Dainik Navajyoti Logo
Wednesday 22nd of September 2021
 
राजस्थान

बर्ड फ्लू का कहर: नहीं रुका परिन्दों के मरने का सिलसिला, प्रदेश में अब तक 1833 पक्षियों की मौत

Friday, January 08, 2021 11:00 AM
फाइल फोटो।

जयपुर। राज्य में गुरुवार को बर्ड फ्लू के कम ही मामले सामने आए। पशुपालन विभाग के अनुसार प्रदेश में गुरुवार को 375 परिन्दों की मौत हुई, जिसमें 322 कौवे शामिल हैं। सूत्रों का कहना है कि राज्य के अधिकांश हिस्सों में कौओं, मोर, कबूतरों के मरने का सिलसिला जारी है, लेकिन विभाग प्रकरण को दबाने में जुटा हुआ है। जयपुर में गुरुवार को 64 परिन्दों की मौत हुई, जिसमें 63 कौवे और एक अन्य शामिल हैं। प्रदेश में गुरुवार को सबसे अधिक 70 परिन्दों की मौत श्रीगंगानगर में हुई। राज्य में अब तक 1833 परिन्दों की मौत हुई है, जिसमें से 156 सैम्पल जांच के लिए भेजे गए हैं।

विभाग का दावा
पशुपालन विभाग ने दावा किया है कि राज्य में अभी तक मुर्गियों में बर्ड फ्लू रोग की पुष्टि नहीं हुई है। विभाग के निदेशक डॉ.विरेन्द्र सिंह ने बताया कि कंट्रोल रूम पूरी तैयारी से काम कर रहा है।

कहां कितने परिन्दे मरे
राज्य के दौसा-3, सीकर-10, अजमेर-2, भीलवाड़ा-6, नागौर-12, भरतपुर-1, माधोपुर-3, बीकानेर-5, हनुमानगढ़-2, जोधपुर-27, जैसलमेर-9, पाली-6, कोटा-33, बारां-12, झालावाड़-26, बूंदी-11, डूंगरपुर-2, चूरू-2, श्रीगंगानगर-70, अलवर-2, झुंझुनूं-1, टोंक-4, जालोर-1, सिरोही-2, करौली-7 और चित्तौड़गढ़ में 52 परिन्दों की मौत हुई है।  

चिड़ियाघर के आसपास मिल रहे मृत कौए
जयपुर में मृत पक्षियों का मिलना लगातार जारी है। लगातार पांच दिनों से जयपुर चिड़ियाघर के आसपास अल्बर्ट हॉल संग्रहालय, सावन भादो गार्डन, एमडी रोड, रामनिवास बाग सहित अन्य जगहों से मृत कौए मिल रहे हैं। इसके बावजूद जयपुर चिड़ियाघर का बर्ड सेक्शन विजिटर्स के लिए खुला हुआ है। यहां तक ही शुतुरगमुर्ग का एन्क्लोजर ऊपर से खुला हुआ है, ऐसे में संक्रमित कौए से इंफेक्शन होने का खतरा हो सकता है। हालांकि जू प्रशासन का कहना है कि पक्षियों की सुरक्षा के लिए एन्क्लोजर के बाहर सोडियम हाइपरक्लोराइड का छिड़काव किया जा रहा है। साथ ही बर्ड्स को पानी में मिलाकर एंटी बायोटिक और सप्लीमेंट्स दिए जा रहे हैं। वहीं इससे पहले मुख्य वन्यजीव प्रतिपालक एमएम मीना ने भी राज्यों के चिड़ियाघरों पर विशेष निगरानी के निर्देश दिए हैं।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

नगर परिषद में किसी को बहुमत नहीं

नगर निकाय चुनाव में आज घोषित परिणाम में जैसलमेर नगर परिषद में दोनों दल बहुमत से दूर रह गये। यहां कुल 45 वार्ड में भाजपा ने 20 और कांग्रेस ने 21 वार्डों में जीत हासिल की जबकि चार वार्ड में निर्दलियों ने बाजी मारी है।

19/11/2019

बारिश का कहर, मकान ढहने से महिला की मौत

जिले में लगातार हो रही बारिश ने अब कहर ढाना शुरू कर दिया है।

01/10/2019

सिलोर में बाढ़ का पानी उतरा तो उभरा दर्द

कस्बे में बहने वाली भाद नदी में सवेरे तेज बहाव से काछीपुरा के निचले मोहल्ले सहित राउमावि, सहकारी समिति, ग्राम पंचायत प्रांगण सहित रेगर मोहल्ले में पानी घुस गया था। जिससे प्रभावित करीब चार पचास परिवार के लोग दूसरे दिन सोमवार को बाढ़ का पानी उतरने के बाद भी परेशान दिखे।

29/07/2019

नेहरू ने अब्दुल्ला से दोस्ती निभाने को लगाई थी धारा 370: वसुंधरा राजे

भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पूर्व सीएम वसुन्धरा राजे ने कहा है कि जब हम एकता यात्रा के लिए कश्मीर गए तो हमें कड़ी सुरक्षा में जम्मू ले जाया गया।

28/09/2019

निवेश में आ रही अड़चनों को दूर कर प्रोजेक्ट्स की समयबद्धता सुनिश्चित करें: गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रदेश में निवेश में आ रही अड़चनों को दूर कर नए प्रोजेक्ट्स समयबद्ध तरीके से शुरू हों, यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि पिछले दो साल में राज्य सरकार ने प्रदेश में निवेश बढ़ाने के लिए कई महत्वपूर्ण नीतियां एवं कार्यक्रम लागू किए हैं।

19/04/2021

माण्डलगढ़ एमएलए खण्डेलवाल पर अवैध खनन का आरोप

माण्डलगढ़ एमएलए खण्डेलवाल पर अवैध खनन का आरोप, शिकायतकर्ता पर सरेराह नकाबपोश युवकों ने किया हमला, एक और मामला पहुंचा थाने, पुलिस ने शुरू की जांच

04/06/2019

प्रदेश में लैण्ड यूज चैंज के रूल्स में बदलाव, देना होगा 500 रुपए आवेदन पत्र और प्रशासनिक शुल्क

प्रदेश के शहरी क्षेत्रों में लैण्ड यूज चैंज के लिए अब 500 रुपए का आवेदन पत्र और प्रशासनिक शुल्क भी देना होगा। लैण्ड यूज चैंज की राशि 10 रुपए प्रति वर्गमीटर व न्यूनतम 5 हजार रुपए और अधिकतम 5 लाख रुपए होगी। यह राशि नॉन रिफंडेबल होगी। साथ ही निकायों को हर प्रकरण भू उपयोग परिवर्तन के लिए राज्य सरकार में भेजने की जरूरत नहीं होगी।

25/02/2021