत ने शिलान्यास समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि करीब 94 करोड़ 10 लाख रुपए की लागत से होने वाले इन कार्यों के पूरा होने से 531 बैड की बढ़ोतरी होगी। इसमें आईसीयू के 270, एनआईसीयू के 208, पीआईसीयू के 33 बैड तथा मदर केयर यूनिट के 20 बैड शामिल है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार मेडिकल कॉलेजों से लेकर सीएचसी-पीएचसी स्तर तक चिकित्सा सुविधाओं को मजबूत कर रही है ताकि तीसरी लहर आए तो हमें इस महामारी के मुकाबले में किसी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। आज हुए शिलान्यासों से इन जिलों में चिकित्सा व्यवस्था और मजबूत होगी।

गहलोत ने कहा कि राजस्थान ऐसा प्रदेश है जो सभी जिलों में मेडिकल कॉलेजों की स्थापना की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहा है। देश में अधिकाधिक मेडिकल कॉलेजों की स्थापना के लिए यूपीए सरकार के समय योजना बनी थी। राजस्थान ने इस दिशा में पूरी तैयारी के साथ आवश्यक शर्तों को पूरा किया, जिसके चलते 30 जिलों में सरकारी क्षेत्र में मेडिकल कॉलेजों की स्थापना की ओर हमारे कदम बढ़ सके। शेष तीन जिलों में भी सरकारी मेडिकल कॉलेज स्वीकृत कराने के लिए हम प्रयास कर रहे हैं।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि राज्य में एक हजार मेट्रिक टन ऑक्सीजन उत्पादन की क्षमता हासिल करने की दिशा में हम अग्रसर हैं। उन्हों ने बताया कि मार्च 2020 में प्रदेश में ऑक्सीजन बैड 5,448 थे। इनकी संख्या बढ़ाकर 13 हजार की जा रही है। साथ ही, आईसीयू के 1125 बैड थे, जिनकी संख्या अब 2622 हो जाएगी। इसी तरह एनआईसीयू बैड की संख्या 475 से बढ़ाकर 1554, पीआईसीयू बैड की 164 से 1048 और एसएनसीयू बैड की संख्या 222 से बढ़ाकर 308 की जा रही है। चिकित्सा राज्यमंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने कहा कि पिछले डेढ़ वर्ष में राज्य सरकार ने पूरे समर्पण भाव और मुस्तैदी के साथ कोरोना का प्रबंधन किया है। शासन सचिव चिकित्सा शिक्षा वैभव गालरिया ने बताया कि प्रदेश में प्रतिदिन 1.50 लाख कोविड टेस्ट करने की क्षमता विकसित कर ली गई है। जयपुर के एसएमएस अस्पताल में जीनोम सिक्वेंसिंग की सुविधा प्रारम्भ हो गई है। विभिन्न मेडिकल कॉलेजों और सीएचसी में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने का कार्य 15 अगस्त तक पूरा होना संभावित है।

ये हुए शिलान्यास
जोधपुर-: उम्मेद अस्पताल में 460 लाख से 30 बेड एनआईसीयू, मथुरादास माथुर अस्पताल में 650 लाख से 30 बेड आईसीयू एवं 920 लाख से 60 बेड एनआईसीयू ए महात्मा गांधी अस्पताल में 650 लाख से 30 बेड आईसीयू।
अजमेर-: जवाहर लाल नेहरू अस्पताल में 750 लाख से 50 बेड आईसीयू।
झालावाड़-: एसआरजी अस्पताल में 450 लाख से 20 बेड आईसीयू और जनाना अस्पताल में 307 लाख से 20 बेड एनआईसीयू एवं 250 लाख से 23 बेड पीआईसीयू।
कोटा-: जेके लोन अस्पताल में 579 लाख से 36 बेड एनआईसीयू एवं 250 लाख से 20 बेड मदर केयर यूनिट।
चूरू-: डीबीएच अस्पताल में 456 लाख से 20 बेड आईसीयू और 167 लाख से 10 बेड एनआईसीयू।
बाड़मेर-: जिला अस्पताल में 456 लाख से 20 बेड आईसीयू और 167 लाख से 10 बेड एनआईसीयू।
सीकर-: एसके जिला अस्पताल में 456 लाख से 20 बेड आईसीयू एवं मातृ शिशु अस्पताल में 200 लाख से 12 बेड एनआईसीयू।
भीलवाड़ा-: महात्मा गांधी जिला अस्पताल में 456 लाख से 20 बेड आईसीयू एवं मातृ-शिशु अस्पताल में 167 लाख से 10 बेड एनआईसीयू।
डूंगरपुर-: हरिदेव जोशी अस्पताल में 456 लाख से 20 बेड आईसीयू और 167 लाख से 10 बेड एनआईसीयू
पाली-: राजकीय बांगड़ अस्पताल में 456 लाख से 20 बेड आईसीयू और 167 लाख से 10 बेड एनआईसीयू
भरतपुर-: राजबहादुर मेमोरियल अस्पताल में 456 लाख से 20 बेड आईसीयू और जनाना अस्पताल में 167 लाख से 10 बेड पीआईसीयू।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

कॉलेज भवनों का लोकार्पण और शिलान्यास, गहलोत बोले- हमने उच्च शिक्षा के क्षेत्र में कई महत्वपूर्ण फैसले किए

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को 13 राजकीय कॉलेजों को भवनों के लोकार्पण और शिलान्यास की सौगात दी। गहलोत ने वीसी के जरिए 11 कॉलेजों के नवनिर्मित भवनों का लोकार्पण तथा 2 कॉलजों के भवनों का शिलान्यास किया। इन पर 5745.19 लाख रुपए की लागत आएगी।

14/07/2021

नामचीन कंपनी के नकली पार्ट्स बेचने के गौरखधंधे का खुलासा, चार व्यापारी गिरफ्तार

नामचीन कंपनी के डुप्लीकेट बेरिंग बेचने के मामले का कोतवाली पुलिस ने पर्दाफाश करते हुए आधा दर्जन दुकानों पर छापामार कार्रवाई कर बड़ी मात्रा में नकली बेरिंग बरामद किए।

06/08/2019

विदेशों से आने वाले सिंघानिया यूनिवर्सिटी में होंगे क्वारेंटीन

उदयपुर। खाड़ी देशों से उदयपुर आने वाले प्रवासियों को एयरपोर्ट से घर जाने की इजाजत नहीं दी जाएगी। जिले के प्रवासियों को भटेवर स्थित सिंघानिया यूनिवर्सिटी क्वारेंटीन किया जाएगा। संभाग के अन्य जिलों के प्रवासी अपने जिलों में क्वारेंटीन होंगे।

30/06/2020

सदन में उठा औद्योगिक क्षेत्रों में स्थानीय लोगों को रोजगार नहीं देने का मामला

विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान औद्योगिक क्षेत्रों में स्थानीय लोगों को रोजगार नहीं देने के मामले पर चर्चा हुई। तिजारा विधायक संदीप कुमार ने मामला उठाते हुए कहा कि औद्योगिक इकाइयों को राज्य सरकार की ओर से कई तरह की रियायतें दी जाती है, लेकिन स्थानीय लोगों को यह इकाइयां रोजगार मुहैया नहीं करा रही है।

04/03/2021

विधानसभा में हंगामे के बीच 2 नए कानून पारित, सदन की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

राजस्थान विधानसभा में शुक्रवार को हंगामे के बीच 2 नए कानून पारित हो गए। विधानसभा की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई। हंगामे के दौरान भाजपा के सदस्यों ने वैल में आकर नारेबाजी की। इस दौरान सदन की कार्यवाही एक बार आधा घण्टे के लिए स्थगित भी की गई। सदन में शुक्रवार को राजस्थान नगरपालिका संशोधन विधेयक, 2021 और राजस्थान विधियां संशोधन विधेयक, 2021 पर विचार कर पारित किया गया।

20/03/2021

दस हजार रुपये की रिश्वत लेते पटवारी गिरफ्तार

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने बाड़मेर जिले की सिवाना तहसील में आज एक पटवारी को 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया।

05/11/2019

पार्षदों की खरीद-फरोख्त मामले पर बोले प्रताप सिंह खाचरियावास, वायरल ऑडियो की होनी चाहिए जांच

परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने पार्षदों की खरीद-फरोख्त की कथित ऑडियो रिकॉर्डिंग पर कहा कि भाजपा के नेता झूठ फरेब की राजनीति करते आए हैं। भाजपा ने मेयर चुनाव के लिए कमल के निशान पर क्रॉस लगाते हुए निर्दलीय को उम्मीदवार बनाया है। उन्होंने कहा कि खरीद-फरोख्त के वायरल ऑडियो की जांच होनी चाहिए।

09/11/2020