Dainik Navajyoti Logo
Saturday 31st of July 2021
 
राजस्थान

विभाजन के समय पाकिस्तान में 23% हिन्दू-अल्पसंख्यक थे, अब 1.5% रह गए: सतीश पूनिया

Saturday, December 21, 2019 22:55 PM
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया (फाइल फोटो)

जयपुर। राजस्थान भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ कांग्रेस के प्रदर्शन और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बयान की आलोचना करते हुए कहा कि गहलोत जनता को भ्रमित करके मोदी सरकार के खिलाफ भड़काकर संवैधानिक मर्यादाओं का उल्लंघन कर रहे हैं।

पूनिया ने रविवार को जारी बयान में कहा कि संविधान की शपथ लेकर सरकार चला रहे गहलोत संसद द्वारा पारित कानून को सड़क पर उतर कर चुनौती दे रहे हैं, यह डॉ. अंबेडकर के बनाये भारत के संविधान का अपमान है। प्रधानमंत्री और गृहमंत्री बार-बार कह चुके हैं कि यह कानून नागरिकता देने का है किसी की भी नागरिकता लेने का नहीं। उन्होंने कहा कि वर्ष 2003 में राज्यसभा में तत्कालीन विपक्ष के नेता की हैसियत से डॉ. मनमोहन सिंह तब की सरकार से इन विस्थापितों को प्राथमिकता के आधार पर नागरिकता देने की वकालत कर चुके हैं। खुद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत यूपीए सरकार के गृहमंत्री पी. चिदम्बरम को राजस्थान में रह रहे हिंदू-सिख शरणार्थियों को नागरिकता देने का पत्र लिख चुके हैं, लेकिन अब वोट बैंक के तुष्टिकरण और गांधी परिवार को खुश करने के लिए सीएए का विरोध कर रहे हैं।

पूनिया ने कहा कि यह राजस्थान की जनता का दुर्भाग्य है की उनका चुना हुआ मुख्यमंत्री देश की भावनाओं के खिलाफ बात कर रहा है। धर्म के आधार पर देश के दुर्भाग्यपूर्ण बंटवारे से उपजी एक गम्भीर समस्या जिसकी वजह से पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बंगलादेश में लाखों अल्पसंख्यक लोगों की हत्या हुई, जबरन धर्मान्तरण किया गया और उनकी बहन-बेटियों की अस्मत लुटी गई। इस्लामिक देश पाकिस्तान में विभाजन के समय हिन्दुओं और बाकी अल्पसंख्यकों की आबादी 23 प्रतिशत थी जो अब डेढ़ प्रतिशत रह गई है, यही हाल बाकी दोनों देशों का है।

उन्होंने कहा कि इनके जान-माल की रक्षा का वादा तब की सरकार के कांग्रेस के नेताओं ने किया था, पर सत्ता का सुख भोगते इन लोगों ने उन मरते लोगों की सुध कभी नहीं ली। अब जब सरकार उन्हें नागरिकता देकर इस देश की मूल परम्परा का पालन कर रही है तो इन कांग्रेस के नेताओं के पेट मे दर्द हो रहा है।

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

विधानसभा के सुरक्षा दल में मची खलबली, शरीर पर पोस्टर लगाकर पहुंची विधायक संतोष बावरी

अनूपगढ़ विधायक संतोष बावरी सोमवार को किसानों के लिए पानी की मांग को लेकर शरीर पर एक बड़ा पोस्टर लगाकर विधानसभा के अंदर पहुंच गई। पोस्टर के साथ विधायक को देखते ही सुरक्षा दल की नींद उड़ गई। सक्रिय महिला व पुरुष सुरक्षा कर्मियों ने विधायक को घेरकर रोका और नियमों का हवाला देकर समझाइश की।

08/03/2021

बीकानेर-जयपुर नेशनल हाईवे पर भीषण सड़क हादसा, कार-मिनी ट्रक की भिड़ंत में 3 लोगों की मौत

बीकानेर-जयपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर नापासर थानांतर्गत रविवार को एक कार और मिनी ट्रक के बीच भिड़ंत में तीन व्यक्तियों की मौत हो गई। नापासर थानाधिकारी जगदीश प्रसाद ने बताया कि कार की स्पीड तेज थी और ढलान पर अचानक अनियंत्रित होकर मिनी ट्रक से टकरा गई।

20/12/2020

तीन तलाक बोलकर पत्नी को छोड़ा, मामला दर्ज

देश में तीन तलाक पर कानून बनने के बाद जयपुर के भांकरोटा थाना इलाके में पहली बार तीन तलाक बोलकर पत्नी को छोड़ने का मामला सामने आया है।

17/09/2019

केंद्र सरकार ने दी मेडिकल कॉलेज की स्वीकृति

केंद्र सरकार ने चित्तौड़गढ़ में मेडिकल कॉलेज की स्वीकृति प्रदान की है। इसके लिए पूर्व विधायक सुरेंद्र सिंह जाड़ावत ने सीएम अशोक गहलोत का आभार व्यक्ति किया है।

27/09/2019

दो RAS अधिकारियों का निर्वाचन विभाग में किया तबादला

दो आरएएस अधिकारियों के तबादले किए गए है। दोनों अधिकारियों को निर्वाचन विभाग में तबादला हुआ है।

23/07/2019

जालोर: शादी समारोह के बाद बंदूक से नारियल फोड़ने की परंपरा पड़ी महंगी

समीपवर्ती गांव सिबली फली भूला में सोमवार शाम को एक शादी समारोह के पश्चात अचानक एक युवक द्वारा बंदूक से किए फायर से सिबलीफली भूला निवासी एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया था। युवक के परिजन उसे रोहिड़ा के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लेकर गये थे।

02/07/2019

1139 करोड़ की लागत से 2200 किमी सड़कों की मरम्मत होगी: सचिन पायलट

उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा है कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तीसरे चरण (बैच प्रथम) के तहत एक हजार 139 करोड़ रुपए की लागत से प्रदेश में लगभग 2200 किलोमीटर सड़कों की मरम्मत की जाएगी।

22/02/2020