Dainik Navajyoti Logo
Sunday 20th of June 2021
 
राजस्थान

4 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के अभियुक्त को आजीवन कारावास, 10 दिन में सुनाया फैसला

Tuesday, December 17, 2019 18:50 PM
कॉन्सेप्ट फोटो।

जयपुर। चूरू जिले की पॉक्सो न्यायालय के जिला जज राजेन्द्र कुमार सैनी ने चार साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के आरोपी को आजीवन कारावास और पचास हजार रुपए के अर्थ दंड से दंडित किया है। अदालत ने इस मामले का निस्तारण मात्र दस दिन में किया है। चूरू जिले के इतिहास में इस तरह का फैसला पहली बार हुआ है।

अदालत ने जिस अभियुक्त को सजा सुनाई है उसका नाम दयाराम मेघवाल है और वह भानीपुरा थाना इलाके के बुकलसर बड़ा सरदारशहर का रहने वाला है। उस पर आरोप था कि अपने पड़ोस में रहने वाली चार साल की बच्ची को कुरकुरे दिलाने के बहाने झाड़ियों में ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। यह घटना तीस नवंबर की शाम छह बजे की है। बच्ची जब अचानक लापता हुई तो उसके दादा-दादी तथा ताऊ उसे ढूंढ के हुए मौके पर पहुंचे जिनको देखकर अभियुक्त दयाराम अपने उतरे हुए कपड़ों को लेकर भाग गया।

अभियुक्त के इस कृत्य से बच्ची की हालात अत्यंत खराब हो गई। इस पर उसके परिजनों ने अभियुक्त के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने उसे भारतीय दंड संहिता की धारा 363, 366 और 376 तथा पॉक्सों एक्ट की धारा 5/6 के तहत गिरफ्तार किया था। पुलिस ने इस मामले की जांच कर मात्र आठ दिन में न्यायालय में आरोप पत्र पेश किया। मामले की गम्भीरता को देखते हुए पॉक्सो कोर्ट के जिला जज राजेन्द्र कुमार सैनी ने मामले की सुनवाई दिन-प्रतिदिन की और अभियोजन के समक्ष पंद्रह गवाहों को दस दिसंबर से तेरह दिसंबर तक पेश करने के आदेश दिए। सभी गवाहों के बयानों के बाद मात्र दस दिन अपना फैसला सुनाया। अदालत ने अभियुक्त को बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के लिए आजीवन कारावास तथा पचास हजार अर्थ दण्ड़ से दण्ड़ित किया। इसके साथ ही बच्ची को बहला-फुसला कर ले जाने के आरोप में सात वर्ष का कठोर कारावास और बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के आशय से ले जाने के आरोप में दस वर्ष का कठोर कारावास और जुर्माने से दतण्ड़ित किया है।

न्यायालय ने अपने फैसले में पुलिस द्वारा किए गए अनुसंधान में कुछ खामियां अवश्य पाई गई थी, लेकिन सर्वोच्च न्यायालय के सिद्धांतों को दृष्टिगत रखते हुए उन खामियों के बावजूद अभियोजन की ओर से पेश किए गवाहों के द्वारा दी गई साक्ष्य को विश्ववसनीय माना। न्यायालय ने अपने फैसले में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण को भी निर्देश दिए है कि वह पीड़ित बच्ची को जल्द से जल्द क्षतिपूर्ति भी दिलवाएं। इस मामले के त्वरित निस्तारण में अभियोजन की ओर से सरकारी अभिवक्ता वरूण सैनी और अभियुक्त की ओर से एडवोकेट अर्जुन सिंह राठौड़ ने पैरवी की।    

परफेक्ट जीवनसंगी की तलाश? राजस्थानी मैट्रिमोनी पर निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

यह भी पढ़ें:

सेलिब्रिटी सिंगर बी प्राक म्यूजिकल कॉन्सर्ट में बिखरेंगे अपनी आवाज का जादू

शिप्रापथ थाना ग्राउंड मानसरोवर मे एक म्यूजिकल चैरिटी कॉन्सर्ट का आयोजन होगा, जिसमें मशहूर सिंगर बी प्राक अपनी सिंगिंग परफॉरमेंस से अपना जादू बिखरेंगे।

13/01/2020

मुख्यमंत्री गहलोत ने किया स्पोर्टस एकेडमी का शुभारंभ और महिला हॉस्टल का शिलान्यास

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा, राज्य में खेल प्रतिभाओं को तराशने की जरूरत हैं। इसके लिए एक दिन पहले जयपुर में एशियाड की तर्ज पर 70 साल में पहली बार राज्य खेलों का शुभारंभ किया है।

03/01/2020

वाहन चोरों को किया गिरफ्तार

मुरलीपुरा थाना पुलिस ने ट्रक चालक व खलासी को नशीला खाद्य पदार्थ खिलाकर ट्रक चोरी करने वाले 2 शातिर वाहन चोरों को गिरफ्तार किया है।

16/02/2021

मुख्यमंत्री गहलोत ने ली ऊर्जा विभाग की समीक्षा बैठक

सीएम अशोक गहलोत ने सचिवालय में ऊर्जा विभाग के अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली, जिसमें अधिकारियों ने गहलोत को विभाग के कार्यों से अवगत कराया।

26/09/2019

ग्रामीण क्षेत्र के विकास कार्यों को गति देने के लिए तैयार होगा रोडमैप: पायलट

उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने सभी जिला परिषदों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को कोरोना महामारी के कारण जारी लॉकडाउन से विभागीय योजनाओं की क्रियान्विति में तेजी लाने के लिए सोमवार तक रोडमैप तैयार करने के निर्देश दिए हैं, जिससे 20 अप्रैल के बाद संशोधित लॉकडाउन के दौरान कार्यों को पूर्ण गति दी जा सके।

17/04/2020

कांग्रेस प्रत्याशी कृष्णा पूनिया को मिला वकीलों का समर्थन

ग्रामीण लोकसभा कांग्रेस प्रत्याशी श्रीमती कृष्णा पूनिया को वकीलों ने समर्थन दिया है। पूनिया ने शुक्रवार को राजस्थान उच्च न्यायालय और सिविल न्यायालय में जनसंपर्क किया।

06/04/2019

राज्य के कई हिस्सों में वायु प्रदूषण के बवंडर, सभी जगह मानक से अधिक रहा AQI

प्रदेश के कई हिस्सों में वायु प्रदूषण के बवंडर चलने से लोग दहशत में आ गए हैं। उत्तर से आ रही दूषित हवाओं ने प्रदेश के वायु प्रदूषण को बेहद खतरनाक मोड़ पर पहुंचा दिया है।

15/11/2019