Dainik Navajyoti Logo
Friday 14th of May 2021
 
राजस्थान

गलत काम के लिए ना कहना सीखें पुलिसकर्मी : सिंह

Tuesday, January 07, 2020 10:25 AM
सिंह ने कहा कि थाने में तैनात पुलिसकर्मियों के खिलाफ जो भी शिकायत आती है, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

जयपुर। प्रदेश और सरकार का चेहरा पुलिस होती है। प्रदेश पुलिस बेड़े में कई ऐसे पुलिसकर्मी हैं, जो पहले सिफारिश से पोस्टिंग लेते हैं फिर आमजन के साथ गलत व्यवहार कर पुलिस और सरकार की छवि खराब करते हैं। ऐसे ही कई मामले महानिदेशक पुलिस भूपेन्द्र सिंह के सामने आए हैं। इस मुद्दे पर बातचीत में डीजीपी सिंह ने कहा कि थाने में तैनात पुलिसकर्मियों के खिलाफ जो भी शिकायत आती है, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

थाना पुलिस को यदि कोई बड़ा अधिकारी गलत काम करने को कहता है तो उस अधिकारी को ना कहना सीखें। अगर पुलिस अधिकारी गलत करते है तो मैं खुद एक्शन लूंगा। पिछले वर्ष 2019 में शिकायत के आधार पर दो हजार पुलिसकर्मियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई के साथ 57 पुलिसकर्मियों को विभाग से बाहर किया गया है। जो पुलिसकर्मी अच्छा काम कर रहे हैं, उनको प्रोत्साहित भी किया गया है। पिछले वर्ष विशेष कार्य करने पर 271 पुलिस कर्मियों को नकद इनाम दिया गया, जबकि  70 पुलिसकर्मियों को विशेष पदोन्नति व 35 पुलिसकर्मियों को डीजीपी डिस्क से नवाजा गया है। इस संबंध में डीजीपी ने प्रेसवार्ता के बाद नवज्योति से बातचीत की।

एक साल में कार्य और आगामी प्राथमिकताएं
डीजीपी सिंह ने कहा कि वर्ष 2019 में लगभग सभी गंभीर अपराधों में आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं। वर्ष 2020 में संगठित अपराधों, महिलाओं, बच्चों व कमजोर वर्गों के विरुद्ध अपराधों और सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। पुलिस कर्मियों को अच्छे आचरण पेश कर युवाओं का रोल मॉडल बनने के लिए प्रेरित किया जा रहा है, जिससे अपराधों पर अंकुश लगे। आमजन के लिए शुरू की फ्री एफआईआर रजिस्ट्रेशन व्यवस्था के सार्थक परिणाम निकले हैं। सभी जिलों में व्हाट्सएप नंबर जारी कर परिवाद दर्ज किए जा रहे हैं। संगठित माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई के लिए डिस्ट्रिक्ट स्पेशल टीम (डीएसटी) का गठन किया गया है। वाहनों की खरीद के लिए 70 करोड़ रुपए की राशि स्वीकृत करने के साथ पुलिस में विभिन्न वर्गों में 963 नए पदों का सृजन किया गया है।

सवा लाख हाथ पुलिस के साथ
डीजीपी ने बताया कि पुलिसिंग कार्यों में सामुदायिक सहभागिता बढ़ाने के लिए पुलिस मित्र योजना के तहत 12 हजार से अधिक पुलिस मित्र बन चुके हैं। जबकि आवेदन 28 हजार आए थे। स्टूडेंट पुलिस कैडेट योजना में एक हजार राजकीय विद्यालयों में 22 हजार से अधिक छात्र पुलिस से प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। पुलिस ने 8 लाख से अधिक नागरिकों से सम्पर्क किया है। आत्म-सुरक्षा का प्रशिक्षण देने के लिए पुलिस ने 4.5 लाख महिलाओं को प्रशिक्षण दिया है। अब तक 98 हजार सीएलजी सदस्य बनाए गए हैं।

कानून व्यवस्था बेहतर
डीजीपी (कानून व्यवस्था) एमएल लाठर ने बताया कि वर्ष 2019 में छिटपुट घटनाओं को छोड़कर प्रदेश में कानून व्यवस्था बेहतर रही है। शांतिपूर्ण चुनाव सम्पन्न कराए गए। वर्ष 2019 में पासपोर्ट सत्यापन के 2 लाख 97 हजार 639, आर्म्स लाइसेंस के 675 और सेवा संबंधी 16 हजार 883 मामलों का निर्धारित सेवा अवधि में सत्यापन किया गया।

53 हजार अधिक परिवादियों के दर्ज हुए प्रकरण
एडीजी (क्राइम) बीएल सोनी ने बताया कि 2019 में गत वर्ष की तुलना में 53 हजार अधिक परिवादियों के प्रकरण दर्ज कर उनका समाधान किया गया। जघन्य अपराधों में चालानी प्रतिशत 96 से अधिक रहा है। सम्पत्ति संबंधी अपराधों में 70 प्रतिशत प्रकरणों में सफलता मिली। 46 प्रतिशत मामलों में बरामदगी की गई। सीमित संसाधनों के बावजूद पुलिस कर्मियों ने 2019 में 28 प्रतिशत अधिक 2 लाख 7 हजार 319 प्रकरणों का निस्तारण किया। पुराने प्रकरणों में विशेष अभियान चलाकर लगभग दो हजार केस निपटाए गए। महिला अत्याचारों में चालानी प्रतिशत 99.48 रहा है, जबकि एक  लाख 80 हजार 339 अपराधियों को गिरफ्तार किया गया। इसी प्रकार धोखाधड़ी प्रकरणों में 3 हजार 682 अपराधी और आईटी एक्ट के तहत 343 आरोपियों को गिफ्तार किया गया। आर्म्स एक्ट में कुल 7 हजार 74 प्रकरण दर्ज कर 7 हजार 595 अपराधी गिरफ्तार किए गए।

 

यह भी पढ़ें:

कोरोना महामारी से दो भाइयों सहित 7 की मौत

उदयपुर जिले में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है, वहीं मंगलवार को कोरोना से दो भाइयों सहित सात की मृत्यु हो गई। वहीं बांसवाड़ा जिले के एक कोविड संदिग्ध की भी उपचार के दौरान मौत हो गई।

20/04/2021

बेलगाम अपराधों के खिलाफ प्रदेशभर में भाजपा का 'हल्ला बोल' कल, जयपुर में निकाला जाएगा पैदल मार्च

प्रदेश की बिगड़ी हुई कानून व्यवस्था, महिलाओं, बच्चियों के साथ छेड़छाड़, दुष्कर्म, गैंग रेप की वारदातें, दलितों पर हो रहे अत्याचारों के खिलाफ कांग्रेस की गहलोत सरकार एवं प्रशासन को जगाने के लिए भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया के आह्वान पर प्रदेश के सभी जिलों में भाजपा प्रदर्शन करेगी।

04/10/2020

गहलोत ने यूपी सरकार पर साधा निशाना, कहा- विपक्ष के नाते बीजेपी नेता राजस्थान आएं, हम पूरी सुरक्षा देंगे

हाथरस घटना की जानकारी लेने जाने से राहुल गांधी को रोकने और उनके साथ दुर्व्यवहार करने को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने यूपी सरकार पर निशाना साधा है। गहलोत ने कहा कि यदि कोई तथ्य छुपाने की बात नहीं हो तो राष्ट्रीय स्तर का मुख्य विपक्षी दल के नेता को रोकने की जरूरत कहां से आ जाती है।

02/10/2020

रेवेन्यू बोर्ड में भ्रष्टाचार का मामला: घूसखोर RAS सुनील शर्मा, बीएल मेहरड़ा और बिचौलिया शशिकांत गिरफ्तार

एसीबी की गिरफ्त में आए अजमेर रेवेन्यू बोर्ड के दो सदस्य आरएएस बीएल मेहरड़ा और सुनील कुमार शर्मा हर मुकदमे का घूस के रूप में 10 से 20 प्रतिशत हिस्सा लेते थे। यह रकम दोनों के लिए बिचौलिया शशिकांत उगाता था। शशिकांत का बोर्ड में इतना दखल था कि वह हर फैसला पहले ही लिख देता था और उस फैसले की फोटो खींचकर परिवादी को भेज देता था।

12/04/2021

दुष्कर्म का झूठा मामला दर्ज करवाकर ब्लैकमेल कर मांगे 30 लाख रुपए, महिला और साथी गिरफ्तार

सहमति से संबंध बनाकर दुष्कर्म का झूठा मुकदमा दर्ज करवाकर ब्लैकमेल करने वाले शातिर गिरोह की महिला और उसके साथी को चौमूं पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

09/08/2019

3 प्रतिशत ब्याज पर ऋण ले सकेंगे किसान : गहलोत

कोविड-19 महामारी के इस दौर में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत किसानों को राहत देने के लिए लगातार महत्वपूर्ण फैसले ले रहे हैं।

16/05/2020

पायलट को पदों से हटाने के बाद गुर्जर बाहुल्य इलाकों में अलर्ट, अतिरिक्त पुलिस फोर्स तैनात

प्रदेश में मौजूदा सियासी घटनाक्रम में कांग्रेस ने सचिन पायलट को पीसीसी चीफ और डिप्टी सीएम के पदों से हटा दिया है। इसके बाद प्रदेश के गुर्जर बाहुल्य इलाकों में कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए हाई अलर्ट जारी किया गया है। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर सौरभ श्रीवास्तव ने गुर्जर बाहुल्य इलाकों में अतिरिक्त पुलिस फोर्स तैनात करने के जिला एसपी को आदेश जारी किए है।

14/07/2020