Dainik Navajyoti Logo
Tuesday 21st of January 2020
 
राजस्थान

आसपास की कृषि उपज को ही आहार बनाएं: जड़धारी

Friday, December 06, 2019 21:50 PM
परंपरागत बीज लुप्त होने और रासायनिक खेती के दुष्परिणाम से ही बीमारियां बढ़ी हैं।

उदयपुर। बीज बचाओ आंदोलन के प्रणेता विजय जड़धारी का कहना है कि लोग जहां रहते हैं, उन्हें अपने आस-पास उपजने वाली वस्तुएं ही खानी चाहिए। परंपरागत बीज लुप्त होने और रासायनिक खेती के दुष्परिणाम से ही बीमारियां बढ़ी हैं। अगर व्यक्ति प्रकृति के व्यवहार को समझेगा तो बीमार नहीं पड़ेगा। जैविक खेती के प्रसार के सिलसिले में उदयपुर आए जड़धारी ने शुक्रवार को यह बात दैनिक नवज्योति से बातचीत में कही।

उन्होंने कहा कि आज कुपोषण में भारत का स्थान चीन, बांग्लादेश और पाकिस्तान से भी नीचे है। ज्यादा उत्पादन की आस में लोग जैविक खेती भूल गए हैं और उपज के साथ कीटनाशक खा रहे हैं जो उन्हें बीमार बना रहे हैं। प्रकृति, कृषि एवं किसान को बचाने की जिद लेकर चले जड़धारी का मिश्रित खेती पर जोर है। उन्होंने कई परम्परागत देसी बीजों का संरक्षण कर रखा है। बरसों पुराने देसी बीजों को जगह-जगह से संग्रहित कर उनकी खेती करवाने में लगे हैं। आज राजमा की उनके पास 220 किस्में हैं,जौ की 4, धान की 350 लुप्त हो चुकी किस्में हैं। जड़धारी के कार्यकर्ताओं ने सुदूर गांवों से परंपरागत बीजों का संग्रह किया और किसानों में इन बीजों का वितरण किया।

बीजों के संग्रहण एवं उनके संरक्षण के लिए काम करने के कारण ही उन्हें इंदिरा गांधी पर्यावरण पुरस्कार से नवाजा जा चुका है। जड़धारी इससे पहले चिपको आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभा चुके हैं। वह कहते हैं कि खाने वाला अनाज खाओ पर बीज सुरक्षित रखो। बीज बचाओ आंदोलन का उद्देश्य सिर्फ बीज बचाना नहीं है बल्कि जैव विविधता, खेती और पशुपालन आधारित जीवन पद्धति और संस्कृति को बचाना है।

क्या है यह आन्दोलन
बीज बचाओ आंदोलन का उदय परम्परागत बीजों की विलुप्त होती प्रजातियों के संरक्षण तथा व्यावसायिक हितों के लिए कुछ ही प्रकार के बीजों-पौधों को बोने के विरोध में हुआ। इस अभियान का आरंभ 1990 के दशक में गांधीवादी कार्यकर्ताओं में विजय जड़धारी ने टिहरी गढ़वाल क्षेत्र में किया।

यह भी पढ़ें:

जयपुर शहर लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी रामचरण बोहरा भारी मतों से विजयी

जयपुर शहर लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी रामचरण बोहरा और कांग्रेस प्रत्याशी ज्योति खंडेलवाल मैदान में थे। रामचरण बोहरा ने भारी मतों से जीत दर्ज की है।

23/05/2019

बिजली चोरी पर डिस्काॅम प्रबंधन सख्त, पकड़ी एक करोड़ से अधिक की बिजली चोरी

विद्युत चोरी पर प्रभावी अंकुश लगाने एवं विद्युत छीजत को कम करने के लिए जयपुर डिस्काॅम की सतर्कता शाखा की ओर से राष्ट्रीय राजमार्गो पर स्थापित प्रतिष्ठानों, होटल, ढाबों, रेस्टोरेन्टों के साथ मोबाईल टावरों, क्रेशर, आरओ प्लान्ट्स की सघन सतर्कता जांच का विशेष अभियान चलाया जा रहा है।

23/10/2019

चुनाव आयोग को पार्टी नहीं बनना चाहिए: पायलट

पंचायतों के पुनर्गठन को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने बयान पर असहमति जताई है। पायलट ने कहा है कि पुनर्गठन को लेकर प्रदेश सरकार के खिलाफ दिया गया बयान गलत है।

30/12/2019

मास्टरजी पत्नी के साथ हेलिकॉप्टर में विद्यालय से पहुंचे घर, देखने उमड़े ग्रामीण

सौराई विद्यालय में गत 4 वर्ष से कार्यरत मीणा को महीनों पूर्व उनकी पत्नी ने कहा कि हेलिकॉप्टर कैसे उड़ता है, उसमें बैठने की इच्छा प्रकट की

31/08/2019

ठंड से युवक की मौत

सर्दी के प्रकोप से जनजीवन प्रभावित हो रहा है। मानपुर थाना इलाके में कुंडेरा की डोला री ढाणी निवासी राजेश कुमार सैनी की खेत में मौत हो गई।

19/01/2020

एक ऐसी गौशाला, जहां गाय और नंदी के भी हैं 'आधार कार्ड'

राजस्थान के सिरोही जिले में स्थित पावापुरी गौशाला में गाय एवं नंदी के भी आधारकार्ड बनाये गये है। पावापुरी की यह अछ्वुत गौशाला है

17/05/2019

गुर्जर आंदोलन के दौरान दर्ज मुकदमे वापस होंगे, कालीबाई योजना से अलग होगी देवनारायण योजना

गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के पदाधिकारियों की शासन सचिवालय में मुख्य सचिव डीबी गुप्ता और अन्य अधिकारियों के साथ बैठक हुई।

18/01/2020